loader

रैलियों में मोदी के निशाने पर रहा लालू का शासन

बिहार में फिर से एनडीए की सरकार बनाने के कठिन लक्ष्य को लेकर निकले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को अररिया के फारबिसगंज और सहरसा में चुनावी जलसों को संबोधित किया। मोदी ने दूसरे चरण के मतदान के बीच एनडीए उम्मीदवारों के लिए वोट खींचने में ताक़त झोंकी। 

सहरसा की रैली में पीएम मोदी ने फिर से जंगलराज का जिक्र किया। मोदी ने केंद्र सरकार द्वारा चलाई जा रही तमाम विकास योजनाओं के बारे में बताते हुए कहा, ‘आपको उन लोगों से सतर्क रहना है, जिनका इतिहास जंगलराज का है। ऐसे लोगों से सतर्क रहना है, जो बिहार के लिए नहीं, सिर्फ अपने और अपने परिवार के लिए जीते हैं।’ उन्होंने कहा कि ऐसे लोगों को बिहार की मान-मर्यादा और मान-सम्मान से कोई लेना-देना नहीं है। 

‘भारत माता की जय’ पर घेरा 

मोदी ने कांग्रेस को निशाने पर लेते हुए कहा कि बिहार को जंगलराज बनाने वालों के साथी चाहते हैं कि आप ‘भारत माता की जय’ के नारे ना लगाएं। उन्होंने कहा, ‘ऐसे भी लोग हमारे सामने हैं जिन्हें ‘भारत माता की जय’ बोलने से बुखार आ जाता है, ऐसे लोग चाहते हैं कि आप ‘जय श्री राम’ भी न बोलें।’ मोदी ने कहा कि भारत माता के विरोधी एकजुट होकर बिहार के लोगों से वोट मांगने के लिए आए हैं। प्रधानमंत्री ने कहा कि ऐसे लोगों को मुंहतोड़ जवाब देना है। 

ताज़ा ख़बरें
मोदी ने फारबिसगंज की रैली में कहा कि बिहार की जनता ने डंके की चोट पर ये संदेश दे दिया है कि बिहार में एक बार फिर एनडीए की सरकार बनने जा रही है। पिछली रैलियों की तरह इस बार भी जंगलराज का जिक्र करते हुए मोदी ने कहा कि बिहार की जनता ने जंगलराज और डबल युवराज को सिरे से नकार दिया है। डबल युवराज कहकर उन्होंने तेजस्वी और राहुल गांधी पर निशाना साधा है। 

बिहार अब उन लोगों को पहचान चुका है, जिनका एक ही सपना है कि किसी तरह लोगों को डराकर, अफ़वाह फैलाकर, समाज को बांटकर कैसे भी करके सत्ता हथिया लेना। इनकी तो बरसों से यही सोच है, इन्होंने यही देखा है, यही समझा है, यही सीखा है।’


पीएम मोदी, फारबिसगंज की रैली में

कांग्रेस पर छोड़े सियासी तीर

मोदी इस रैली में कांग्रेस पर खासे आक्रामक रहे। पैने सियासी तीर छोड़ते हुए उन्होंने कहा कि कांग्रेस कहती थी कि ग़रीबी हटाएंगे लेकिन उसने कुछ नहीं किया। मोदी ने कहा, ‘आज कांग्रेस की हालत यह है कि आज लोकसभा और राज्यसभा दोनों को मिला दें तो इसके पास 100 से ज़्यादा सांसद नहीं हैं, जनता ने उनका ये हाल बना दिया है और आज भी वह उन्हें सजा देती रहती है।’ 

मोदी ने कहा, ‘देश के अनेक राज्य ऐसे हैं, जिन्होंने कांग्रेस के एक भी बंदे को लोकसभा, राज्यसभा तक नहीं पहुंचने दिया। आप कल्पना कर सकते हैं कि देश की जनता कांग्रेस से कितनी नाराज है।’

देखिए, बिहार चुनाव पर चर्चा- 
आरजेडी को निशाने पर लेते हुए मोदी ने कहा कि बिहार का क्या हाल बनाकर रखा था लेकिन आज यहां कई प्रोजेक्ट चल रहे हैं, जिनकी जमकर चर्चा हो रही है। वज़ीर-ए-आज़म ने कहा, ‘बिहार को ब्रॉडबैंड से जोड़ने की शुरुआत हुई है। बिहार देश के कुछ उन राज्यों में है जहां गैस ग्रिड कनेक्टिविटी का बहुत ज़्यादा विस्तार होने जा रहा है।’ 
PM Modi Rally in Bihar election 2020 - Satya Hindi
रैली निकालते बीजेपी कार्यकर्ता।

तेजस्वी पर बोला था हमला 

मोदी ने बीते बुधवार को दरभंगा, मुज़फ्फरपुर और पटना में ताबड़तोड़ रैलियां की थीं और लालू-राबड़ी का शासन और तेजस्वी उनके निशाने पर रहे थे। पटना की रैली में मोदी ने कहा था, ‘बिहार के ग़रीब, मध्यम वर्ग की आकांक्षाओं को वे लोग पूरा नहीं कर सकते जिन्होंने बिहार को बीमार बनाया, बिहार को लूटा। 

मोदी ने कहा था, ‘जंगलराज के युवराज क्या बिहार को आईटी के या आधुनिकता के क्षेत्र में आगे ले जा सकते हैं। इसका जवाब मुझसे ज़्यादा बिहार की जनता जानती है। 15 साल तक उन्होंने जुल्म झेला है।’

मोदी ने तेजस्वी के दस लाख सरकारी नौकरियों के वादे पर चोट करते हुए कहा था कि सरकारी नौकरियां तो छोड़िए, इन लोगों के आने का मतलब है कि प्राइवेट नौकरियां देने वाली कंपनियां ही यहां से चली जाएंगी।

आरजेडी पर हमला जारी रखते हुए मोदी ने कहा, था, ‘रंगदारी दी तब बचोगे, नहीं तो किडनैपिंग इंडस्ट्री का कॉपीराइट तो उन लोगों के पास ही है, इसलिए इनसे सावधान रहना है।’ अंत में उन्होंने कहा कि आपका एक-एक वोट बिहार को फिर से बीमार होने से बचाएगा।

बिहार से और ख़बरें

राम मंदिर का जिक्र

दरभंगा की रैली में मोदी ने कहा था, ‘सदियों की तपस्या के बाद आखिरकार अयोध्या में भव्य राम मंदिर का निर्माण शुरू हो गया है। वो सियासी लोग जो हमसे तारीख़ पूछते थे, बहुत मजबूरी में अब वे भी तालियां बजा रहे हैं। मां सीता के इस क्षेत्र में आकर मैं यहां के लोगों को राम मंदिर निर्माण की बधाई देता हूं क्योंकि आप उसके प्रमुख हक़दार हैं।’

धारा 370 पर बात

अपने पहले चुनावी दौरे में सासाराम, गया और भागलपुर की रैलियों में मोदी ने विपक्ष को धारा 370 के मसले को लेकर घेरा था और कहा था कि विपक्ष भारत को कमजोर करने की साज़िश रच रहे लोगों का साथ देने से भी नहीं हिचकिचाता। मोदी ने कांग्रेस पर हमला करते हुए कहा था कि देश वर्षों से धारा 370 के हटने का इंतजार कर रहा था लेकिन ये लोग इसकी बहाली की बात कर रहे हैं। उन्होंने विपक्ष पर दलालों-बिचौलियों की भाषा बोलने का भी आरोप लगाया था। 

'सत्य हिन्दी'
की ताक़त बनिए

गोदी मीडिया और विशाल कारपोरेट मीडिया के मुक़ाबले स्वतंत्र पत्रकारिता का साथ दीजिए और उसकी ताक़त बनिए। 'सत्य हिन्दी' की सदस्यता योजना में आपका आर्थिक योगदान ऐसे नाज़ुक समय में स्वतंत्र पत्रकारिता को बहुत मज़बूती देगा। याद रखिए, लोकतंत्र तभी बचेगा, जब सच बचेगा।

नीचे दी गयी विभिन्न सदस्यता योजनाओं में से अपना चुनाव कीजिए। सभी प्रकार की सदस्यता की अवधि एक वर्ष है। सदस्यता का चुनाव करने से पहले कृपया नीचे दिये गये सदस्यता योजना के विवरण और Membership Rules & NormsCancellation & Refund Policy को ध्यान से पढ़ें। आपका भुगतान प्राप्त होने की GST Invoice और सदस्यता-पत्र हम आपको ईमेल से ही भेजेंगे। कृपया अपना नाम व ईमेल सही तरीक़े से लिखें।
सत्य अनुयायी के रूप में आप पाएंगे:
  1. सदस्यता-पत्र
  2. विशेष न्यूज़लेटर: 'सत्य हिन्दी' की चुनिंदा विशेष कवरेज की जानकारी आपको पहले से मिल जायगी। आपकी ईमेल पर समय-समय पर आपको हमारा विशेष न्यूज़लेटर भेजा जायगा, जिसमें 'सत्य हिन्दी' की विशेष कवरेज की जानकारी आपको दी जायेगी, ताकि हमारी कोई ख़ास पेशकश आपसे छूट न जाय।
  3. 'सत्य हिन्दी' के 3 webinars में भाग लेने का मुफ़्त निमंत्रण। सदस्यता तिथि से 90 दिनों के भीतर आप अपनी पसन्द के किसी 3 webinar में भाग लेने के लिए प्राथमिकता से अपना स्थान आरक्षित करा सकेंगे। 'सत्य हिन्दी' सदस्यों को आवंटन के बाद रिक्त बच गये स्थानों के लिए सामान्य पंजीकरण खोला जायगा। *कृपया ध्यान रखें कि वेबिनार के स्थान सीमित हैं और पंजीकरण के बाद यदि किसी कारण से आप वेबिनार में भाग नहीं ले पाये, तो हम उसके एवज़ में आपको अतिरिक्त अवसर नहीं दे पायेंगे।
सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें

अपनी राय बतायें

बिहार से और खबरें

ताज़ा ख़बरें

सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें