loader

पठानः शाहरुख खान का जादू चल गया, फिल्म को अपार सफलता

पठान और बॉलीवुड एक्टर शाहरुख खान का जादू लोगों के सिर चढ़कर बोल रहा है। सिनेमा हॉल से लेकर टीवी चैनलों और सोशल मीडिया पर पठान की धूम मची हुई है। दरअसल, फिल्म आज 25 जनवरी को रिलीज हुई है और उसका पहला शो सुबह 6 बजे से शुरू हो गया। 6 बजे का शो देखकर बाहर आए दर्शकों, समीक्षकों और यहां तक की बॉलीवुड के सितारों ने भी फिल्म की जमकर तारीफ की। कहा जा रहा है कि अगर पठान की यह कामयाबी बरकरार रही तो बॉम्बे फिल्म इंडस्ट्री मंदी के जाल से बाहर आ सकती है। फिल्म की जबरदस्त कामयाबी और लोकप्रियता को देखते हुए विश्व हिन्दू परिषद जो इसके जबरदस्त विरोध में थी, उसने विरोध वापस लेने की घोषणा कर दी है। 

आरएसएस से जुड़े संगठन और कुछ अन्य संगठन भी फिल्म की रिलीज से पहले जगह-जगह पठान और शाहरुख खान के पोस्टर जगह-जगह फाड़ रहे थे। सोशल मीडिया पर पठान और शाहरुख खान के खिलाफ ट्रेंड चलाए गए। साध्वी प्राची जैसों ने यह तक बयान दिया कि अगर पठान हिट हुई तो इसका पैसा पाकिस्तान जाएगा। हालांकि उन्होंने अपने इस कुतर्क की वजह नहीं बताई कि यहां सिनेमा हॉल जो कमाई करेंगे वो पैसा पाकिस्तान कैसे जाएगा।

ताजा ख़बरें
फिल्म बिजनेस के एक्सपर्ट तरण आदर्श ने कहा कि इसे स्टार पावर स्टाइल फिल्म कहा है। उन्होंने 5 में से 4.5 मार्क्स दिए हैं। तरण ने लिखा कि किसी भी नजरिए से फिल्म में कमी नहीं है। 2023 की ब्लॉकबूस्टर फिल्म यही है। तरण ने इससे पहले कल मंगलवार को कहा था कि पहले दिन ही 40-50 करोड़ कलेक्शन के साथ पठान की शुरुआत को शानदार ही कहा जाएगा। आज 25 जनवरी को कामकाजी दिन होने के बावजूद मल्टीप्लेक्स में जबरदस्त भीड़ है। जिस हिसाब से इस फिल्म की एडवांस बुकिंग हुई है, उसे देखते हुए बॉक्स ऑफिस पर आने वाले दिन अच्छे होंगे।

एक और फिल्म ट्रेड एनालिस्ट और समीक्षक सुमित कडेल ने लिखा है कि पठान और टाइगर ने आज बुधवार को सिनेमा हॉल को स्टेडियम में बदल दिया है-बाप रे बाप। यहां यह बताना जरूरी है कि शाहरुख की इस फिल्म में सलमान खान का 10 मिनट का धमाकेदार कैमियो रोल है। सलमान ने एक फिल्म में टाइगर नामक किरदार निभाया था।

पठान की काफी दिनों से आलोचना कर रहे राशिद कमाल खान उर्फ केआरके ने फिल्म देखने के बाद पहले हाफ वाली कहानी और सीन को 5 में से 4 स्टार दिए हैं। इंटरवल के बाद उन्होंने लिखा - ये शानदार और मनोरंजन से भरपूर है। हालांकि इंटरवल के बाद वो फिल्म को लेकर आलोचक हो गए और उन्होंने ढाई स्टार दिए। उनका सवाल है कि इसमें कहानी क्या है।

सिनेमा हॉल में शाहरुख खान जिन्दाबाद के नारे

खबर है कि दिल्ली के सिनेमा घरों में शाहरुख खान के समर्थन में नारे भी लगे है। इन नारों में जिन्दाबाद से लेकर शाहरुख वी लव यू (शाहरुख हम आपसे प्यार करते हैं) जैसे नारे लग रहे हैं। पठान के गाने बेशरम रंग पर दर्शक सिनेमा हॉल ही में झूमने लगे। इस फिल्म में दीपिका पादुकोण और शाहरुख पर फिल्माए गए इस गाने में भगवा रंग की बिकनी पर हिन्दूवादी संगठनों ने आपत्ति की थी। फिल्म देखकर बाहर निकले लोगों ने कहा कि भगवा बिकनी अब फिल्म में नहीं है। यानी उसे हटा दिया गया है। कुछ सिनेमा हॉल में लोग बैंड बाजे के साथ पठान देखने पहुंचे। हालांकि ये लोग एसआरके फैंस थे।

इसकी चर्चा सबसे ज्यादा

फिल्म के रिलीज होने तक सलमान के कैमियो को गुप्त रखा गया था। लेकिन यह पहले दिन सबसे ज्यादा चर्चा में है। कई प्रशंसकों ने दोनों खान को एक साथ पर्दे पर देखने के लिए अपनी उत्तेजना व्यक्त करने के लिए सोशल मीडिया का सहारा लिया। कई सोशल मीडिया यूजर्स इसे 'कैमियो ऑफ द ईयर' बता रहे हैं।

एक सिनेमा हॉल में एक दर्शक ने बेशरम रंग गाना आने पर दर्शकों की प्रतिक्रिया रेकॉर्ड की है। उसने उसे ट्वीट भी किया। आप भी देखिए उस प्रतिक्रिया को-
शाहरुख फैंस क्लब ने पठान का आम दर्शकों का रिव्यू वीडियो जारी किया है जिसे किसी यूट्यूब चैनल ने बनाया है। आम लोगों का रिव्यू काफी दिलचस्प है। देखिए ट्वीट में- 
पठान के टाइटिल गाने पर लोग सिनेमा हॉल के अंदर ही थिरकते दिखाई दिए। आप इस ट्वीट को देखिए-

हालांकि फिल्म में दीपिका पादुकोण आईएसआई एजेंट की भूमिका में हैं जबकि जॉन अब्राहम भी नेगेटिव रोल में हैं लेकिन इनकी एक्टिंग की भी दर्शकों ने जमकर तारीफ की है। फिल्म के स्पेशकल इफेक्ट्स को हॉलीवुड के टक्कर का बताया गया है। बहरहाल, आज बुधवार को फिल्म का पहला दिन है। यह रिपोर्ट दोपहर में लिखी गई है। पिक्चर अभी बाकी है मेरे दोस्त।  

 

सत्य हिन्दी ऐप डाउनलोड करें

गोदी मीडिया और विशाल कारपोरेट मीडिया के मुक़ाबले स्वतंत्र पत्रकारिता का साथ दीजिए और उसकी ताक़त बनिए। 'सत्य हिन्दी' की सदस्यता योजना में आपका आर्थिक योगदान ऐसे नाज़ुक समय में स्वतंत्र पत्रकारिता को बहुत मज़बूती देगा। याद रखिए, लोकतंत्र तभी बचेगा, जब सच बचेगा।

नीचे दी गयी विभिन्न सदस्यता योजनाओं में से अपना चुनाव कीजिए। सभी प्रकार की सदस्यता की अवधि एक वर्ष है। सदस्यता का चुनाव करने से पहले कृपया नीचे दिये गये सदस्यता योजना के विवरण और Membership Rules & NormsCancellation & Refund Policy को ध्यान से पढ़ें। आपका भुगतान प्राप्त होने की GST Invoice और सदस्यता-पत्र हम आपको ईमेल से ही भेजेंगे। कृपया अपना नाम व ईमेल सही तरीक़े से लिखें।
सत्य अनुयायी के रूप में आप पाएंगे:
  1. सदस्यता-पत्र
  2. विशेष न्यूज़लेटर: 'सत्य हिन्दी' की चुनिंदा विशेष कवरेज की जानकारी आपको पहले से मिल जायगी। आपकी ईमेल पर समय-समय पर आपको हमारा विशेष न्यूज़लेटर भेजा जायगा, जिसमें 'सत्य हिन्दी' की विशेष कवरेज की जानकारी आपको दी जायेगी, ताकि हमारी कोई ख़ास पेशकश आपसे छूट न जाय।
  3. 'सत्य हिन्दी' के 3 webinars में भाग लेने का मुफ़्त निमंत्रण। सदस्यता तिथि से 90 दिनों के भीतर आप अपनी पसन्द के किसी 3 webinar में भाग लेने के लिए प्राथमिकता से अपना स्थान आरक्षित करा सकेंगे। 'सत्य हिन्दी' सदस्यों को आवंटन के बाद रिक्त बच गये स्थानों के लिए सामान्य पंजीकरण खोला जायगा। *कृपया ध्यान रखें कि वेबिनार के स्थान सीमित हैं और पंजीकरण के बाद यदि किसी कारण से आप वेबिनार में भाग नहीं ले पाये, तो हम उसके एवज़ में आपको अतिरिक्त अवसर नहीं दे पायेंगे।
सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें

अपनी राय बतायें

देश से और खबरें

ताज़ा ख़बरें

सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें