loader

दिल्ली में होना था मुनव्वर फारूकी का शो, नहीं मिली इजाजत

दिल्ली पुलिस ने स्टैंड अप कॉमेडियन मुनव्वर फारूकी के शो के आयोजन की इजाजत नहीं दी है। दिल्ली में फारूकी का शो 28 अगस्त को होना था। लेकिन विश्व हिंदू परिषद (वीएचपी) ने दिल्ली पुलिस से मांग की थी कि फारूकी के शो के आयोजन की इजाजत नहीं दी जाए। 

दिल्ली पुलिस की लाइसेंसिंग ब्रांच को स्थानीय पुलिस ने इस बारे में रिपोर्ट दी थी कि इस शो के आयोजन से इलाके में सांप्रदायिक सौहार्द्र प्रभावित हो सकता है। 

जबकि 23 अगस्त को लाइसेंसिंग ब्रांच ने पश्चिमी दिल्ली के विष्णु गार्डन निवासी गुरसिमर सिंह रयात को फारूकी का शो करने की इजाजत दे दी थी। यह शो डॉ. एसपीएम सिविक सेंटर, केदारनाथ साहनी ऑडिटोरियम में रात 9.30 बजे से होना था। 

ताज़ा ख़बरें

25 अगस्त को वीएचपी दिल्ली के अध्यक्ष सुरेंद्र कुमार गुप्ता ने दिल्ली पुलिस के आयुक्त संजीव अरोड़ा को एक पत्र भेजकर आरोप लगाया कि फारूकी ने अपने शो में हिंदू देवी-देवताओं का मजाक उड़ाया। गुप्ता ने उन्हें भाग्यनगर (हैदराबाद में) हुई हालिया झड़पों के लिए दोषी ठहराया था। गुप्ता ने इस संबंध में वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों से भी मुलाकात की थी और कमला मार्केट थाने में शिकायत दर्ज कराई थी। 

द इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक, शिकायत मिलने के बाद स्थानीय पुलिस ने जांच की और अपनी रिपोर्ट लाइसेंसिंग ब्रांच को सौंप दी। रिपोर्ट में पुलिस ने कहा कि इस शो से क्षेत्र में सांप्रदायिक सौहार्द्र प्रभावित होगा और उसे अनुमति को रद्द कर देना चाहिए। इसके बाद लाइसेंसिंग ब्रांच ने शो के आयोजक को ई-मेल भेजकर बताया कि शो की अनुमति रद्द कर दी गई है। 

वीएचपी के प्रवक्ता विनोद बंसल ने इस बारे में द इंडियन एक्सप्रेस से कहा था कि हम शहर में शांति चाहते हैं। हम नहीं चाहते कि फारूकी हमारे हिंदू देवताओं का मजाक उड़ाए। अगर पुलिस कुछ नहीं करती है, तो हम पूरे शहर में विरोध प्रदर्शन करेंगे। उन्होंने पुलिस से कार्रवाई करने की मांग की थी। 

हैदराबाद में बवाल

बता दें कि हाल ही में हैदराबाद में मुनव्वर फारूकी का एक शो हुआ था जिसका बीजेपी से निलंबित विधायक टी. राजा सिंह ने पुरजोर विरोध किया था। लेकिन सरकारी सुरक्षा के बीच यह शो आयोजित कराया गया था। इसके बाद टी. राजा सिंह ने पैगंबर मोहम्मद पर अभ्रद टिप्पणी की थी और उन्हें बीजेपी ने निलंबित कर दिया था और कारण बताओ नोटिस भेजा था। टी. राजा सिंह को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। उनके खिलाफ मुसलिम समुदाय के लोगों ने हैदराबाद में जोरदार प्रदर्शन किया था।

Delhi Police says no to Munawar Faruqui show - Satya Hindi

हुई थी गिरफ्तारी

कथित रूप से हिंदू देवी-देवताओं का अपमान करने के आरोप में मुनव्वर फारूकी को बीते साल गिरफ्तार किया गया था। इंदौर की महापौर और स्थानीय बीजेपी विधायक मालिनी गौड़ के पुत्र एकलव्य सिंह गौड़ ने शिकायत दर्ज कराई थी कि फारूकी ने इंदौर में 1 जनवरी, 2021 को आयोजित शो में हिंदू देवी-देवताओं के बारे में आपत्तिजनक टिप्पणी की थी। 

दिल्ली से और खबरें

फारूकी को एक महीने तक जेल में रहना पड़ा था। फारूकी ने कहा था कि जो बातें उन्होंने कही ही नहीं, उसके लिए उन्हें जेल में डाल दिया गया। 

हाई कोर्ट तक ने उन्हें ज़मानत देने से इनकार कर दिया था और सुप्रीम कोर्ट में अपील करने के बाद ही उन्हें जमानत मिली थी। इसके बाद उन्होंने स्टैंड अप कॉमेडी छोड़ने का भी एलान कर दिया था। 

सत्य हिन्दी ऐप डाउनलोड करें

गोदी मीडिया और विशाल कारपोरेट मीडिया के मुक़ाबले स्वतंत्र पत्रकारिता का साथ दीजिए और उसकी ताक़त बनिए। 'सत्य हिन्दी' की सदस्यता योजना में आपका आर्थिक योगदान ऐसे नाज़ुक समय में स्वतंत्र पत्रकारिता को बहुत मज़बूती देगा। याद रखिए, लोकतंत्र तभी बचेगा, जब सच बचेगा।

नीचे दी गयी विभिन्न सदस्यता योजनाओं में से अपना चुनाव कीजिए। सभी प्रकार की सदस्यता की अवधि एक वर्ष है। सदस्यता का चुनाव करने से पहले कृपया नीचे दिये गये सदस्यता योजना के विवरण और Membership Rules & NormsCancellation & Refund Policy को ध्यान से पढ़ें। आपका भुगतान प्राप्त होने की GST Invoice और सदस्यता-पत्र हम आपको ईमेल से ही भेजेंगे। कृपया अपना नाम व ईमेल सही तरीक़े से लिखें।
सत्य अनुयायी के रूप में आप पाएंगे:
  1. सदस्यता-पत्र
  2. विशेष न्यूज़लेटर: 'सत्य हिन्दी' की चुनिंदा विशेष कवरेज की जानकारी आपको पहले से मिल जायगी। आपकी ईमेल पर समय-समय पर आपको हमारा विशेष न्यूज़लेटर भेजा जायगा, जिसमें 'सत्य हिन्दी' की विशेष कवरेज की जानकारी आपको दी जायेगी, ताकि हमारी कोई ख़ास पेशकश आपसे छूट न जाय।
  3. 'सत्य हिन्दी' के 3 webinars में भाग लेने का मुफ़्त निमंत्रण। सदस्यता तिथि से 90 दिनों के भीतर आप अपनी पसन्द के किसी 3 webinar में भाग लेने के लिए प्राथमिकता से अपना स्थान आरक्षित करा सकेंगे। 'सत्य हिन्दी' सदस्यों को आवंटन के बाद रिक्त बच गये स्थानों के लिए सामान्य पंजीकरण खोला जायगा। *कृपया ध्यान रखें कि वेबिनार के स्थान सीमित हैं और पंजीकरण के बाद यदि किसी कारण से आप वेबिनार में भाग नहीं ले पाये, तो हम उसके एवज़ में आपको अतिरिक्त अवसर नहीं दे पायेंगे।
सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें

अपनी राय बतायें

दिल्ली से और खबरें

ताज़ा ख़बरें

सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें