loader

शेन वार्नः क्रिकेट खेले जाने वाले देशों में शोक की लहर, श्रद्धांजलि का तांता

ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट के दिग्गज शेन वार्न का 52 साल की उम्र में निधन होने से भारत, पाकिस्तान, इंग्लैण्ड, ऑस्ट्रेलिया, श्रीलंका, साउथ अफ़्रीका में क्रिकेट जगत सदमे में डूब गया है। लोग सोशल मीडिया के जरिए अपना शोक जता रहे हैं। दुनियाभर में नामी क्रिकेट खिलाड़ियों के अलावा क्रिकेट प्रेमी भी शोक में डूबे हुए हैं। शेन वार्न ने राजस्थान रॉयल्स टीम को प्रशिक्षित किया था। राजस्थान के क्रिकेटर और जनता ने भी तरह-तरह से संवेदानएं प्रकट की हैं। वार्न के प्रबंधन ने शनिवार सुबह (एईएसटी) के शुरुआती घंटों में एक बयान जारी कर घोषणा की कि उनका थाईलैंड में एक संदिग्ध दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया था। 
ताजा ख़बरें
चर्चित खिलाड़ी डेविड वार्नर ने कहा- हमारे खेल के दो दिग्गज हमें बहुत जल्द छोड़कर चले गए। मेरे पास शब्द नहीं हैं। मेरे विचार और प्रार्थनाएं मार्श और वार्न परिवार के साथ हैं। मैं बस इस पर विश्वास नहीं कर सकता कि तुम दोनों छूट जाओगे।
भारतीय क्रिकेटर रोहित शर्मा ने लिखा- मेरे पास वास्तव में शब्द नहीं हैं। यह अत्यंत दुखद है। हमारे खेल के एक परम दिग्गज और चैंपियन ने हमें छोड़ दिया है। RIP शेन वार्न…। अभी भी विश्वास नहीं हो रहा है

पाकिस्तान के जाने-माने क्रिकेट खिलाड़ी शोएब अख्तर ने लिखा- महान शेन वार्न के निधन की हिला देने वाली खबर अभी सुनी। मैं कितना हैरान और दुखी हूं, यह बताने के लिए शब्द नहीं हैं।

भारत के स्टार खिलाड़ी जसप्रीत बुमराह ने कहा- शब्द नहीं हैं। हैरान हूँ। हमारे खेल की एक किंवदंती, एक आइकन और स्पिन गेंदबाजी में क्रांति लाने वाला व्यक्ति। RIP शेन वार्न।

साउथ अफ्रीकी खिलाड़ी जोंटी रोड्स ने नहीं...विश्वास नहीं कर सकता जो मैं पढ़ रहा हूँ। 

भारत के धुआंधार बल्लेबाज रहे वीरेंद्र सहवाग ने लिखा - यह विश्वास नहीं कर सकता। महान स्पिनरों में से एक, स्पिन को कूल बनाने वाले सुपरस्टार शेन वार्न नहीं रहे। जीवन बहुत नाजुक है, लेकिन इसकी थाह पाना बहुत मुश्किल है। दुनिया भर में उनके परिवार, दोस्तों और प्रशंसकों के प्रति मेरी हार्दिक संवेदना।

सत्य हिन्दी ऐप डाउनलोड करें

गोदी मीडिया और विशाल कारपोरेट मीडिया के मुक़ाबले स्वतंत्र पत्रकारिता का साथ दीजिए और उसकी ताक़त बनिए। 'सत्य हिन्दी' की सदस्यता योजना में आपका आर्थिक योगदान ऐसे नाज़ुक समय में स्वतंत्र पत्रकारिता को बहुत मज़बूती देगा। याद रखिए, लोकतंत्र तभी बचेगा, जब सच बचेगा।

नीचे दी गयी विभिन्न सदस्यता योजनाओं में से अपना चुनाव कीजिए। सभी प्रकार की सदस्यता की अवधि एक वर्ष है। सदस्यता का चुनाव करने से पहले कृपया नीचे दिये गये सदस्यता योजना के विवरण और Membership Rules & NormsCancellation & Refund Policy को ध्यान से पढ़ें। आपका भुगतान प्राप्त होने की GST Invoice और सदस्यता-पत्र हम आपको ईमेल से ही भेजेंगे। कृपया अपना नाम व ईमेल सही तरीक़े से लिखें।
सत्य अनुयायी के रूप में आप पाएंगे:
  1. सदस्यता-पत्र
  2. विशेष न्यूज़लेटर: 'सत्य हिन्दी' की चुनिंदा विशेष कवरेज की जानकारी आपको पहले से मिल जायगी। आपकी ईमेल पर समय-समय पर आपको हमारा विशेष न्यूज़लेटर भेजा जायगा, जिसमें 'सत्य हिन्दी' की विशेष कवरेज की जानकारी आपको दी जायेगी, ताकि हमारी कोई ख़ास पेशकश आपसे छूट न जाय।
  3. 'सत्य हिन्दी' के 3 webinars में भाग लेने का मुफ़्त निमंत्रण। सदस्यता तिथि से 90 दिनों के भीतर आप अपनी पसन्द के किसी 3 webinar में भाग लेने के लिए प्राथमिकता से अपना स्थान आरक्षित करा सकेंगे। 'सत्य हिन्दी' सदस्यों को आवंटन के बाद रिक्त बच गये स्थानों के लिए सामान्य पंजीकरण खोला जायगा। *कृपया ध्यान रखें कि वेबिनार के स्थान सीमित हैं और पंजीकरण के बाद यदि किसी कारण से आप वेबिनार में भाग नहीं ले पाये, तो हम उसके एवज़ में आपको अतिरिक्त अवसर नहीं दे पायेंगे।
सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें

अपनी राय बतायें

खेल से और खबरें

ताज़ा ख़बरें

सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें