loader

पंजाब: कांग्रेस में शामिल हुए नामी सिंगर सिद्धू मूसेवाला

पंजाब कांग्रेस के लिए शुक्रवार को तब एक अच्छी ख़बर आई जब नामी सिंगर सिद्धू मूसेवाला ने पार्टी का दामन थाम लिया। विधानसभा चुनाव से पहले अपने नेताओं की लड़ाई से जूझ रही कांग्रेस को उम्मीद है कि सिद्धू मूसेवाला के आने से उसे चुनाव में फ़ायदा होगा। 

इस मौक़े पर पंजाब कांग्रेस के अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू और मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी मौजूद रहे। दोनों नेताओं ने सिद्धू मूसेवाला का स्वागत किया। 

इस मौक़े पर सिद्धू मूसेवाला ने कहा कि कांग्रेस में सामान्य परिवार से आने वाला शख़्स भी आगे आकर अपनी आवाज़ उठा सकता है। सिद्धू मूसेवाला की उम्र 28 साल है और उनकी पंजाब के अलावा भारत के दूसरे सूबों में भी जोरदार फ़ॉलोइंग है। 

ताज़ा ख़बरें

युवाओं के बीच लोकप्रिय 

सिद्धू मूसेवाला का असली नाम शुभदीप सिंह सिद्धू है। वह पंजाब के मोगा जिले के मूसा नाम के गांव से आते हैं। दुनिया में भी उन मुल्क़ों में जहां पंजाबी बसे हुए हैं, वहां भी सिद्धू मूसेवाला को स्टेज शो के लिए बुलाया जाता है। सिद्धू मूसेवाला के गाने युवाओं के बीच खासे लोकप्रिय हुए हैं और यू ट्यूब पर उन्हें सुनने वालों की संख्या करोड़ों में है। 

अपने रंगीले अंदाज के लिए मशहूर पंजाब की अवाम पर गायकों का खासा असर होता है। इससे पहले भगवंत मान, अनमोल गगन मान, गुरप्रीत घुग्गी सहित कई कलाकार राजनीतिक दलों का दामन थाम चुके हैं।
कांग्रेस पंजाब में अपनी सत्ता को किसी क़ीमत पर नहीं गंवाना चाहती है। लेकिन नवजोत सिंह सिद्धू की बयानबाजियों और पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह की बग़ावत के कारण पार्टी बेहद मुश्किल में है। 
पंजाब से और ख़बरें

इसलिए राहुल गांधी ने बुधवार शाम को मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी, प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू और पूर्व अध्यक्ष सुनील जाखड़ को दिल्ली बुलाया और चुनावी तैयारियों में जुटने का निर्देश दिया। फरवरी-मार्च में होने जा रहे पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव के साथ ही पंजाब में भी चुनाव होने हैं। 

कांग्रेस की चिंता इस बात को लेकर भी है कि क्या उसके कुछ विधायक, मंत्री अमरिंदर सिंह के साथ जा सकते हैं। ऐसा हुआ तो पार्टी को चुनाव में नुक़सान हो सकता है। 

ख़ैर, इस सबके बीच सिद्धू मूसेवाला के पार्टी में आने से कार्यकर्ताओं के बीच जोश आया है और उन्हें उम्मीद है कि पार्टी को मूसेवाले के आने से ज़रूर फ़ायदा मिलेगा। 

सत्य हिन्दी ऐप डाउनलोड करें

गोदी मीडिया और विशाल कारपोरेट मीडिया के मुक़ाबले स्वतंत्र पत्रकारिता का साथ दीजिए और उसकी ताक़त बनिए। 'सत्य हिन्दी' की सदस्यता योजना में आपका आर्थिक योगदान ऐसे नाज़ुक समय में स्वतंत्र पत्रकारिता को बहुत मज़बूती देगा। याद रखिए, लोकतंत्र तभी बचेगा, जब सच बचेगा।

नीचे दी गयी विभिन्न सदस्यता योजनाओं में से अपना चुनाव कीजिए। सभी प्रकार की सदस्यता की अवधि एक वर्ष है। सदस्यता का चुनाव करने से पहले कृपया नीचे दिये गये सदस्यता योजना के विवरण और Membership Rules & NormsCancellation & Refund Policy को ध्यान से पढ़ें। आपका भुगतान प्राप्त होने की GST Invoice और सदस्यता-पत्र हम आपको ईमेल से ही भेजेंगे। कृपया अपना नाम व ईमेल सही तरीक़े से लिखें।
सत्य अनुयायी के रूप में आप पाएंगे:
  1. सदस्यता-पत्र
  2. विशेष न्यूज़लेटर: 'सत्य हिन्दी' की चुनिंदा विशेष कवरेज की जानकारी आपको पहले से मिल जायगी। आपकी ईमेल पर समय-समय पर आपको हमारा विशेष न्यूज़लेटर भेजा जायगा, जिसमें 'सत्य हिन्दी' की विशेष कवरेज की जानकारी आपको दी जायेगी, ताकि हमारी कोई ख़ास पेशकश आपसे छूट न जाय।
  3. 'सत्य हिन्दी' के 3 webinars में भाग लेने का मुफ़्त निमंत्रण। सदस्यता तिथि से 90 दिनों के भीतर आप अपनी पसन्द के किसी 3 webinar में भाग लेने के लिए प्राथमिकता से अपना स्थान आरक्षित करा सकेंगे। 'सत्य हिन्दी' सदस्यों को आवंटन के बाद रिक्त बच गये स्थानों के लिए सामान्य पंजीकरण खोला जायगा। *कृपया ध्यान रखें कि वेबिनार के स्थान सीमित हैं और पंजीकरण के बाद यदि किसी कारण से आप वेबिनार में भाग नहीं ले पाये, तो हम उसके एवज़ में आपको अतिरिक्त अवसर नहीं दे पायेंगे।
सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें

अपनी राय बतायें

पंजाब से और खबरें

ताज़ा ख़बरें

सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें