loader

दिल्ली में 24 घंटे में 1877 नए पॉजिटिव केस, एक दिन में सबसे ज़्यादा

दिल्ली में कोरोना वायरस का संक्रमण काफ़ी तेज़ी से बढ़ा है। 24 घंटे में राज्य में 1877 नये पॉजिटिव केस सामने आए हैं। यह संख्या राज्य में एक दिन में सबसे ज़्यादा है। इसके साथ ही दिल्ली में कोरोना संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर 34 हज़ार 687 से ज़्यादा हो गई है। इससे पहले 3 जून को एक दिन में सबसे ज़्यादा वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या 1513 बढ़ी थी। 

इसके साथ ही 24 घंटे में 65 लोगों की मौत हुई है और 486 मरीज़ ठीक हुए हैं। दिल्ली में अब तक 12 हज़ार 731 मरीज़ पूरी तरह ठीक हो चुके हैं। राज्य में फ़िलहाल 20 हज़ार 871 लोग संक्रमित हैं। 

ताज़ा ख़बरें

देश में दिल्ली से ज़्यादा संक्रमण के मामले दो राज्यों में ही आए हैं। इसमें से एक है महाराष्ट्र और दूसरा तमिलनाडु। महाराष्ट्र में संक्रमण के मामले क़रीब 1 लाख होने को हैं जबकि तमिलनाडु में संक्रमण के मामले 36 हज़ार से ज़्यादा हैं। 

बता दें कि दिल्ली में कोरोना संक्रमण के काफ़ी तेज़ी से और ज़्यादा क्षेत्रों में फैलने की वजह से 200 से ज़्यादा कंटेनमेंट ज़ोन घोषित किए गए हैं। इसका मतलब है कि इन क्षेत्रों को सील कर दिया गया और इन क्षेत्रों में रहने वाले लोगों की जाँच की गई। 

अब ऐसा संदेह जताया जा रहा है कि दिल्ली में संक्रमण काफ़ी तेज़ी से फैलने वाला है। दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने तीन दिन पहले ही कहा है कि कोरोना संक्रमण के मामले इसी रफ़्तार के साथ बढ़ते रहे तो 31 जुलाई तक राजधानी में संक्रमण के मामलों की संख्या 5.5 लाख तक पहुँच सकती है। 

सिसोदिया ने कहा था, ‘15 जून तक कोरोना संक्रमण के 44 हज़ार मामले हो जाएँगे और क़रीब 6, 600 बेड की आवश्यकता होगी, 30 जून तक मामले 1 लाख तक पहुँच जाएँगे और 15 हज़ार बेड की आवश्यकता होगी, 15 जुलाई तक क़रीब सवा दो लाख तक मामले हो जाएँगे और 33 हज़ार बेड की ज़रूरत होगी और 31 जुलाई तक दिल्ली में क़रीब साढ़े पांच लाख केस पहुँच जाएँगे और इसके लिए 80 हज़ार बेड की ज़रूरत होगी।’

देश से और ख़बरें

बता दें कि देश भर में कोरोना संक्रमण के मामले काफ़ी तेज़ी से बढ़ने लगे हैं। आज पहली बार देश में कोरोना वायरस के मामले एक दिन में 10 हज़ार से ज़्यादा आए हैं और 394 मरीज़ों की मौत हुई है। इसके साथ ही देश में अब 2 लाख 97 हज़ार 535 पॉजिटिव केस पहुँच चुके हैं और 8498 लोगों की मौत हो चुकी है। हालाँकि एक लाख 47 हज़ार मरीज़ ठीक हुए हैं और फ़िलहाल क़रीब 1 लाख 41 हज़ार संक्रमित हैं। महाराष्ट्र में सबसे ज़्यादा 97 हज़ार 648 संक्रमण के मामले आए हैं और 3590 लोगों की मौत हुई है। इसके बाद तमिलनाडु में 38 हज़ार 716 पॉजिटिव केस आए और 349 लोगों की मौत हुई है।

'सत्य हिन्दी'
की ताक़त बनिए

गोदी मीडिया और विशाल कारपोरेट मीडिया के मुक़ाबले स्वतंत्र पत्रकारिता का साथ दीजिए और उसकी ताक़त बनिए। 'सत्य हिन्दी' की सदस्यता योजना में आपका आर्थिक योगदान ऐसे नाज़ुक समय में स्वतंत्र पत्रकारिता को बहुत मज़बूती देगा। याद रखिए, लोकतंत्र तभी बचेगा, जब सच बचेगा।

नीचे दी गयी विभिन्न सदस्यता योजनाओं में से अपना चुनाव कीजिए। सभी प्रकार की सदस्यता की अवधि एक वर्ष है। सदस्यता का चुनाव करने से पहले कृपया नीचे दिये गये सदस्यता योजना के विवरण और Membership Rules & NormsCancellation & Refund Policy को ध्यान से पढ़ें। आपका भुगतान प्राप्त होने की GST Invoice और सदस्यता-पत्र हम आपको ईमेल से ही भेजेंगे। कृपया अपना नाम व ईमेल सही तरीक़े से लिखें।
सत्य अनुयायी के रूप में आप पाएंगे:
  1. सदस्यता-पत्र
  2. विशेष न्यूज़लेटर: 'सत्य हिन्दी' की चुनिंदा विशेष कवरेज की जानकारी आपको पहले से मिल जायगी। आपकी ईमेल पर समय-समय पर आपको हमारा विशेष न्यूज़लेटर भेजा जायगा, जिसमें 'सत्य हिन्दी' की विशेष कवरेज की जानकारी आपको दी जायेगी, ताकि हमारी कोई ख़ास पेशकश आपसे छूट न जाय।
  3. 'सत्य हिन्दी' के 3 webinars में भाग लेने का मुफ़्त निमंत्रण। सदस्यता तिथि से 90 दिनों के भीतर आप अपनी पसन्द के किसी 3 webinar में भाग लेने के लिए प्राथमिकता से अपना स्थान आरक्षित करा सकेंगे। 'सत्य हिन्दी' सदस्यों को आवंटन के बाद रिक्त बच गये स्थानों के लिए सामान्य पंजीकरण खोला जायगा। *कृपया ध्यान रखें कि वेबिनार के स्थान सीमित हैं और पंजीकरण के बाद यदि किसी कारण से आप वेबिनार में भाग नहीं ले पाये, तो हम उसके एवज़ में आपको अतिरिक्त अवसर नहीं दे पायेंगे।
सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें

अपनी राय बतायें

दिल्ली से और खबरें

ताज़ा ख़बरें

सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें