loader

कांग्रेस ने लगाया कोरोना रोकथाम में शेखी बघारने, लापरवाही बरतने का आरोप 

मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस ने कोरोना महामारी की रोकथाम और टीकाकरण पर सरकार के दावों की धज्जियाँ उड़ा दी हैं और उस पर लापरवाही बरतने का आरोप लगाया है। 

पार्टी प्रवक्ता और महासचिव रणदीप सिंह सुरजेवाला ने रविवार की सुबह एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में शनिवार कै नरेंद्र मोदी के दावों की चर्चा की और कहा कि उन्होंने सिर्फ शेखी बघारी है और वाहवाही लूटी है। उन्होंने मोदी के इस दावे को ग़लत ठहराया है कि 31 दिसंबर तक 18 साल से ऊपर के सभी देशवासियों को वैक्सीन की दोनों खुराक दे दी जाएंगी। 

प्रधानमंत्री ने अपने रेडियो कार्यक्रम 'मन की बात' में रविवार को दावा किया कि देशभर में 141 करोड़ वैक्सीन खुराक दी जा चुकी है। उन्होंने शनिवार को राष्ट्र के नाम संबोधन में फ्रंटलाइन वर्कर्स और 60 साल से ऊपर के बुजुर्गों को बूस्टर डोज देने और 12 से 18 साल के बच्चों को वैक्सीन देने का एलान किया था।

सुरजेवाला ने कहा,

मोदी जी ने टीवी पर आकर कल शेखी बघारी, वाहवाही बटोरी, लेकिन वैक्सीन है कहाँ? ओमिक्रॉन वैरिएंट के ख़तरे को मोदी सरकार नज़रअंदाज़ कर रही है। मोदी सरकार स्टंटबाजी तक सीमित रह गई है।


रणदीप सिंह सुरजेवाला, प्रवक्ता, कांग्रेस

'आपराधिक लापरवाही'

सुरजेवाला ने मोदी सरकार पर आपराधिक लापरवाही बरतने  का आरोप भी लगाया। उन्होंने कहा कि सरकार की आपराधिक लापरवाही के कारण कोरोना की दूसरी लहर में 40 लाख लोग मौत के शिकार हुए। उन्होंने आगे कहा कि कोरोना की तीसरी लहर की आहट से ठीक पहले देशवासियों की जान फिर से मोदी सरकार ख़तरे में डाल रही है। 

कांग्रेस प्रवक्ता ने इसके आगे कहा कि केंद्र सरकार ने अदालत में हलफ़नामा दायर कर कहा था कि वह 31 दिसम्बर तक 18 साल से ऊपर के सभी नागरिकों यानी 94 करोड़ लोगों को वैक्सीन की दोनों खुराकें दे देगी, लेकिन 31 दिसंबर में अब सिर्फ 5 दिन बचे हैं और सरकार निर्धारित लक्ष्य से दूर है।

देश से और खबरें

कोरोना टीकाकरण

सुरजेवाला ने कहा कि देशभर में 18 साल से अधिक उम्र के 36.5 करोड़ लोगों को अभी तक दूसरा डोज़ नही लगा है। उन्होंने यह भी कहा कि देश में अभी वैक्सीन की 17.74 करोड़ डोज़ ही उपलब्ध है जबकि 31 दिसम्बर तक 60 करोड़ डोज़ की ज़रूरत है।

सूरजेवाला ने बूस्टर डोज़ पर कहा कि इसके तहत कुल 35 करोड़ 70 लाख वैक्सीन लगनी है लेकिन उपलब्धता मात्र 17.74 करोड़ ही है.

ओमिक्रॉन वैरिएंट

इस बीच खबर है कि देश भर में ओमिक्रॉन वैरिएंट से संक्रमित कुल मरीजों की संख्या बढ़कर 422 हो गई है।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के आँकड़ों के अनुसार, महाराष्ट्र में ओमिक्रॉन के सबसे ज्यादा 108 मरीज मिले हैं। इनमें से 42 इलाज के बाद ठीक हो गए। शनिवार को देशभर में ओमिक्रॉन के कुल 415 मरीज थे।

दिल्ली में ओमिक्रॉन वैरिएंट के 79 मरीज हैं, इनमें से 23 स्वस्थ हो चुके हैं। अब तक देशभर में कुल 130 ओमिक्रॉन मरीज ठीक हो गए हैं। 

सत्य हिन्दी ऐप डाउनलोड करें

गोदी मीडिया और विशाल कारपोरेट मीडिया के मुक़ाबले स्वतंत्र पत्रकारिता का साथ दीजिए और उसकी ताक़त बनिए। 'सत्य हिन्दी' की सदस्यता योजना में आपका आर्थिक योगदान ऐसे नाज़ुक समय में स्वतंत्र पत्रकारिता को बहुत मज़बूती देगा। याद रखिए, लोकतंत्र तभी बचेगा, जब सच बचेगा।

नीचे दी गयी विभिन्न सदस्यता योजनाओं में से अपना चुनाव कीजिए। सभी प्रकार की सदस्यता की अवधि एक वर्ष है। सदस्यता का चुनाव करने से पहले कृपया नीचे दिये गये सदस्यता योजना के विवरण और Membership Rules & NormsCancellation & Refund Policy को ध्यान से पढ़ें। आपका भुगतान प्राप्त होने की GST Invoice और सदस्यता-पत्र हम आपको ईमेल से ही भेजेंगे। कृपया अपना नाम व ईमेल सही तरीक़े से लिखें।
सत्य अनुयायी के रूप में आप पाएंगे:
  1. सदस्यता-पत्र
  2. विशेष न्यूज़लेटर: 'सत्य हिन्दी' की चुनिंदा विशेष कवरेज की जानकारी आपको पहले से मिल जायगी। आपकी ईमेल पर समय-समय पर आपको हमारा विशेष न्यूज़लेटर भेजा जायगा, जिसमें 'सत्य हिन्दी' की विशेष कवरेज की जानकारी आपको दी जायेगी, ताकि हमारी कोई ख़ास पेशकश आपसे छूट न जाय।
  3. 'सत्य हिन्दी' के 3 webinars में भाग लेने का मुफ़्त निमंत्रण। सदस्यता तिथि से 90 दिनों के भीतर आप अपनी पसन्द के किसी 3 webinar में भाग लेने के लिए प्राथमिकता से अपना स्थान आरक्षित करा सकेंगे। 'सत्य हिन्दी' सदस्यों को आवंटन के बाद रिक्त बच गये स्थानों के लिए सामान्य पंजीकरण खोला जायगा। *कृपया ध्यान रखें कि वेबिनार के स्थान सीमित हैं और पंजीकरण के बाद यदि किसी कारण से आप वेबिनार में भाग नहीं ले पाये, तो हम उसके एवज़ में आपको अतिरिक्त अवसर नहीं दे पायेंगे।
सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें

अपनी राय बतायें

देश से और खबरें

ताज़ा ख़बरें

सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें