loader

मनोज तिवारी बोले- अमित शाह कोरोना नेगेटिव, गृह मंत्रालय ने कहा- जाँच ही नहीं हुई

बीजेपी नेता मनोज तिवारी ने पहले ट्वीट कर कहा कि कोरोना वायरस से संक्रमित देश के गृहमंत्री अमित शाह की रिपोर्ट नेगेटिव आई है, और जब गृह मंत्रालय ने साफ़ तौर पर कह दिया कि कोविड की उनकी जाँच ही नहीं की गई है तो उन्होंने वह ट्वीट हटा लिया। 2 अगस्त को रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद गृह मंत्री को अस्पताल में भर्ती कराया गया। अस्पताल की तरफ़ से भी अभी तक आधिकारिक तौर पर कोई रिपोर्ट नहीं जारी की गई है कि उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव या नेगेटिव रही है। गृह मंत्री जब से अस्पताल में भर्ती हैं तब से ही इस बारे में कोई हेल्थ बुलेटिन भी सामने नहीं आया है।

लेकिन इस बीच आज दिल्ली बीजेपी के पूर्व अध्यक्ष मनोज तिवारी ने अमित शाह की रिपोर्ट नेगेटिव आने की जानकारी ट्वीट कर दी। बाद में उन्होंने यह ट्वीट हटा लिया।   

mha refutes manoj tiwary claim of amit shah tests negative for coronavirus - Satya Hindi
मनोज तिवारी के इस ट्वीट के बाद 'एएनआई' ने गृह मंत्रालय के हवाले से कहा है कि उनका अभी तक कोविड का टेस्ट ही नहीं किया गया है।
इससे पहले गृह मंत्री अमित शाह ने 2 अगस्त को ट्वीट कर कोरोना पॉजिटिव आने पर ख़ुद ही इसकी जानकारी दी थी। उन्होंने कहा था कि लक्षण दिखने पर उन्होंने जाँच करवाई और उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव पाई गई। उन्होंने यह भी कहा था कि वह डॉक्टरों की सलाह पर अस्पताल में भर्ती हुए हैं, हालाँकि उनकी हालत ठीक है। इसके साथ ही उन्होंने कहा था कि उनके संपर्क में जो भी लोग आए हैं वे ख़ुद को आइसोलेट कर लें और जाँच कराएँ। बता दें कि उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आने से कुछ दिन पहले ही उन्होंने एक बैठक में भाग लिया था जिसमें कई केंद्रीय मंत्रियों ने भी भाग लिया था।
देश में संक्रमित होने वाले लोगों में गृह मंत्री अब तक के सबसे हाई प्रोफ़ाइल मंत्री या नेताओं में से एक हैं जिन्हें यह संक्रमण हुआ। हालाँकि कई राज्यों के मंत्री भी संक्रमण के शिकार हो चुके हैं। कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा, तमिलनाडु के राज्यपाल बनवारी लाल पुरोहित भी कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। मध्य प्रदेश के शिवराज सिंह चौहान से लेकर उनके कैबिनेट सहयोगियों और बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष तक को अपनी चपेट में ले लिया। शिवराज सिंह संक्रमण से उबर चुके हैं। 
ताज़ा ख़बरें
पूरे देश में कोरोना संक्रमण की स्थिति अभी बदतर ही होती जा रही है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने रविवार को जो आँकड़े जारी किए हैं वे हर रोज़ संक्रमित लोगों की संख्या में बढ़ोतरी दिखाते हैं। देश में 24 घंटे में रिकॉर्ड 64 हज़ार 399 पॉजिटिव केस आए। एक दिन में यह अब तक का सबसे ज़्यादा आँकड़ा है। 24 घंटे में 861 लोगों की मौत हुई। अब तक 21 लाख 53 हज़ार 11 पॉजिटिव केस आ चुके हैं और 43 हज़ार 379 लोगों की मौत हुई है। क़रीब 14 लाख 80 हज़ार मरीज़ ठीक हुए और फ़िलहाल 6 लाख 28 हज़ार से ज़्यादा संक्रमित हैं।

'सत्य हिन्दी'
की ताक़त बनिए

गोदी मीडिया और विशाल कारपोरेट मीडिया के मुक़ाबले स्वतंत्र पत्रकारिता का साथ दीजिए और उसकी ताक़त बनिए। 'सत्य हिन्दी' की सदस्यता योजना में आपका आर्थिक योगदान ऐसे नाज़ुक समय में स्वतंत्र पत्रकारिता को बहुत मज़बूती देगा। याद रखिए, लोकतंत्र तभी बचेगा, जब सच बचेगा।

नीचे दी गयी विभिन्न सदस्यता योजनाओं में से अपना चुनाव कीजिए। सभी प्रकार की सदस्यता की अवधि एक वर्ष है। सदस्यता का चुनाव करने से पहले कृपया नीचे दिये गये सदस्यता योजना के विवरण और Membership Rules & NormsCancellation & Refund Policy को ध्यान से पढ़ें। आपका भुगतान प्राप्त होने की GST Invoice और सदस्यता-पत्र हम आपको ईमेल से ही भेजेंगे। कृपया अपना नाम व ईमेल सही तरीक़े से लिखें।
सत्य अनुयायी के रूप में आप पाएंगे:
  1. सदस्यता-पत्र
  2. विशेष न्यूज़लेटर: 'सत्य हिन्दी' की चुनिंदा विशेष कवरेज की जानकारी आपको पहले से मिल जायगी। आपकी ईमेल पर समय-समय पर आपको हमारा विशेष न्यूज़लेटर भेजा जायगा, जिसमें 'सत्य हिन्दी' की विशेष कवरेज की जानकारी आपको दी जायेगी, ताकि हमारी कोई ख़ास पेशकश आपसे छूट न जाय।
  3. 'सत्य हिन्दी' के 3 webinars में भाग लेने का मुफ़्त निमंत्रण। सदस्यता तिथि से 90 दिनों के भीतर आप अपनी पसन्द के किसी 3 webinar में भाग लेने के लिए प्राथमिकता से अपना स्थान आरक्षित करा सकेंगे। 'सत्य हिन्दी' सदस्यों को आवंटन के बाद रिक्त बच गये स्थानों के लिए सामान्य पंजीकरण खोला जायगा। *कृपया ध्यान रखें कि वेबिनार के स्थान सीमित हैं और पंजीकरण के बाद यदि किसी कारण से आप वेबिनार में भाग नहीं ले पाये, तो हम उसके एवज़ में आपको अतिरिक्त अवसर नहीं दे पायेंगे।
सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें

अपनी राय बतायें

देश से और खबरें

ताज़ा ख़बरें

सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें