loader

कोरोना: पंजाब में भी रात का कर्फ्यू, राजनीतिक सभाओं पर पाबंदी 

महाराष्ट्र और दिल्ली के बाद अब पंजाब में भी रात के कर्फ्यू की घोषणा की गई है। पंजाब सरकार ने कहा है कि रात के 9 बजे से सुबह के पाँच बजे तक पाबंदियाँ रहेंगी। यह आदेश 30 अप्रैल तक लागू रहेगा। इसके अलावा राजनीतिक सभाओं पर भी पाबंदी लगाई गई है। हालाँकि पंजाब के 12 ज़िलों में पहले से ही रात का कर्फ्यू लागू था और अब इसे बढ़ाकर पूरे राज्य में कर दिया गया है। 

यह फ़ैसला तब लिया गया है जब पंजाब में हाल के दिनों में कोरोना संक्रमण के मामले लगातार बढ़ते रहे हैं। पंजाब देश के उन राज्यों में से एक है जहाँ कोरोना संक्रमण के मामले सबसे सबसे ज़्यादा आते रहे हैं। 

ताज़ा ख़बरें

पंजाब सरकार ने जो ताज़ा आदेश निकाला है उसके तहत लोगों के इकट्ठे होने पर भी पाबंदी लगाई गई है। इसमें कहा गया है कि इंडोर यानी किसी बिल्डिंग या भवन परिसर में 50 से ज़्यादा लोग इकट्ठे नहीं हो सकते हैं और आउटडोर यानी बाहर 100 से ज़्यादा लोग एक साथ नहीं आ सकते हैं। पहले जहाँ मॉल में एक बार में 100 से ज़्यादा लोगों के जाने की मंजूरी नहीं थी अब उसमें कुछ राहत दी गई है और कहा गया है कि मॉल की हर दुकान में 10 से ज़्यादा लोग नहीं हो सकते हैं। 

इसके साथ ही सरकारी कार्यालयों में कर्मचारियों के लिए मास्क को भी ज़रूरी किया गया है। आदेश में साफ़-साफ़ कहा गया है कि इन निर्देशों का उल्लंघन करने वालों के ख़िलाफ़ सख़्त कार्रवाई की जाएगी।

मुख्यमंत्री कार्यालय की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि पहले की लगी पाबंदियों के अलावा अब नई पाबंदियों के आ जाने के बाद राज्य में स्कूलों और शैक्षणिक संस्थानों को 30 अप्रैल तक के लिए बंद कर दिया गया है।

दिल्ली में भी पाबंदी

एक दिन पहले ही मंगलवार को दिल्ली सरकार ने रात के कर्फ़्यू की घोषणा की थी। यह कर्फ्यू रात के 10 बजे से सुबह 5 बजे तक रहेगा। दिल्ली सरकार का यह फ़ैसला 30 अप्रैल तक के लिए लागू होगा। पिछले हफ़्ते ही अरविंद केजरीवाल ने कहा था कि अभी तक कोरोना को लेकर लॉकडाउन लगाने संबंधी किसी संभावना पर विचार नहीं किया गया है। 

लेकिन एक दिन पहले ही सरकार ने 100 से अधिक बेड वाले निजी अस्पतालों में कोरोना मरीज़ों के लिए 30 फ़ीसदी बेड आरक्षित करने के लिए कहा है। इन अस्पतालों में सामान्य बेड के अलावा आईसीयू बेड भी कोरोना मरीज़ों के लिए आरक्षित करने होंगे। दिल्ली में मंगलवार को 5100 से ज़्यादा संक्रमण के मामले आए हैं। 

punjab imposes night curfew an ban on gatherings - Satya Hindi

महाराष्ट्र में 28 मार्च से ही रात का कर्फ्यू

महाराष्ट्र सरकार ने 26 मार्च को ही घोषणा की दी थी कि 28 मर्च से रात का कर्फ्यू लगाया जाएगा। रात आठ बजे से लेकर सुबह 7 बजे तक पाबंदियाँ लगाई गई हैं। दिन में धारा 144 भी लगाई गई है जिसके तहक एक जगह एक समय में 5 से ज़्यादा लोग इकट्ठे नहीं हो सकते हैं। इसके अलावा सप्ताहांत पर भी लॉकडाउन लग जाएगा। मुख्यमंत्री उद्ध ठाकरे की अध्यक्षता में कैबिनेट बैठक में ये फ़ैसले लिए गए। 

punjab imposes night curfew an ban on gatherings - Satya Hindi

रविवार को मुंबई में हुई कैबिनेट बैठक में फ़ैसला किया गया कि मॉल, रेस्तरां और बार बगैरह एक बार फिर बंद कर दिए जाएंगे। हालांकि लोग इन जगहों से खाने-पीने की चीजें खरीद कर ले जा सकेंगे। इसके साथ ही अति आवश्यक सेवाएँ चालू रहेंगी। सरकारी दफ़्तर 50 फ़ीसदी क्षमता के साथ काम करेंगे, यानी आधे लोग ही काम करेंगे। लेकिन औद्योगिक ईकाइयाँ चालू रहेंगी और कामगारों के कामकाज पर जाने पर कोई रोक नहीं लगेगी। इसके साथ ही निर्माण कार्य चालू रहेंगे। 

बता दें कि महाराष्ट्र में मंगलवार को 55 हज़ार से ज़्यादा संक्रमण के मामले आए हैं। एक हफ़्ते से राज्य में हर रोज़ संक्रमण के मामले 50 हज़ार के आसपास आ रहे हैं। 

सत्य हिन्दी ऐप डाउनलोड करें

गोदी मीडिया और विशाल कारपोरेट मीडिया के मुक़ाबले स्वतंत्र पत्रकारिता का साथ दीजिए और उसकी ताक़त बनिए। 'सत्य हिन्दी' की सदस्यता योजना में आपका आर्थिक योगदान ऐसे नाज़ुक समय में स्वतंत्र पत्रकारिता को बहुत मज़बूती देगा। याद रखिए, लोकतंत्र तभी बचेगा, जब सच बचेगा।

नीचे दी गयी विभिन्न सदस्यता योजनाओं में से अपना चुनाव कीजिए। सभी प्रकार की सदस्यता की अवधि एक वर्ष है। सदस्यता का चुनाव करने से पहले कृपया नीचे दिये गये सदस्यता योजना के विवरण और Membership Rules & NormsCancellation & Refund Policy को ध्यान से पढ़ें। आपका भुगतान प्राप्त होने की GST Invoice और सदस्यता-पत्र हम आपको ईमेल से ही भेजेंगे। कृपया अपना नाम व ईमेल सही तरीक़े से लिखें।
सत्य अनुयायी के रूप में आप पाएंगे:
  1. सदस्यता-पत्र
  2. विशेष न्यूज़लेटर: 'सत्य हिन्दी' की चुनिंदा विशेष कवरेज की जानकारी आपको पहले से मिल जायगी। आपकी ईमेल पर समय-समय पर आपको हमारा विशेष न्यूज़लेटर भेजा जायगा, जिसमें 'सत्य हिन्दी' की विशेष कवरेज की जानकारी आपको दी जायेगी, ताकि हमारी कोई ख़ास पेशकश आपसे छूट न जाय।
  3. 'सत्य हिन्दी' के 3 webinars में भाग लेने का मुफ़्त निमंत्रण। सदस्यता तिथि से 90 दिनों के भीतर आप अपनी पसन्द के किसी 3 webinar में भाग लेने के लिए प्राथमिकता से अपना स्थान आरक्षित करा सकेंगे। 'सत्य हिन्दी' सदस्यों को आवंटन के बाद रिक्त बच गये स्थानों के लिए सामान्य पंजीकरण खोला जायगा। *कृपया ध्यान रखें कि वेबिनार के स्थान सीमित हैं और पंजीकरण के बाद यदि किसी कारण से आप वेबिनार में भाग नहीं ले पाये, तो हम उसके एवज़ में आपको अतिरिक्त अवसर नहीं दे पायेंगे।
सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें

अपनी राय बतायें

पंजाब से और खबरें

ताज़ा ख़बरें

सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें