loader

सेना प्रमुख ने कहा, हर तरह की चुनौतियों का सामना करने को तैयार

जम्मू-कश्मीर में मौजूद तनाव और सीमा पार पाकिस्तानी सेना की बढ़ी गतिवधियों के बीच थल सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने कहा है कि भारतीय सेना जम्मू-कश्मीर में हर तरह की चुनौतियों का सामना करने को तैयार है। 
रावत ने नियंत्रण रेखा पर पाकिस्तान के सैनिकों के जमावड़े और पड़ोसी देश की सेना की बढ़ी हुई गतिविधियों पर कहा कि इस पर चिंता की बात नहीं है। भारतीय सेना हर तरह की चुनौतियों से निपटने में सक्षम है। उन्होंने यह भी कहा कि सेना ने एहतियात के तौर पर ज़रूरी कदम उठाए हैं। 
जनरल रावत ने कहा कि यदि पाकिस्तानी सेना नियंत्रण रेखा को सक्रिय करती है तो यह उसका फ़ैसला है। 

पाकिस्तानी सेना की गतिविधियाँ सामान्य हैं, हर कोई अपने हिसाब से और अपनी ज़रूरतों के मुताबिक़ ही तैयारियाँ करता है, इस पर हमें चिंतित होने की ज़रूरत नहीं है।


जनरल बिपिन रावत, प्रमुख, भारतीय सेना

बता दें कि पाकिस्तानी सेना ने सीमा के पास बड़ी तादाद में सैनिक तो तैनात कर ही रखे हैं, उसने वहाँ काफ़ी हथियार और लड़ाई के उपकरण जमा कर लिया है। यह ऐसे समय हुआ है जब कश्मीर में अनुच्छेद 370 में बदलाव करने के बाद दोनों देशों के बीच तनाव बढ़ा है। जनरल रावत ने इस पर कहा कि यदि पाकिस्तानी सेना नियंत्रण रेखा को सक्रिय करना चाहती है तो यह उसका फ़ैसला है। 
यह कहा जा रहा है कि कश्मीर के मामले में बौखलाया पाकिस्तान सीमा पर कई तरह की गड़बड़ियाँ कर सकता है। वह फायरिंग की आड़ में घुसपैठियों को भारतीय सीमा के अंदर घुसा सकता है। इसके अलावा वह जम्मू-कश्मीर में सक्रिय आतंकवादियों को शह देकर विस्फोट करवा सकता है या किसी जगह हमले करवा सकता है। यह भी समझा जाता है कि सीमा पर गोलाबारी बढ़ने से लोगों का ध्यान उस ओर चला जाएगा और तमाम मुद्दे गौण हो जाए, पाकिस्तान की यह रणनीति भी हो सकती है। 
Satya Hindi Logo लोकतंत्र तभी बचेगा, जब सच बचेगा! गोदी मीडिया के इस दौर में पत्रकारिता को राजनीति और कारपोरेट दबावों से मुक्त रखने के लिए 'सत्य हिन्दी' के साथ आइए। नीचे दी गयी कोई भी रक़म जो आप चुनना चाहें, उस पर क्लिक करें। यह पूरी तरह स्वैच्छिक है। आप द्वारा दी गयी राशि आपकी ओर से स्वैच्छिक सेवा शुल्क (Voluntary Service Fee) होगा, जिसकी जीएसटी रसीद हम आपको भेजेंगे।
सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें

अपनी राय बतायें

देश से और खबरें

ताज़ा ख़बरें

सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें