loader

शिवराज के 13 मंत्री हारे, दो को 'नोटा' ने हरवाया

मध्य प्रदेश के विधानसभा चुनाव में संभावनाओं के अनुसार शिवराज सरकार के 13 मंत्री चुनाव हार गए। दो मंत्रियों की करारी हार में 'नन ऑफ़ द अवब' ('नोटा') का रोल रहा। कोई मतदाता किसी को वोट न देना चाहे तो यह विकल्प चुनता है। पिछले चुनाव में 10 मंत्रियों को हार का मुंह देखना पड़ा था।शिवराज कैबिनेट के जो सदस्य चुनाव हारे उनमें सबसे अहम नाम वित्त मंत्री जयंत मलैया का रहा। उनके अलावा उमाशंकर गुप्ता, रूस्तम सिंह, अर्चना चिटनिस, अंतर सिंह आर्य, जयभान सिंह पवैया, ओमप्रकाश धुर्वे, नारायण सिंह कुशवाहा, लाल सिंह आर्य, दीपक जोशी, शरद जैन, ललिता यादव और बालकृष्ण नामदेव भी हारने वाले मंत्रियों में शामिल रहे।बुरहानपुर सीट पर महिला एवं बाल विकास मंत्री चिटनिस की कांग्रेस के बागी राणा विक्रम सिंह से 5,120 वोट से हार हुई। इस सीट पर 5726 वोटरों ने 'नोटा' का बटन दबाया। इसी तरह से जबलपुर उत्तर में मंत्री शरद जैन 578 वोट से हारे जबकि 1209 मतदाताओं ने यहां 'नोटा' का उपयोग किया।

मध्य प्रदेश में 'नोटा' ने इन नेताओं को भी हराया

madhya pradesh shivraj cabint 13 ministers lost in assembly elections - Satya Hindi

कांग्रेस के दिग्गज भी हारे चुनाव

चुरहट में अजय सिंह की हार के अलावा अमरपाटन में विधानसभा के उपाध्यक्ष राजेन्द्र सिंह और 5 बार के विधायक एवं कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष रामनिवास रावत की गुना जिले के विजयपुर में करारी हार ने प्रेक्षकों को बेहद चौंकाया।

'सत्य हिन्दी'
की ताक़त बनिए

गोदी मीडिया और विशाल कारपोरेट मीडिया के मुक़ाबले स्वतंत्र पत्रकारिता का साथ दीजिए और उसकी ताक़त बनिए। 'सत्य हिन्दी' की सदस्यता योजना में आपका आर्थिक योगदान ऐसे नाज़ुक समय में स्वतंत्र पत्रकारिता को बहुत मज़बूती देगा। याद रखिए, लोकतंत्र तभी बचेगा, जब सच बचेगा।

नीचे दी गयी विभिन्न सदस्यता योजनाओं में से अपना चुनाव कीजिए। सभी प्रकार की सदस्यता की अवधि एक वर्ष है। सदस्यता का चुनाव करने से पहले कृपया नीचे दिये गये सदस्यता योजना के विवरण और Membership Rules & NormsCancellation & Refund Policy को ध्यान से पढ़ें। आपका भुगतान प्राप्त होने की GST Invoice और सदस्यता-पत्र हम आपको ईमेल से ही भेजेंगे। कृपया अपना नाम व ईमेल सही तरीक़े से लिखें।
सत्य अनुयायी के रूप में आप पाएंगे:
  1. सदस्यता-पत्र
  2. विशेष न्यूज़लेटर: 'सत्य हिन्दी' की चुनिंदा विशेष कवरेज की जानकारी आपको पहले से मिल जायगी। आपकी ईमेल पर समय-समय पर आपको हमारा विशेष न्यूज़लेटर भेजा जायगा, जिसमें 'सत्य हिन्दी' की विशेष कवरेज की जानकारी आपको दी जायेगी, ताकि हमारी कोई ख़ास पेशकश आपसे छूट न जाय।
  3. 'सत्य हिन्दी' के 3 webinars में भाग लेने का मुफ़्त निमंत्रण। सदस्यता तिथि से 90 दिनों के भीतर आप अपनी पसन्द के किसी 3 webinar में भाग लेने के लिए प्राथमिकता से अपना स्थान आरक्षित करा सकेंगे। 'सत्य हिन्दी' सदस्यों को आवंटन के बाद रिक्त बच गये स्थानों के लिए सामान्य पंजीकरण खोला जायगा। *कृपया ध्यान रखें कि वेबिनार के स्थान सीमित हैं और पंजीकरण के बाद यदि किसी कारण से आप वेबिनार में भाग नहीं ले पाये, तो हम उसके एवज़ में आपको अतिरिक्त अवसर नहीं दे पायेंगे।
सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें

अपनी राय बतायें

मध्य प्रदेश से और खबरें

ताज़ा ख़बरें

सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें