loader

यूपी: युवक को पीटने वाले पुलिसकर्मियों पर हत्या के प्रयास का केस दर्ज

उत्तर प्रदेश के सिद्धार्थ नगर में एक युवक को सड़क पर बुरी तरह से पीटने वाले पुलिसकर्मियों पर युवक की हत्या का प्रयास करने का मुक़दमा दर्ज किया गया है। सोशल मीडिया पर ख़ासे वायरल हो रहे इस वीडियो के कारण लोग उत्तर प्रदेश पुलिस की कार्यशैली पर सवाल उठा रहे हैं। चौतरफ़ा दबाव पड़ने पर ही पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया गया था। 

युवक के परिजनों का कहना है कि यातायात नियमों के उल्लंघन को लेकर युवक का पुलिसकर्मियों से विवाद हुआ था जबकि पुलिसकर्मियों का कहना है कि युवक ने शराब पी हुई थी और वह इलाक़े में हुए सांप्रदायिक झगड़े में शामिल था। इस बारे में विभागीय जाँच के भी आदेश दे दिये गये हैं। 

ताज़ा ख़बरें
घटना के मुताबिक़, नेपाल से सटे इस सीमाई ज़िले में पुलिसकर्मियों ने बीते मंगलवार को मोटरसाइकिल पर जा रहे रिंकू पांडेय को रोका था और थोड़ी कहासुनी होने के बाद उसे बीच सड़क पर घसीट कर बुरी तरह पीटा था। वीडियो में एक छोटा बच्चा भी दिखाई दिया था। 

मारपीट करने वाले पुलिसकर्मियों के नाम सब-इंस्पेक्टर वीरेंद्र मिश्रा और हेड कांस्टेबल महेंद्र प्रसाद बताये गये हैं। वीडियो में साफ़ दिख रहा है कि दोनों पुलिसकर्मी उस युवक को गालियाँ दे रहे हैं और बेरहमी से पीट रहे हैं। 

उत्तर प्रदेश से और ख़बरें

पुलिसकर्मियों ने अत्याचार की हदें पार करते हुए युवक को ज़मीन पर गिराकर पीटा था और एक पुलिसकर्मी ने उसकी पीठ पर बैठ कर भी उसे पीटा था। वीडियो में सुनाई दे रहा है कि वह आदमी कहता है, 'अगर मैंने ग़लती की है तो मुझे लॉक अप में डाल दो। पर यह तो बताओ कि मेरी ग़लती क्या है?' लेकिन पुलिसकर्मियों के सिर पर मानो ख़ून सवार था और वह उसे पीटना जारी रखते हैं। 

Satya Hindi Logo लोकतंत्र तभी बचेगा, जब सच बचेगा! गोदी मीडिया के इस दौर में पत्रकारिता को राजनीति और कारपोरेट दबावों से मुक्त रखने के लिए 'सत्य हिन्दी' के साथ आइए। नीचे दी गयी कोई भी रक़म जो आप चुनना चाहें, उस पर क्लिक करें। यह पूरी तरह स्वैच्छिक है। आप द्वारा दी गयी राशि आपकी ओर से स्वैच्छिक सेवा शुल्क (Voluntary Service Fee) होगा, जिसकी जीएसटी रसीद हम आपको भेजेंगे।
सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें

अपनी राय बतायें

उत्तर प्रदेश से और खबरें

ताज़ा ख़बरें

सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें