loader

जानिए, कोरोना वैक्सीन के लिए क्या है प्रक्रिया, कैसे कराएँ रजिस्ट्रेशन

कोरोना टीकाकरण के दूसरे चरण का अभियान शुरू हो गया। इस चरण में किनको टीका लगाया जाएगा, कहाँ टीका लगाया जाएगा, ऐसी जानकारियाँ तो आ चुकी हैं, लेकिन क्या आपको पता है कि टीका लगवाने की पूरी प्रक्रिया क्या है? कैसे रजिस्ट्रेशन कराना है, कैसे अप्वाइंटमेंट लेना है और क्या-क्या नियम-क़ायदे हैं? आइए हम आपको बताते हैं यह पूरी प्रक्रिया क्या है जिससे कि आप अनावश्यक परेशानी से बच सकें। 

उस प्रक्रिया को जानने से पहले यह जान लें कि टीकाकरण अभियान के इस दूसरे चरण में 60 से ज़्यादा उम्र के लोगों और कोमोर्बिडिटीज वाले 45 से ज़्यादा उम्र के लोगों को ही वैक्सीन दी जाएगी। कोमोर्बिडिटीज से मतलब वैसे लोगों से है जो एक साथ कई बीमारियों से जूझ रहे हों और कोरोना जैसे वायरस के प्रति संवेदनशील हों। 60 वर्ष से अधिक आयु वालों को केवल अपनी उम्र के लिए पहचान पत्र दिखाना होगा, जबकि 45 से अधिक आयु के लोगों में कोमोर्बिडिटीज के मामले में एक पंजीकृत डॉक्टर से हस्ताक्षरित एक फॉर्म देना होगा।

ताज़ा ख़बरें

अब ऐसे लोग यानी लाभार्थी एक मोबाइल से ख़ुद का और तीन अन्य लोगों का रजिस्ट्रेशन करा सकता है। इसके लिए सुबह 9 बजे से दोपहर के तीन बजे तक का समय है। एप्वाइंटमेंट 3 बजे से पहले कभी भी लिया जा सकता है यदि उपलब्ध हो तो। लोगों को यह भी छूट है कि वे किसी भी राज्य में टीकाकरण केंद्र, तारीख़ और समय का चयन करें। यानी यूपी में रजिस्ट्रेशन कराने वाला व्यक्ति तमिलनाडु में भी टीका लगवा सकता है। 

कैसे कराएँ रजिस्ट्रेशन?

  • वैक्सीन लगवाने वाले को cowin.gov.in पर लॉग इन करना होगा।
  •  मोबाइल नंबर डालना होगा। एक बार का पासवर्ड नंबर भेजा जाता है। 
  • एक बार ओटीपी सत्यापित हो जाने के बाद, लाभार्थी को चार जानकारियाँ देनी होंगी।
  • वह फोटो आईडी जिसे वह टीकाकरण के समय दिखाना चाहता है; उम्र और लिंग।
  • और क्या लाभार्थी पहले से कोमोर्बिडिटीज से पीड़ित है या नहीं?

ये जानकारियाँ भरने के बाद लाभार्थी को रजिस्ट्रेशन करने के लिए कहा जाएगा। रजिस्ट्रेशन पूरा होने के बाद एक मैसेज मिलेगा। इसके बाद तीन और व्यक्तियों का पंजीकरण करने का विकल्प दिया जाएगा, जिनमें से प्रत्येक के लिए तीन विवरण दर्ज करने होंगे: फोटो आईडी प्रूफ; आईडी प्रूफ नंबर; नाम, आयु और लिंग। अप्वाइंटमेंट बुक करने से पहले आवेदक के पास किसी लाभार्थी को हटाने का विकल्प भी होगा।

टीकाकरण के समय तक पंजीकरण और अप्वाइंटमेंट के सभी रिकॉर्ड आवेदक द्वारा सुधारे या हटाए जा सकते हैं।

अप्वाइंटमेंट की प्रक्रिया

  • लाभार्थी को शेड्यूल अपॉइंटमेंट पर क्लिक करना होगा, और तब वेबसाइट टीकाकरण के लिए बुक अपॉइंटमेंट पर ले जाएगी।
  • इसके बाद लाभार्थी को राज्य, ज़िला, ब्लॉक और पिन कोड चुनना होगा। इन्हें चुने जाने के बाद सिस्टम टीकाकरण केंद्रों की एक सूची दिखाएगा।
  • एक बार जब लाभार्थी इन विकल्पों में से टीकाकरण केंद्र का चयन कर लेता है तो सिस्टम फिर तारीख और उपलब्ध स्लॉट दिखाता है और इसके अलावा अगले हफ़्ते का विकल्प दिखाता है। 
  • जब लाभार्थी 'बुक' पर क्लिक करता है तो एक 'अप्वाइंटमेंट पुष्टि' का पेज खुलता है। अंतिम चरण में लाभार्थी को विवरण का सत्यापन करने के बाद ‘पुष्टि’ पर क्लिक करना होगा। 
  • एक बार पुष्टि हो जाने के बाद पेज पर ‘अप्वाइंटमेंट सक्सेसफुल’ लिखा आएगा।

क्या बिना रजिस्ट्रेशन टीका संभव?

क्या को-विन पर बिना रजिस्ट्रेशन वैक्सीन लगाई जा सकती है? राज्यों में एक निश्चित संख्या में ऐसी सुविधा होगी कि सीधे केंद्र पर लोग आएँ और वहीं पर रजिस्ट्रेशन, अप्वाइंटमेंट, सत्यापन और टीकाकरण सभी एक ही दिन में हो जाए। इसके लिए लाभार्थियों को ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन की आवश्यकता नहीं होगी। हालाँकि, ऐसे केंद्र गिने-चुने ही होंगे।

देश से और ख़बरें

अब दूसरी खुराक के लिए क्या प्रक्रिया है?

यदि आपने पहली खुराक ले ली तो क्या दूसरी खुराक के लिए इसी प्रक्रिया से गुजरना होगा? इस सवाल का जवाब है नहीं। लाभार्थी को अपने आप उसी केंद्र पर दूसरी खुराक के लिए एक निर्धारित अप्वाइंटमेंट दी जाएगी। हालाँकि, यदि लाभार्थी दूसरे शहर में चला गया है तो अप्वाइंटमेंट को उस शहर के निकटतम टीकाकरण केंद्र में पुनर्निर्धारित किया जा सकता है।

how to register for coronavirus vaccine on co-win website - Satya Hindi

कितने दिन में दूसरी खुराक ज़रूरी?

बता दें कि दूसरी खुराक 29 दिन में लेनी होगी। हालाँकि यह भी अनिवार्य नहीं है। राज्यों को दिए गए गाइडलाइंस के अनुसार, दूसरी खुराक एक ही केंद्र में 29 दिन पर निर्धारित की जाएगी। हालाँकि, लाभार्थी के पास 29वें और 42वें दिनों के बीच किसी भी दिन दूसरी खुराक के लिए स्लॉट बदलने का विकल्प होगा।

सत्य हिन्दी ऐप डाउनलोड करें

गोदी मीडिया और विशाल कारपोरेट मीडिया के मुक़ाबले स्वतंत्र पत्रकारिता का साथ दीजिए और उसकी ताक़त बनिए। 'सत्य हिन्दी' की सदस्यता योजना में आपका आर्थिक योगदान ऐसे नाज़ुक समय में स्वतंत्र पत्रकारिता को बहुत मज़बूती देगा। याद रखिए, लोकतंत्र तभी बचेगा, जब सच बचेगा।

नीचे दी गयी विभिन्न सदस्यता योजनाओं में से अपना चुनाव कीजिए। सभी प्रकार की सदस्यता की अवधि एक वर्ष है। सदस्यता का चुनाव करने से पहले कृपया नीचे दिये गये सदस्यता योजना के विवरण और Membership Rules & NormsCancellation & Refund Policy को ध्यान से पढ़ें। आपका भुगतान प्राप्त होने की GST Invoice और सदस्यता-पत्र हम आपको ईमेल से ही भेजेंगे। कृपया अपना नाम व ईमेल सही तरीक़े से लिखें।
सत्य अनुयायी के रूप में आप पाएंगे:
  1. सदस्यता-पत्र
  2. विशेष न्यूज़लेटर: 'सत्य हिन्दी' की चुनिंदा विशेष कवरेज की जानकारी आपको पहले से मिल जायगी। आपकी ईमेल पर समय-समय पर आपको हमारा विशेष न्यूज़लेटर भेजा जायगा, जिसमें 'सत्य हिन्दी' की विशेष कवरेज की जानकारी आपको दी जायेगी, ताकि हमारी कोई ख़ास पेशकश आपसे छूट न जाय।
  3. 'सत्य हिन्दी' के 3 webinars में भाग लेने का मुफ़्त निमंत्रण। सदस्यता तिथि से 90 दिनों के भीतर आप अपनी पसन्द के किसी 3 webinar में भाग लेने के लिए प्राथमिकता से अपना स्थान आरक्षित करा सकेंगे। 'सत्य हिन्दी' सदस्यों को आवंटन के बाद रिक्त बच गये स्थानों के लिए सामान्य पंजीकरण खोला जायगा। *कृपया ध्यान रखें कि वेबिनार के स्थान सीमित हैं और पंजीकरण के बाद यदि किसी कारण से आप वेबिनार में भाग नहीं ले पाये, तो हम उसके एवज़ में आपको अतिरिक्त अवसर नहीं दे पायेंगे।
सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें

अपनी राय बतायें

देश से और खबरें

ताज़ा ख़बरें

सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें