loader

सांसद नवनीत राणा के अंडरवर्ल्ड कनेक्शन हैंः संजय राउत

शिवसेना नेता संजय राउत ने आरोप लगाया है कि अमरावती के सांसद नवनीत राणा ने बिल्डर और फिल्म फाइनेंसर यूसुफ लकड़ावाला से 80 लाख रुपये का कर्ज लिया, जिनकी हाल ही में जेल में मौत हो गई थी। राउत के अनुसार, लकड़ावाला को प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने 200 करोड़ के मनी लॉन्ड्रिंग के एक मामले में और डी-कंपनी के साथ उसके संबंधों के लिए गिरफ्तार किया था। राउत ने इस मामले की ईडी से जांच कराने की मांग की और कहा कि यह राष्ट्रीय सुरक्षा का सवाल है। राउत का कहना है कि ईडी ने यूसुफ लकड़वाला के तमाम खातों की जांच की, पैसा कहां से आया, कहां गया लेकिन ईडी ने यूसुफ लकड़वाला द्वारा नवनीत राणा को भेजे गए पैसे की जांच नहीं की। ईडी उनसे कब पूछताछ करेगी? कोई नवनीत राणा को बचाने की कोशिश कर रहा है। इससे साफ है कि हाल ही में महाराष्ट्र में हुई घटनाओं में अंडरवर्ल्ड का कनेक्शन था।
ताजा ख़बरें

'हनुमान चालीसा' मामले में शिवसेना और राणा दंपती के बीच विवाद छिड़ गया है। नवनीत राणा औऱ उनके विधायक पति रवि राणा ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के पैतृक निवास मातोश्री के बाहर हनुमान चालीसा पढ़ने की घोषणा की थी। शिवसैनिकों ने जब इसका जबरदस्त विरोध किया तो राणा दंपती ने अपनी घोषणा वापस ले ली। बाद में पुलिस ने उनके खिलाफ दो एफआईआर दर्ज की। उन पर राजद्रोह का आरोप भी लगाया गया है। उसके खिलाफ उन्होंने बॉम्बे हाईकोर्ट में याचिका दायर की लेकिन हाईकोर्ट ने उनकी याचिका खारिज करते हुए कहा कि राज्य सरकार को ऐसा करने का अधिकार है। राणा दंपती इस समय जेल में हैं और निचली अदालत में उनके मामले की सुनवाई हो रही है।

पुलिस आयुक्त को पत्र

सांसद नवनीत राणा ने खुद को अनुसूचित जाति का बताते हुए मुंबई के पुलिस कमिश्नर को पत्र लिखा है कि संजय राउत एक दलित को परेशान कर रहे हैं। नवनीत ने संजय राउत के खिलाफ मामला दर्ज करने की मांग की है। नवनीत राणा ने कहा कि राउत अचानक मेरे खिलाफ बोल रहे हैं। उन्होंने न्यूज चैनलों को दिए एक इंटरव्यू में मेरी बदनामी की है। उन्होंने मुझे और मेरे पति को बंटी और बबली कहकर हमारा अपमान किया है।बता दें हाल ही में संजय राउत ने नवनीत राणा पर आरोप लगाया था कि उन्होंने फर्जी जाति प्रमाणपत्र हासिल करके रिजर्व सीट से लोकसभा का चुनाव लड़ा था। संजय राउत ने दावा किया था कि इसके प्रमाण मौजूद हैं और समय आने पर सार्वजनिक किए जाएंगे। नवनीत राणा ने इस तथ्य का अभी खंडन नहीं किया है लेकिन वो ये आरोप जरूर लगा रही हैं कि शिवसेना नेता संजय राउत उन्हें दलित होने के नाते परेशान कर रहे हैं।
सत्य हिन्दी ऐप डाउनलोड करें

गोदी मीडिया और विशाल कारपोरेट मीडिया के मुक़ाबले स्वतंत्र पत्रकारिता का साथ दीजिए और उसकी ताक़त बनिए। 'सत्य हिन्दी' की सदस्यता योजना में आपका आर्थिक योगदान ऐसे नाज़ुक समय में स्वतंत्र पत्रकारिता को बहुत मज़बूती देगा। याद रखिए, लोकतंत्र तभी बचेगा, जब सच बचेगा।

नीचे दी गयी विभिन्न सदस्यता योजनाओं में से अपना चुनाव कीजिए। सभी प्रकार की सदस्यता की अवधि एक वर्ष है। सदस्यता का चुनाव करने से पहले कृपया नीचे दिये गये सदस्यता योजना के विवरण और Membership Rules & NormsCancellation & Refund Policy को ध्यान से पढ़ें। आपका भुगतान प्राप्त होने की GST Invoice और सदस्यता-पत्र हम आपको ईमेल से ही भेजेंगे। कृपया अपना नाम व ईमेल सही तरीक़े से लिखें।
सत्य अनुयायी के रूप में आप पाएंगे:
  1. सदस्यता-पत्र
  2. विशेष न्यूज़लेटर: 'सत्य हिन्दी' की चुनिंदा विशेष कवरेज की जानकारी आपको पहले से मिल जायगी। आपकी ईमेल पर समय-समय पर आपको हमारा विशेष न्यूज़लेटर भेजा जायगा, जिसमें 'सत्य हिन्दी' की विशेष कवरेज की जानकारी आपको दी जायेगी, ताकि हमारी कोई ख़ास पेशकश आपसे छूट न जाय।
  3. 'सत्य हिन्दी' के 3 webinars में भाग लेने का मुफ़्त निमंत्रण। सदस्यता तिथि से 90 दिनों के भीतर आप अपनी पसन्द के किसी 3 webinar में भाग लेने के लिए प्राथमिकता से अपना स्थान आरक्षित करा सकेंगे। 'सत्य हिन्दी' सदस्यों को आवंटन के बाद रिक्त बच गये स्थानों के लिए सामान्य पंजीकरण खोला जायगा। *कृपया ध्यान रखें कि वेबिनार के स्थान सीमित हैं और पंजीकरण के बाद यदि किसी कारण से आप वेबिनार में भाग नहीं ले पाये, तो हम उसके एवज़ में आपको अतिरिक्त अवसर नहीं दे पायेंगे।
सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें

अपनी राय बतायें

देश से और खबरें

ताज़ा ख़बरें

सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें