loader

जम्मू-कश्मीर में आतंकवादी हमले की 10 बड़ी बातें 

जम्मू-कश्मीर के पुलावामा ज़िले में आतंकवादियों ने एक बड़ा हमला किया है। यह एक आत्मघाती हमला था। पुलिस का कहना है कि आतंकवादियों ने योजनाबद्ध तरीक़े से सोच-समझ कर यह विस्फोट किया है। 10 प्वाइंट में जानें क्या हुआ हमले में...
  1. जम्मू-कश्मीर के पुलावामा ज़िले में बड़े आत्मघाती हमले में सीआरपीएफ़ के 44 जवान शहीद हो गए हैं। कई जवान घायल हैं।
  2. प्रधानमंत्री मोदी ने कहा है कि मैं आतंकी संगठनों को कहना चाहता हूँ कि वह बहुत बड़ी ग़लती कर चुके हैं, उनको बहुत बड़ी क़ीमत चुकानी पड़ेगी।
  3. राहुल गाँधी ने कहा कि आतंकवाद के ख़िलाफ़ कार्रवाई पर कांग्रेस सरकार के साथ है। हम जवानों के साथ खड़े हैं। कोई भी ताक़त देश को तोड़ नहीं सकती।
  4. घटना के विरोध में भारत ने पाकिस्तान को पहले से प्रदान किए गए मोस्ट फेवर्ड नेशन यानी एमएफ़एन का दर्जा वापस ले लिया है।
  5. आतंकवादियों ने सीआरपीएफ़ के काफ़िले को निशाना तब बनाया जब यह अवंतीपोरा से गुजर रहा था। 
  6. समझा जाता है कि पुलवामा के रहने वाले संदिग्ध आतंकवादी आदिल अहमद डार ने विस्फोटकों से लदी गाड़ी सीआरपीएफ़ के बस से टकरा दी।
  7. सीआरपीएफ़ का कहना है कि सीआरपीएफ़ के काफ़िले में 78 गाड़ियाँ थीं और उसी में से एक बस इसकी चपेट में आ गई।
  8. सीआरपीएफ़ के महानिदेशक आर. आर. भटनागर ने कहा कि काफ़िले में लगभग 2500 जवान थे। यह काफ़िला जम्मू से श्रीनगर जा रहा था।
  9. घटना के बाद सुरक्षा बलों ने पूरे क्षेत्र को घेर लिया और संदिग्ध आतंकियों को ढूंढने का प्रयास तेज़ कर दिया गया।
  10. समाचार एजेन्सी एएनआई का कहना है कि पाकिस्तान स्थित आतंकवादी गुट जैश-ए-मुहम्मद ने हमले की ज़िम्मेदारी ली है। 
Satya Hindi Logo सत्य हिंदी सदस्यता योजना जल्दी आने वाली है।
सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें

अपनी राय बतायें

पुलवामा हमला से और खबरें

ताज़ा ख़बरें

सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें