loader

‘मिर्जापुर 2’ में अपराध दिखाया तो क्यों हो रहा है विवाद?

वेब सीरीज ‘मिर्जापुर 2’ की लोगों के बीच जितनी जोरदार चर्चा थी, उतनी ही जल्दी इसके साथ विवाद भी जुड़ते दिखाई दे रहे हैं। पूर्व केंद्रीय मंत्री अनुप्रिया पटेल ने इस वेब सीरीज का विरोध किया था। अनुप्रिया ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से इससे जुड़े लोगों के ख़िलाफ़ कार्रवाई करने की अपील की थी। 

अनुप्रिया ने कहा था कि मिर्ज़ापुर समरसता का केंद्र है लेकिन इस वेब सीरीज के ज़रिए इसे हिंसक इलाक़ा बताकर बदनाम किया जा रहा है। उन्होंने कहा था कि इस सीरीज़ के माध्यम से जातीय वैमनस्य भी फैलाया जा रहा है।

उनके इस आरोप के बाद इस वेब सीरीज में अखंडानंद त्रिपाठी उर्फ कालीन भैया का रोल निभाने वाले पंकज त्रिपाठी ने उन्हें जवाब दिया है। 

ताज़ा ख़बरें

पंकज ने डीएनए को दिए इंटरव्यू में कहा, ‘वेब सीरीज के हर एपिसोड से पहले डिस्क्लेमर चलाया गया है, जिसमें साफ लिखा है कि यह एक काल्पनिक कहानी है और इसका किसी व्यक्ति या जगह से कोई संबंध नहीं है।’ त्रिपाठी ने कहा कि मिर्जापुर वेब सीरीज में अगर अपराधी हैं तो वहां रमाकांत पंडित जैसे हीरो भी हैं, जो शहर के लिए अच्छा काम करना चाहते हैं। 

इसके अलावा हिंदी के लेखक सुरेंद्र मोहन पाठक ने दावा किया है कि इस वेब सीरीज में उनकी किताब ‘धब्बा’ को ग़लत ढंग से दिखाया गया है। पाठक ने अमेज़न प्राइम को क़ानूनी कार्रवाई की चेतावनी दी है। 

पाठक ने कहा है कि एक सीन में जहां अभिनेता कुल भूषण खरबंदा ‘धब्बा’ को पढ़ता है लेकिन उन्हें जो पढ़ते हुए दिखाया जा रहा है, वह इस किताब का ओरिजनल कंटेंट नहीं है। उन्होंने कहा कि जो पढ़ा जा रहा है, वह सरासर अश्लील है और वह ऐसा लिखने के बारे में सोच भी नहीं सकते हैं। 

मिर्जापुर वेब सीरीज का पहला सीज़न साल 2018 में आया था और इसके दूसरे सीज़न का लोगों को बेसब्री से इंतजार था। पहले सीज़न में भी गोली, गाली और ख़ून-ख़राबा था और दूसरे सीज़न में भी वही है। लेकिन इस बार मिर्ज़ापुर की गद्दी हथियाने की कहानी को भी दिखाया गया है।

गुरमीत सिंह और मिहिर देसाई ने वेब सीरीज़ 'मिर्जापुर 2' का मिलकर निर्देशन किया है। इसमें लीड रोल में पंकज त्रिपाठी, दिव्येंदु शर्मा, अली फज़ल और श्वेता त्रिपाठी हैं।

सिनेमा से और ख़बरें

'मिर्ज़ापुर 2' की कहानी

गुड्डू पंडित (अली फज़ल) और गोलू (श्वेता त्रिपाठी) अखंडानंद त्रिपाठी उर्फ कालीन भैया (पंकज त्रिपाठी) और मुन्ना त्रिपाठी (दिव्येंदु शर्मा) से अपने भाई बबलू और बहन स्वीटी की मौत का बदला लेना चाहते हैं और साथ ही मिर्ज़ापुर की गद्दी भी छीनना चाहते हैं। 

गुड्डू और गोलू सीवान में भरत त्यागी (विजय वर्मा) के साथ अफीम का धंधा करने लगते हैं। दूसरी तरफ रतिशंकर शुक्ला का बेटा शरद शुक्ला (अंजुम शर्मा) भी अपने पिता की मौत का बदला लेने की ताक में लगा हुआ है और इसके लिए वह शरद त्रिपाठी से हाथ मिला लेता है।

कालीन भैया व्यापार से आगे बढ़कर अपना दबदबा बढ़ाने और राजनेता बनने के लिए सीएम से हाथ मिला लेते हैं और सीएम की विधवा बेटी माधुरी (ईशा तलवार) के साथ मुन्ना त्रिपाठी की शादी करा देते हैं। इन सब से परे गुड्डू के पिता (राजेश तैलंग) और एसपी मौर्या (अमित स्याल) गुड्डू पंडित और मुन्ना त्रिपाठी को सज़ा दिलाने के लिए सबूत जुटाने में लगे हैं।

'सत्य हिन्दी'
की ताक़त बनिए

गोदी मीडिया और विशाल कारपोरेट मीडिया के मुक़ाबले स्वतंत्र पत्रकारिता का साथ दीजिए और उसकी ताक़त बनिए। 'सत्य हिन्दी' की सदस्यता योजना में आपका आर्थिक योगदान ऐसे नाज़ुक समय में स्वतंत्र पत्रकारिता को बहुत मज़बूती देगा। याद रखिए, लोकतंत्र तभी बचेगा, जब सच बचेगा।

नीचे दी गयी विभिन्न सदस्यता योजनाओं में से अपना चुनाव कीजिए। सभी प्रकार की सदस्यता की अवधि एक वर्ष है। सदस्यता का चुनाव करने से पहले कृपया नीचे दिये गये सदस्यता योजना के विवरण और Membership Rules & NormsCancellation & Refund Policy को ध्यान से पढ़ें। आपका भुगतान प्राप्त होने की GST Invoice और सदस्यता-पत्र हम आपको ईमेल से ही भेजेंगे। कृपया अपना नाम व ईमेल सही तरीक़े से लिखें।
सत्य अनुयायी के रूप में आप पाएंगे:
  1. सदस्यता-पत्र
  2. विशेष न्यूज़लेटर: 'सत्य हिन्दी' की चुनिंदा विशेष कवरेज की जानकारी आपको पहले से मिल जायगी। आपकी ईमेल पर समय-समय पर आपको हमारा विशेष न्यूज़लेटर भेजा जायगा, जिसमें 'सत्य हिन्दी' की विशेष कवरेज की जानकारी आपको दी जायेगी, ताकि हमारी कोई ख़ास पेशकश आपसे छूट न जाय।
  3. 'सत्य हिन्दी' के 3 webinars में भाग लेने का मुफ़्त निमंत्रण। सदस्यता तिथि से 90 दिनों के भीतर आप अपनी पसन्द के किसी 3 webinar में भाग लेने के लिए प्राथमिकता से अपना स्थान आरक्षित करा सकेंगे। 'सत्य हिन्दी' सदस्यों को आवंटन के बाद रिक्त बच गये स्थानों के लिए सामान्य पंजीकरण खोला जायगा। *कृपया ध्यान रखें कि वेबिनार के स्थान सीमित हैं और पंजीकरण के बाद यदि किसी कारण से आप वेबिनार में भाग नहीं ले पाये, तो हम उसके एवज़ में आपको अतिरिक्त अवसर नहीं दे पायेंगे।
सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें

अपनी राय बतायें

सिनेमा से और खबरें

ताज़ा ख़बरें

सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें