loader

क्या पाकिस्तान में हिंदुओं पर पुलिस ने लाठियाँ बरसाईं?

पाकिस्तान में हिंदू समुदाय के लोगों पर अत्याचार किया जा रहा है। इस दावे के साथ एक वीडियो सोशल मीडिया पर ख़ूब वायरल हो रहा है। वीडियो में दावा किया जा रहा है कि पाक पुलिस हिंदुओं को बेवजह पीट रही है। इस वीडियो को कई भाजपा समर्थक फे़सबुक पेजों पर शेयर किया गया है। जिसमें 'भाजपा मिशन 2019' 'नरेंद्र मोदी पीएम 2019' 'बजरंग दल चौमू नगर' फ़ेसबुक पेज शामिल हैं।
इसके अलावा दिनेश जोशी नाम के एक ट्विटर यूजर ने भी इसी वीडियो को ट्वीट करते हुए लिखा कि  'पाकिस्तान में एक हिंदू ने अपने घर के ऊपर भगवा झंडा लगाया था देखिए उसके साथ क्या किया गया?' आगे लिखा.. 'उन लोगों को कुछ नहीं किया जाता जो पाकिस्तान का झंडा भारत में आए दिन उठाते रहते हैं।' ट्विटर पर 'दिनेश जोशी' को प्रधानमंत्री 'नरेंद्र मोदी' और 'पीयूष गोयल कार्यालय' फाॅलो करते हैं।
इसी वीडियो को अशरफ नाम के एक यूजर ने भी ट्वीट किया लेकिन इन्होंने इस वीडियो को लेकर अलग दावा किया। अशरफ लिखते हैं 'यह पाकिस्तान इस्लामी देश है, पाक पुलिस एक ईसाई के घर पर छापा मार कर महिलाओं को बुरी तरह पीट रही है। अशरफ को भी ट्विटर पर पीयूष गोयल कार्यालय का आधिकारिक ट्विवटर हैंडल फाॅलो करता है। इसके अलावा इस वीडियो को कई और यूर्जस ने इस वीडियो को शेयर करते हुए लिखा है, 'अगर 2019 में नरेंद्र मोदी को नहीं लाओगे तो भारत में भी हिंदुओं का ऐसा ही हाल होगा।'

वीडियो की सच्चाई

इस वीडियो की सच्चाई को जानने के लिए जब हमने इंटरनेट पर ख़ोजबीन की, तो हमें 'बीबीसी हिंदी' पर 5 जनवरी 2019 को प्रकाशित एक ख़बर मिला। जिसका शीर्षक है 'पाकिस्तान में हिंदुओं की पिटाई वाले वायरल वीडियो का सच।' बीबसी ने अपनी रिपोर्ट में लिखा, यह घटना पाकिस्तान के पंजाब प्रांत में स्थित फ़ैसलाबाद में हुई थी जहाँ 'पाकिस्तान एलीट फ़ोर्स' के जवानों की एक टुकड़ी ने लोगों को ज़बरन उनके घरों में घुस-घुसकर पीटा था। बीबीसी ने आगे लिखा, फ़ैसलाबाद में बिजली की किल्लत को लेकर लोगों ने पाक प्रशासन से शिकायत की थी कि उन्हें दिन में 14-16 घंटे तक बिजली नहीं मिल रही है। इसे लेकर शहर में एक बड़ा प्रदर्शन हुआ और गुस्साए लोगों ने एक पेट्रोल पंप समेत सार्वजनिक संपत्ति को काफ़ी नुकसान पहुंचाया था। बाद में पुलिस ने जवाबी कार्रवाई की और प्रदर्शनकारियों को उनके घरों से उठाकर उनकी पिटाई कर दी थी।

'बीबीसी हिंदी' प्रकाशित ख़बर

इसके अलावा इस पूरे मामले को पाकिस्तान के एक न्यूज़ चैनल दुनिया न्यूज़ ने भी कवर किया था। दुनिया न्यूज़ के मुताबिक जब यह प्रदर्शन उग्र होने लगा तो पुलिस ने जवाबी कार्रवाई करते हुए लोगों पर लाठी चार्च की थी। इस घटना के बाद पाकिस्तान सरकार ने 5 पुलिस कर्मचारियों को को निलंबित भी किया था। 

पाकिस्तान की न्यूज़ साइट पर प्रकाशित ख़बर
सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें

अपनी राय बतायें

असत्य से और खबरें

ख़ास ख़बरें

सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें