loader

सत्येंद्र जैन का नया वीडियो: बीजेपी बोली- यह जेल है या रिसॉर्ट

बीजेपी ने बुधवार को दिल्ली सरकार के मंत्री सत्येंद्र जैन का नया वीडियो जारी किया है। इस वीडियो में सत्येंद्र जैन तिहाड़ जेल के भीतर खाना खाते हुए दिख रहे हैं। बीजेपी ने कहा है कि सत्येंद्र जैन को बाहर से खाना लाकर दिया जा रहा है और उन्हें खाना-सलाद, फल सब कुछ दिया जा रहा है।

जबकि कुछ दिन पहले ही सत्येंद्र जैन ने अदालत से शिकायत की थी कि उन्हें तिहाड़ जेल में पर्याप्त खाना नहीं मिल रहा है और उनका वजन 28 किलो गिर गया है। 

इस वीडियो में सत्येंद्र जैन खाने के साथ ही सलाद, फल खाते हुए दिखाई देते हैं और उनके लिए खाना और सलाद लाने वाले 2 लोग भी वीडियो में दिख रहे हैं। उन्हें यह खाना प्लास्टिक के बॉक्स में दिया गया है और जेल के भीतर इस तरह खाना नहीं दिया जाता।

ताज़ा ख़बरें
बीजेपी के राष्ट्रीय प्रवक्ता शहजाद पूनावाला ने पूछा है कि अरविंद केजरीवाल अब किस आधार पर सत्येंद्र जैन को मंत्री बनाए रखेंगे या उनका बचाव करने के लिए अभी भी अरविंद केजरीवाल और आम आदमी पार्टी के लोग सामने आएंगे। 

दिल्ली बीजेपी के प्रवक्ता हरीश खुराना ने पूछा है कि ऐसा लग रहा है कि यह कोई तिहाड़ जेल नहीं बल्कि कोई रिसॉर्ट हो। बीजेपी सांसद प्रवेश साहिब सिंह वर्मा ने कहा है कि कहीं सत्येंद्र जैन अरविंद केजरीवाल की पोल ना खोल दे, इसलिए अपने पापों को दबाने के लिए केजरीवाल उन्हें ये सुविधा दिला रहे हैं।

बीजेपी ने मंगलवार को आरोप लगाया था कि दिल्ली सरकार के मंत्री सत्येंद्र जैन की तिहाड़ जेल में मसाज करने वाला शख्स नाबालिग से बलात्कार के मामले में अभियुक्त है। कुछ दिन पहले सत्येंद्र जैन का तिहाड़ जेल में मसाज और मालिश कराने वाला एक वीडियो सामने आया था। तब बीजेपी ने कहा था कि सत्येंद्र जैन के लिए तिहाड़ जेल के सभी नियमों को कूड़ेदान में फेंक दिया गया है और उन्हें हेड मसाज और फुट मसाज सहित कई सुविधाएं दी जा रही हैं।

Satyendra Jain tihar jail video eating food  - Satya Hindi

इस वीडियो में दिखा था कि एक शख्स सत्येंद्र जैन के पैरों की मालिश कर रहा है और वह बिस्तर पर लेटे हुए कुछ कागज पढ़ रहे हैं। 

इसके जवाब में आम आदमी पार्टी ने कहा था कि किसी इंसान को उसकी बीमारी में दिए जा रहे इलाज की सीसीटीवी फुटेज को गलत तरीके से बाहर निकाल कर उसकी बीमारी का मजाक बना रही है। उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा था कि सत्येंद्र जैन के स्पाइन-इंजरी के दो ऑपरेशन हुए हैं। डॉक्टर ने उन्हें रेगुलर फ़िज़ियोथेरेपी बताई है। कोविड के बाद से उनके फेफड़ों में पैच है जो अभी ठीक नहीं हुआ है। 

केजरीवाल से मांगा जवाब 

लेकिन मंगलवार को बीजेपी के राष्ट्रीय प्रवक्ता शहजाद पूनावाला ने ट्वीट कर कहा था कि जो शख्स सत्येंद्र जैन की मसाज कर रहा था उसका नाम रिंकू है और वह कोई फिजियोथैरेपिस्ट नहीं है बल्कि बलात्कार के मामले में अभियुक्त है और उसके ऊपर पॉक्सो और आईपीसी की धारा 376 के तहत मुकदमा दर्ज है। पूनावाला ने पूछा था कि मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को जवाब देना चाहिए कि उन्होंने रिंकू का बचाव क्यों किया और ऐसा करके फिजियोथैरेपी को बदनाम क्यों किया। उन्होंने कहा था कि आम आदमी पार्टी ने तिहाड़ को थाईलैंड में बदल कर रख दिया है। 

दिल्ली से और खबरें

इसके जवाब में दिल्ली सरकार के मंत्री गोपाल राय ने कहा था कि केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह जब गुजरात की जेल में बंद थे तब स्पेशल जेल बनाई गई थी।

सत्येंद्र जैन को इस साल जुलाई में ईडी ने गिरफ्तार कर लिया था और अब तक उन्हें जमानत नहीं मिल सकी है। 

सत्य हिन्दी ऐप डाउनलोड करें

गोदी मीडिया और विशाल कारपोरेट मीडिया के मुक़ाबले स्वतंत्र पत्रकारिता का साथ दीजिए और उसकी ताक़त बनिए। 'सत्य हिन्दी' की सदस्यता योजना में आपका आर्थिक योगदान ऐसे नाज़ुक समय में स्वतंत्र पत्रकारिता को बहुत मज़बूती देगा। याद रखिए, लोकतंत्र तभी बचेगा, जब सच बचेगा।

नीचे दी गयी विभिन्न सदस्यता योजनाओं में से अपना चुनाव कीजिए। सभी प्रकार की सदस्यता की अवधि एक वर्ष है। सदस्यता का चुनाव करने से पहले कृपया नीचे दिये गये सदस्यता योजना के विवरण और Membership Rules & NormsCancellation & Refund Policy को ध्यान से पढ़ें। आपका भुगतान प्राप्त होने की GST Invoice और सदस्यता-पत्र हम आपको ईमेल से ही भेजेंगे। कृपया अपना नाम व ईमेल सही तरीक़े से लिखें।
सत्य अनुयायी के रूप में आप पाएंगे:
  1. सदस्यता-पत्र
  2. विशेष न्यूज़लेटर: 'सत्य हिन्दी' की चुनिंदा विशेष कवरेज की जानकारी आपको पहले से मिल जायगी। आपकी ईमेल पर समय-समय पर आपको हमारा विशेष न्यूज़लेटर भेजा जायगा, जिसमें 'सत्य हिन्दी' की विशेष कवरेज की जानकारी आपको दी जायेगी, ताकि हमारी कोई ख़ास पेशकश आपसे छूट न जाय।
  3. 'सत्य हिन्दी' के 3 webinars में भाग लेने का मुफ़्त निमंत्रण। सदस्यता तिथि से 90 दिनों के भीतर आप अपनी पसन्द के किसी 3 webinar में भाग लेने के लिए प्राथमिकता से अपना स्थान आरक्षित करा सकेंगे। 'सत्य हिन्दी' सदस्यों को आवंटन के बाद रिक्त बच गये स्थानों के लिए सामान्य पंजीकरण खोला जायगा। *कृपया ध्यान रखें कि वेबिनार के स्थान सीमित हैं और पंजीकरण के बाद यदि किसी कारण से आप वेबिनार में भाग नहीं ले पाये, तो हम उसके एवज़ में आपको अतिरिक्त अवसर नहीं दे पायेंगे।
सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें

अपनी राय बतायें

दिल्ली से और खबरें

ताज़ा ख़बरें

सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें