loader

दिल्ली: जासूसी मामले में सड़क पर उतरे युवक कांग्रेस कार्यकर्ता

पत्रकारों, नेताओं की फ़ोन टैपिंग के मामले में युवक कांग्रेस सड़क पर उतर आई है। युवक कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने मंगलवार को दिल्ली में राष्ट्रीय अध्यक्ष श्रीनिवास बीवी के नेतृत्व में जोरदार प्रदर्शन किया है। इस दौरान कार्यकर्ताओं ने हाथ में पोस्टर भी लिए हुए थे, जिनमें लिखा था चौकीदार ही जासूस है। 

श्रीनिवास बीवी ने ट्वीट कर कहा है कि न तो ये युवा खामोश बैठेंगे और न ही ये देश कभी प्रधानमंत्री को माफ़ करेगा और ये जासूसी कांड सरकार के कफ़न में आखिरी कील साबित होगा। 

श्रीनिवास बीवी के नेतृत्व में उतरे कार्यकर्ताओं ने मांग की कि इस मामले की जांच के लिए संयुक्त संसदीय समिति बनाई जानी चाहिए। प्रदर्शन में सैकड़ों कार्यकर्ता जुटे। 

ताज़ा ख़बरें

प्रेस कॉन्फ्रेन्स करेंगे बीजेपी-कांग्रेस

पेगासस मामले में बीजेपी और कांग्रेस देश भर में प्रेस कॉन्फ्रेन्स करने जा रहे हैं। कांग्रेस 21 जुलाई को देश के सभी राज्यों में इस मसले पर प्रेस कॉन्फ्रेन्स करेगी जबकि 22 जुलाई को उसकी राज्य इकाइयां राजभवन के आगे धरना देंगी। 

कांग्रेस ने संसद में इस मुद्दे को जोर-शोर से उठाया है और इस वजह से संसद की कार्यवाही कई बार स्थगित करनी पड़ी है। कांग्रेस समेत अन्य विपक्षी दलों का कहना है कि सरकार पत्रकारों, नेताओं की जासूसी करवा रही है जबकि सरकार ने इन आरोपों को खारिज किया है।

बीजेपी भी देगी जवाब 

दूसरी ओर, इस मामले को लेकर बीजेपी भी विपक्ष के आरोपों का जोरदार जवाब देने जा रही है। बीजेपी इस मुद्दे पर आक्रामक ढंग से जवाब देने के लिए अपने नेताओं को मैदान में उतारेगी। इसके तहत जिन राज्यों में बीजेपी की सरकार है, वहां पर उसके मुख्यमंत्री इस मामले में प्रेस कॉन्फ्रेन्स करेंगे जबकि जिन राज्यों में वह विपक्ष में है, वहां उसके नेता विपक्ष इस मुद्दे को उठाएंगे। 

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस मामले में मंगलवार को प्रेस कॉन्फ्रेन्स की है। सोमवार को भी बीजेपी ने पूर्व केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद को मैदान में उतारा था। 

राजनीति से और ख़बरें

टीएमसी ने भी किया प्रदर्शन

टीएमसी ने इस मुद्दे पर मंगलवार को संसद के बाहर गांधी प्रतिमा के बाहर जोरदार प्रदर्शन किया। महुआ मोइत्रा सहित कई सांसद इस मुद्दे पर हाथ में प्लेकॉर्ड लेकर आए। इनमें लिखा था कि लोगों की निगरानी करने के काम को बंद किया जाए और जासूसी का गुजरात मॉडल अब राष्ट्रीय स्तर पर आ चुका है। 
Indian Youth Congress protest on pegasus spyware controversy - Satya Hindi

टीएमसी के नेताओं ने न्यूज़ एजेंसी एएनआई के साथ बातचीत में कहा कि प्रधानमंत्री को संसद में आकर कहना चाहिए कि पेगासस के साथ हमारा कोई संबंध नहीं है। टीएमसी के राष्ट्रीय महासचिव और ममता बनर्जी के सांसद भतीजे अभिषेक बनर्जी का भी नाम उन लोगों में है, जिनकी जासूसी की गई। टीएमसी ने इस मामले के सामने आने के बाद केंद्र सरकार की आलोचना की है।

सत्य हिन्दी ऐप डाउनलोड करें

गोदी मीडिया और विशाल कारपोरेट मीडिया के मुक़ाबले स्वतंत्र पत्रकारिता का साथ दीजिए और उसकी ताक़त बनिए। 'सत्य हिन्दी' की सदस्यता योजना में आपका आर्थिक योगदान ऐसे नाज़ुक समय में स्वतंत्र पत्रकारिता को बहुत मज़बूती देगा। याद रखिए, लोकतंत्र तभी बचेगा, जब सच बचेगा।

नीचे दी गयी विभिन्न सदस्यता योजनाओं में से अपना चुनाव कीजिए। सभी प्रकार की सदस्यता की अवधि एक वर्ष है। सदस्यता का चुनाव करने से पहले कृपया नीचे दिये गये सदस्यता योजना के विवरण और Membership Rules & NormsCancellation & Refund Policy को ध्यान से पढ़ें। आपका भुगतान प्राप्त होने की GST Invoice और सदस्यता-पत्र हम आपको ईमेल से ही भेजेंगे। कृपया अपना नाम व ईमेल सही तरीक़े से लिखें।
सत्य अनुयायी के रूप में आप पाएंगे:
  1. सदस्यता-पत्र
  2. विशेष न्यूज़लेटर: 'सत्य हिन्दी' की चुनिंदा विशेष कवरेज की जानकारी आपको पहले से मिल जायगी। आपकी ईमेल पर समय-समय पर आपको हमारा विशेष न्यूज़लेटर भेजा जायगा, जिसमें 'सत्य हिन्दी' की विशेष कवरेज की जानकारी आपको दी जायेगी, ताकि हमारी कोई ख़ास पेशकश आपसे छूट न जाय।
  3. 'सत्य हिन्दी' के 3 webinars में भाग लेने का मुफ़्त निमंत्रण। सदस्यता तिथि से 90 दिनों के भीतर आप अपनी पसन्द के किसी 3 webinar में भाग लेने के लिए प्राथमिकता से अपना स्थान आरक्षित करा सकेंगे। 'सत्य हिन्दी' सदस्यों को आवंटन के बाद रिक्त बच गये स्थानों के लिए सामान्य पंजीकरण खोला जायगा। *कृपया ध्यान रखें कि वेबिनार के स्थान सीमित हैं और पंजीकरण के बाद यदि किसी कारण से आप वेबिनार में भाग नहीं ले पाये, तो हम उसके एवज़ में आपको अतिरिक्त अवसर नहीं दे पायेंगे।
सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें

अपनी राय बतायें

राजनीति से और खबरें

ताज़ा ख़बरें

सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें