loader

दिल्ली में आज रात से एक हफ्ते के लिए लॉकडाउन

दिल्ली में लॉकडाउन लगाने का फ़ैसला किया गया है। यह आज यानी सोमवार रात 10 बजे से एक हफ़्ते के लिए यानी अगले सोमवार की सुबह 6 बजे तक के लिए लागू होगा। दिल्ली में हर रोज़ आ रहे रिकॉर्ड कोरोना संक्रमण के मामलों के बीच यह निर्णय लिया गया है।

रविवार को राजधानी में रिकॉर्ड 25 हज़ार 462 नये पॉजिटिव केस दर्ज किए गए। एक दिन पहले ही शहर में 24 हज़ार 375 मामले आए थे। अब यहाँ पॉजिटिविटी रेट 30 फ़ीसदी हो गई है। इसका मतलब है कि जाँच किए जाने वाले 100 में से 30 लोग कोरोना संक्रमित पाए जा रहे हैं।

ताज़ा ख़बरें

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा, 'अगले 6 दिनों में हम दिल्ली में और बिस्तरों की व्यवस्था करेंगे। हमारी सहायता करने के लिए हम केंद्र सरकार को धन्यवाद देते हैं। लॉकडाउन अवधि का उपयोग ऑक्सीजन, चिकित्सा की व्यवस्था के लिए किया जाएगा। मैं सभी से दिशानिर्देशों का पालन करने का अनुरोध करता हूँ।'

केजरीवाल ने प्रवासी मजदूरों से की अपील की, 'मैं आपसे हाथ जोड़कर अपील करता हूँ। यह केवल 6 दिनों के लिए एक छोटा लॉकडाउन है। दिल्ली को छोड़कर मत जाओ। मुझे बहुत उम्मीद है कि हमें लॉकडाउन का विस्तार करने की आवश्यकता नहीं होगी... सरकार आपका ख्याल रखेगी।'

मीडिया रिपोर्टों में कहा गया है कि सभी निजी कार्यालयों को अब वर्क फ्रॉम होम कर दिया गया है यानी उन कार्यालयों में कर्मचारियों को घर से काम करना होगा। केवल सरकारी कार्यालय और आवश्यक सेवाएँ खुली रहेंगी।

यह फ़ैसला तब लिया गया है जब मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने लेफ्टिनेंट गवर्नर अनिल बैजल से सोमवार सुबह ही मुलाक़ात की है।

हवाई अड्डों, रेलवे स्टेशनों, आईएसबीटी से आने या जाने वाले व्यक्तियों को वैध टिकट दिखाने पर यात्रा करने की अनुमति होगी। विभिन्न देशों के राजनयिकों के अधिकारियों के साथ-साथ किसी भी संवैधानिक पद पर रहने वाले व्यक्तियों को वैध आईडी दिखने पर छूट दी गई है। 

मीडिया कर्मियों को भी वैध आईडी कार्ड दिखाने पर छूट होगी। अंतर-राज्यीय और अंतर-राज्य आने जाने या आवश्यक वस्तुओं के परिवहन पर कोई प्रतिबंध नहीं होगा। इस तरह की आवाजाही के लिए कोई अलग से अनुमति या ई-पास की आवश्यकता नहीं है। धार्मिक स्थानों को खोलने की अनुमति दी जाएगी, लेकिन किसी को भी अनुमति नहीं होगी। 

कोरोना संक्रमण के मामले बढ़ने के बीच ही पिछले हफ़्ते दिल्ली सरकार ने वीकेंड कर्फ्यू का एलान किया था। गुरुवार को मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और उपराज्यपाल अनिल बैजल के बीच काफी देर तक बैठक चली और इसमें यह फ़ैसला लिया गया था। 

केजरीवाल ने कहा था था बाजारों में सख़्ती को और कड़ा किया जाएगा जिससे लोग नियमों का पालन करें। 

lockdown in delhi from tonight for 6 days amid covid surge  - Satya Hindi
मुख्यमंत्री ने कहा था कि जिम, ऑडिटोरियम, स्पा, मॉल को बंद किया जा रहा है और सिनेमाघर 30 फ़ीसदी क्षमता के साथ चलेंगे। जिन लोगों के वहां शादियां तय हो चुकी हैं, उन्हें पास दिया जाएगा। मुख्यमंत्री ने यह भी कहा था कि रेस्तरां में बैठकर खाने की इजाजत नहीं होगी और केवल होम डिलीवरी की ही सुविधा मिलेगी।
इससे पहले कोरोना को लेकर ऐससे ज़्यादा सख़्ती पिछले साल थी। तब दिल्ली सहित पूरे देश में 22 मार्च और 18 मई के बीच पूरी तरह से लॉकडाउन लगाया गया था। संक्रमण कम होने के बाद कई चरणों में लॉकडाउन को हटाया गया था। 
दिल्ली से और ख़बरें
देश में रविवार को कोरोना संक्रमण के फिर से रिकॉर्ड मामले आए हैं। स्वास्थ्य विभाग द्वारा सोमवार सुबह जारी की गई रिपोर्ट के अनुसार रविवार को 24 घंटे में 2 लाख 73 हज़ार 810 पॉजिटिव केस आए। इस दौरान 1619 कोरोना मरीज़ों की मौत हुई। इससे एक दिन पहले शनिवार को एक दिन में 2 लाख 61 हज़ार 500 केस आए थे और इस दौरान 1501 मौतें हुई थीं। 
यह लगातार पाँचवाँ दिन है जब कोरोना के केस दो लाख से ज़्यादा आए हैं। स्वास्थ्य विभाग ने आज जो आँकड़े जारी किए हैं उसके अनुसार देश में कोरोना संक्रमितों की संख्या डेढ़ करोड़ से ज़्यादा हो गई है। कोरोना से मरने वालों की संख्या भी 1 लाख 78 हज़ार से ज़्यादा हो गई है। 1 करोड़ 29 लाख से ज़्यादा मरीज़ ठीक हो गए हैं। देश में फ़िलहाल 19 लाख 29 हज़ार से ज़्यादा सक्रिए मामले हो गए हैं।
सत्य हिन्दी ऐप डाउनलोड करें

गोदी मीडिया और विशाल कारपोरेट मीडिया के मुक़ाबले स्वतंत्र पत्रकारिता का साथ दीजिए और उसकी ताक़त बनिए। 'सत्य हिन्दी' की सदस्यता योजना में आपका आर्थिक योगदान ऐसे नाज़ुक समय में स्वतंत्र पत्रकारिता को बहुत मज़बूती देगा। याद रखिए, लोकतंत्र तभी बचेगा, जब सच बचेगा।

नीचे दी गयी विभिन्न सदस्यता योजनाओं में से अपना चुनाव कीजिए। सभी प्रकार की सदस्यता की अवधि एक वर्ष है। सदस्यता का चुनाव करने से पहले कृपया नीचे दिये गये सदस्यता योजना के विवरण और Membership Rules & NormsCancellation & Refund Policy को ध्यान से पढ़ें। आपका भुगतान प्राप्त होने की GST Invoice और सदस्यता-पत्र हम आपको ईमेल से ही भेजेंगे। कृपया अपना नाम व ईमेल सही तरीक़े से लिखें।
सत्य अनुयायी के रूप में आप पाएंगे:
  1. सदस्यता-पत्र
  2. विशेष न्यूज़लेटर: 'सत्य हिन्दी' की चुनिंदा विशेष कवरेज की जानकारी आपको पहले से मिल जायगी। आपकी ईमेल पर समय-समय पर आपको हमारा विशेष न्यूज़लेटर भेजा जायगा, जिसमें 'सत्य हिन्दी' की विशेष कवरेज की जानकारी आपको दी जायेगी, ताकि हमारी कोई ख़ास पेशकश आपसे छूट न जाय।
  3. 'सत्य हिन्दी' के 3 webinars में भाग लेने का मुफ़्त निमंत्रण। सदस्यता तिथि से 90 दिनों के भीतर आप अपनी पसन्द के किसी 3 webinar में भाग लेने के लिए प्राथमिकता से अपना स्थान आरक्षित करा सकेंगे। 'सत्य हिन्दी' सदस्यों को आवंटन के बाद रिक्त बच गये स्थानों के लिए सामान्य पंजीकरण खोला जायगा। *कृपया ध्यान रखें कि वेबिनार के स्थान सीमित हैं और पंजीकरण के बाद यदि किसी कारण से आप वेबिनार में भाग नहीं ले पाये, तो हम उसके एवज़ में आपको अतिरिक्त अवसर नहीं दे पायेंगे।
सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें

अपनी राय बतायें

दिल्ली से और खबरें

ताज़ा ख़बरें

सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें