loader

तेलंगाना में 7 मई तक बढ़ाया गया लॉकडाउन 

तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव ने लॉकडाउन को 7 मई तक बढ़ाने की घोषणा की है। उन्होंने कहा कि इसके लिए सख़्ती रहेगी। कोरोना वायरस के नियंत्रित नहीं होने के कारण राज्य की कैबिनेट ने यह फ़ैसला लिया है। राज्य में अब तक कोरोना वायरस के 858 पॉजिटिव केस आ चुके हैं और 21 लोगों की मौत हो चुकी है। मुख्यमंत्री ने कहा कि अब स्वीगी और जोमैटो को राज्य में काम करने की छूट नहीं मिलेगी।
ताज़ा ख़बरें

तेलंगाना के मुख्यमंत्री का यह फ़ैसला ऐसे समय में आया है जब प्रधानमंत्री मोदी ने हाल में लॉकडाउन को देश भर में 3 मई तक बढ़ाया है। हालाँकि तब प्रधानमंत्री ने यह भी कहा था कि 20 अप्रैल के बाद इसमें ढील दी जा सकती है, लेकिन स्थिति सुधरी तभी। कई राज्यों के जिन ज़िलों में कोरोना वायरस के मामले नहीं आए हैं वहाँ थोड़ी ढील दी जा रही है। केरल में तो गाड़ियों के लिए ऑड-ईवन फ़ॉर्मूला अपनाया गया है। लेकिन तेलंगाना ने राज्य में लॉकडाउन को बढ़ाने का फ़ैसला लिया।

लॉकडाउन के बढ़ाने के फ़ैसले के साथ ही चंद्रशेखर राव ने कहा, 'सरकार उन आप्रवासी मज़दूरों को राशन और 1500 रुपये देगी जिनका परिवार तेलंगाना में रहता है और अकेले रहने वाले ऐसे मज़दूरों को सरकार राशन देगी।' 

इसके साथ ही राज्य की कैबिनेट ने पुलिस कर्मियों की तनख्वाह 10 फ़ीसदी बढ़ाने की मंजूरी दी है। 

चंद्रशेखर राव ने यह भी साफ़ किया कि केंद्र सरकार ने गाइडलाइन जारी कर लॉकडाउन में ढील देने की जो बात की थी वह तेलंगाना में ढील नहीं दी जाएगी। 

तेलंगाना से और ख़बरें
बता दें कि गाइडलाइन में कहा गया है कि 20 अप्रैल के बाद कृषि, आईटी, ई-कॉमर्स जैसी गतिविधियों और सामान ढोने के लिए अंतरराज्यीय परिवहन को अनुमति दी जाएगी। इसके अलावा मनरेगा से जुड़े कार्य भी शुरू होंगे। हालाँकि यह छूट तभी मिलेगी जब वह संबंधित क्षेत्र कोरोना वायरस का हॉटस्पॉट नहीं होगा। यह गाइडलाइन तब आई थी जब प्रधानमंत्री मोदी ने एक दिन पहले ही मंगलवार को लॉकडाउन 3 मई तक बढ़ाने की घोषणा की थी। 
Satya Hindi Logo सत्य हिंदी सदस्यता योजना जल्दी आने वाली है।
सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें

अपनी राय बतायें

तेलंगाना से और खबरें

ताज़ा ख़बरें

सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें