loader

डब्लूएचओ प्रमुख की चेतावनी : ख़ात्मे के क़रीब नहीं कोरोना, बढ़ रही है रफ़्तार

चरणबद्ध तरीके से लॉकडाउन हटाने का मतलब यदि आप यह समझ रहे हैं कि कोरोना भी ख़त्म होने को है तो आप भारी गफ़लत में हैं। कोरोना ख़त्म तो नहीं ही हो रहा है, यह ख़ात्मे के आसपास भी नहीं है।
विश्व स्वास्थ्य संगठन के महानिदेशक टेड्रोस अडेनम गेब्रेसस ने यह कहा है। उन्होंने सोमवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा,

'हम सब चाहते हैं कि कोरोना ख़त्म हो जाए। पर कटु सत्य है कि यह अभी ख़त्म होने के क़रीब भी नहीं पहुँचा है। कई देशों ने इसमें प्रगति की है, पर महामारी अभी रफ़्तार ही पकड़ रही है।'


टेड्रोस अडेनम गेब्रेसस, महानिदेशक, विश्व स्वास्थ्य संगठन

उन्होंने कहा कि अभी भी कई लोगों को ख़तरा है और वायरस के अभी फैलने की आशंका है।

टीका पर सम्मेलन

विश्व स्वास्थ्य संगठन के आपातकाल कार्यक्रम के प्रमुख माइक रायन ने पत्रकारों से कहा कि सुरक्षित और प्रभावी टीका बनाने की दिशा में काफी प्रगति हुई है। पर अब तक इसकी कोई गारंटी नहीं है कि यह प्रयास कामयाब होगा। 
डब्लूएचओ टीका बनाने पर हुई प्रगति की समीक्षा के लिए जल्द ही एक सम्मेलन करेगा। उन्होंने यह भी कहा कि इस दौरान वायरस संक्रमण को रोकने के लिए जाँच, आइसोलेशन और ट्रैकिंग का काम करते रहना होगा।  
बता दें कि दुनिया भर में कोरोना वायरस पॉजिटिव मामलों की संख्या 10 मिलियन यानी एक करोड़ से ज़्यादा हो गई है। पिछले साल नवंबर में कोरोना वायरस का पहला मामला सामने आने के बाद इतनी संख्या पहुँचने में क़रीब छह महीने लगे। जब से संक्रमण के मामले सामने आए हैं तब से यह तेज़ी से बढ़ता ही जा रहा है। अब दुनिया भर में हर रोज़ क़रीब पौने दो लाख संक्रमण के नये मामले आ रहे हैं। 
दुनिया में कोरोना संक्रमण के सबसे ज़्यादा मामले अमेरिका में सामने आए हैं। वर्ल्डमीटर के आँकड़ों के अनुसार, अमेरिका में 25 लाख 96 हज़ार से ज़्यादा कोरोना वायरस संक्रमण के मामले आ चुके हैं और 1 लाख 28 हज़ार से ज़्यादा लोगों की मौत हो चुकी है। 

'सत्य हिन्दी'
की ताक़त बनिए

गोदी मीडिया और विशाल कारपोरेट मीडिया के मुक़ाबले स्वतंत्र पत्रकारिता का साथ दीजिए और उसकी ताक़त बनिए। 'सत्य हिन्दी' की सदस्यता योजना में आपका आर्थिक योगदान ऐसे नाज़ुक समय में स्वतंत्र पत्रकारिता को बहुत मज़बूती देगा। याद रखिए, लोकतंत्र तभी बचेगा, जब सच बचेगा।

नीचे दी गयी विभिन्न सदस्यता योजनाओं में से अपना चुनाव कीजिए। सभी प्रकार की सदस्यता की अवधि एक वर्ष है। सदस्यता का चुनाव करने से पहले कृपया नीचे दिये गये सदस्यता योजना के विवरण को ध्यान से पढ़ें। आपका भुगतान प्राप्त होने की GST Invoice और सदस्यता प्रमाणपत्र हम आपको ईमेल से ही भेजेंगे। कृपया अपना नाम व ईमेल सही तरीक़े से लिखें।
सत्य अनुयायी के रूप में आप पाएंगे:
  1. सदस्यता-पत्र
  2. विशेष न्यूज़लेटर: 'सत्य हिन्दी' की चुनिंदा विशेष कवरेज की जानकारी आपको पहले से मिल जायगी। आपकी ईमेल पर समय-समय पर आपको हमारा विशेष न्यूज़लेटर भेजा जायगा, जिसमें 'सत्य हिन्दी' की विशेष कवरेज की जानकारी आपको दी जायेगी, ताकि हमारी कोई ख़ास पेशकश आपसे छूट न जाय।
  3. 'सत्य हिन्दी' के 3 webinars में भाग लेने का मुफ़्त निमंत्रण। सदस्यता तिथि से 90 दिनों के भीतर आप अपनी पसन्द के किसी 3 webinar में भाग लेने के लिए प्राथमिकता से अपना स्थान आरक्षित करा सकेंगे। 'सत्य हिन्दी' सदस्यों को आवंटन के बाद रिक्त बच गये स्थानों के लिए सामान्य पंजीकरण खोला जायगा। *कृपया ध्यान रखें कि वेबिनार के स्थान सीमित हैं और पंजीकरण के बाद यदि किसी कारण से आप वेबिनार में भाग नहीं ले पाये, तो हम उसके एवज़ में आपको अतिरिक्त अवसर नहीं दे पायेंगे।
सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें

अपनी राय बतायें

दुनिया से और खबरें

ताज़ा ख़बरें

सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें