loader
हैदराबाद में शनिवार को यशवंत सिन्हा के साथ केसीआर

केसीआर के पास पीएम मोदी के लिए वक्त नहीं, सिन्हा के लिए पलकें बिछा दीं

तेलंगाना के मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव ने शनिवार को पीएम मोदी के लिए तो टाइम नहीं निकाला लेकिन वो राष्ट्रपति पद के प्रत्याशी यशवंत सिन्हा को रिसीव करने हैदराबाद एयरपोर्ट जा पहुंचे। छह महीने में ऐसा तीसरी बार है, जब केसीआर ने पीएम मोदी का स्वागत अपने राज्य में आने पर नहीं किया।

तेलंगाना की राजधानी हैदराबाद में शनिवार को ताकत के दो बड़े प्रदर्शन देखने को मिल रहे हैं, जहां बीजेपी अपनी राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक कर रही है, जिसमें प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी शामिल होने वाले हैं।
ताजा ख़बरें
सत्तारूढ़ तेलंगाना राष्ट्र समिति (TRS) ने राष्ट्रपति चुनाव के लिए विपक्ष के उम्मीदवार यशवंत सिन्हा के समर्थन में एक रैली का आयोजन किया। यशवंत सिन्हा का टीआरएस अध्यक्ष और तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव ने बेगमपेट हवाई अड्डे पर स्वागत किया। उसी हवाईअड्डे पर जहां प्रधानमंत्री कुछ घंटे बाद उतरने वाले थे।

टीआरएस कार्यकर्ताओं ने हवाई अड्डे से जल विहार तक एक विशाल बाइक रैली निकाली, जहां सिन्हा की उम्मीदवारी के समर्थन में एक बैठक आयोजित की गई थी।

मुख्यमंत्री ने यशवंत सिन्हा का समर्थन किया और भारतीय राजनीति में गुणात्मक परिवर्तन लाने के लिए सांसदों से राष्ट्रपति चुनाव में उनका समर्थन करने का आग्रह किया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर तंज कसते हुए राव ने कहा- 

भारत की 5 ट्रिलियन डॉलर अर्थव्यवस्था का लक्ष्य बढ़ती महंगाई के साथ मजाक बन गया है। उन्होंने कहा, चीन में बात कम और कार्रवाई ज्यादा होती है, इसलिए उसकी गतिमान अर्थव्यवस्था का नतीजा है। यहां सिर्फ बातें हैं, काम नहीं है। इसलिए कोई नतीजा नहीं निकलता है। मेक इन इंडिया एक बड़ा झूठ है। लोग अपनी नौकरी खो रहे हैं और मजदूर सड़क पर हैं।


-के. चंद्रेशखर राव, मुख्यमंत्री, तेलंगाना

यशवंत सिन्हा 18 जुलाई को होने वाले राष्ट्रपति चुनाव के लिए उनका समर्थन लेने के लिए एआईएमआईएम और कांग्रेस नेताओं से अलग-अलग मुलाकात करने वाले हैं। सिन्हा का कहना है कि अगर वह राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) की तुलना में राष्ट्रपति के रूप में चुने जाते हैं तो वह "अधिक संवैधानिक" होंगे। एनडीए की उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू हैं

शहर की सड़कों पर पोस्टर वार छिड़ गया है। बीजेपी ने जहां केंद्र की उपलब्धियों को दर्शाने वाले कटआउट और बैनर लगाए हैं, वहीं टीआरएस ने केसीआर और यशवंत सिन्हा के पोस्टर लगाए हैं।

छह महीने में यह तीसरी बार है जब केसीआर हवाई अड्डे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगवानी नहीं करेंगे। इससे पहले, वह मई में बेंगलुरु गए थे, जब पीएम मोदी इंडियन स्कूल ऑफ बिजनेस में 20 वें वार्षिक समारोह में भाग लेने के लिए राज्य का दौरा किया था। राव फरवरी में भी प्रधान मंत्री से मिलने से बचते रहे जब वह "समानता की मूर्ति" का उद्घाटन करने के लिए हैदराबाद में थे। 
राजनीति से और खबरें

मुख्यमंत्री 2024 के आम चुनाव सहित आगामी चुनावों में बीजेपी से मुकाबला करने के लिए एक विपक्षी गठबंधन बनाने के प्रयासों का नेतृत्व कर रहे हैं।रविवार दोपहर को प्रधानमंत्री हैदराबाद के परेड मैदान में एक जनसभा को संबोधित करेंगे।

सत्य हिन्दी ऐप डाउनलोड करें

गोदी मीडिया और विशाल कारपोरेट मीडिया के मुक़ाबले स्वतंत्र पत्रकारिता का साथ दीजिए और उसकी ताक़त बनिए। 'सत्य हिन्दी' की सदस्यता योजना में आपका आर्थिक योगदान ऐसे नाज़ुक समय में स्वतंत्र पत्रकारिता को बहुत मज़बूती देगा। याद रखिए, लोकतंत्र तभी बचेगा, जब सच बचेगा।

नीचे दी गयी विभिन्न सदस्यता योजनाओं में से अपना चुनाव कीजिए। सभी प्रकार की सदस्यता की अवधि एक वर्ष है। सदस्यता का चुनाव करने से पहले कृपया नीचे दिये गये सदस्यता योजना के विवरण और Membership Rules & NormsCancellation & Refund Policy को ध्यान से पढ़ें। आपका भुगतान प्राप्त होने की GST Invoice और सदस्यता-पत्र हम आपको ईमेल से ही भेजेंगे। कृपया अपना नाम व ईमेल सही तरीक़े से लिखें।
सत्य अनुयायी के रूप में आप पाएंगे:
  1. सदस्यता-पत्र
  2. विशेष न्यूज़लेटर: 'सत्य हिन्दी' की चुनिंदा विशेष कवरेज की जानकारी आपको पहले से मिल जायगी। आपकी ईमेल पर समय-समय पर आपको हमारा विशेष न्यूज़लेटर भेजा जायगा, जिसमें 'सत्य हिन्दी' की विशेष कवरेज की जानकारी आपको दी जायेगी, ताकि हमारी कोई ख़ास पेशकश आपसे छूट न जाय।
  3. 'सत्य हिन्दी' के 3 webinars में भाग लेने का मुफ़्त निमंत्रण। सदस्यता तिथि से 90 दिनों के भीतर आप अपनी पसन्द के किसी 3 webinar में भाग लेने के लिए प्राथमिकता से अपना स्थान आरक्षित करा सकेंगे। 'सत्य हिन्दी' सदस्यों को आवंटन के बाद रिक्त बच गये स्थानों के लिए सामान्य पंजीकरण खोला जायगा। *कृपया ध्यान रखें कि वेबिनार के स्थान सीमित हैं और पंजीकरण के बाद यदि किसी कारण से आप वेबिनार में भाग नहीं ले पाये, तो हम उसके एवज़ में आपको अतिरिक्त अवसर नहीं दे पायेंगे।
सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें

अपनी राय बतायें

राजनीति से और खबरें

ताज़ा ख़बरें

सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें