loader
बुधवार को जाँच टीम के डॉक्टर को दौड़ा-दौड़ा कर पीटा गया। वीडियो ग्रैब

इंदौर: डाॅक्टरों को दौड़ा-दौड़ाकर पीटने वाले 4 अभियुक्तों पर लगा रासुका, 7 की तलाश जारी

इंदौर में कोरोना संदिग्धों की जाँच के लिए पहुँचे स्वास्थ्य अमले में शामिल डाॅक्टरों और अन्य कर्मियों को दौड़ा-दौड़ाकर पीटने के आरोप में गिरफ्तार किये गये 7 अभियुक्तों में से 4 पर राष्ट्रीय सुरक्षा क़ानून (रासुका) के तहत कार्रवाई की गई है। इनके नाम मुहम्मद मुस्तफ़ा पिता का नाम - हाजी मुहम्मद इस्माइल उम्र 28 साल, मुहम्मद गुलरेज पिता का नाम - हाजी अब्दुल गनी उम्र 32 साल, सोयब उर्फ़ सोभी पिता का नाम - मुहम्मद मुख्तियार उम्र 36 साल और मज्जू उर्फ़ मजीद पिता का नाम - अब्दुल गफूर उम्र 48 साल है। ये सभी टाटपट्टी-बाखल इंदौर के रहने वाले हैं। 7 अन्य अभियुक्तों की तलाश जारी है। इस बीच इंदौर में कोरोना के 12 और नये रोगी मिले हैं। गुरुवार को दो और मौतें इंदौर में दर्ज हुई हैं।

बुधवार को इंदौर के टाटपट्टी बाखल और सिलावटपुरा में हंगामा हुआ था। टाटपट्टी बाखल में कोरोना संदिग्धों की जाँच के लिए जब टीम पहुँची तो मोहल्ले के लोगों ने डॉक्टरों से बहस की थी। बाद में देखते ही देखते भीड़ उग्र हो गई थी। धक्का-मुक्की और मारपीट के बाद पीछे हटते स्वास्थ्य दल पर भीड़ ने जमकर पथराव कर दिया था। अमले के लोग किसी तरह अपनी जान बचाकर भागे थे। कई लेगों को चोटें आयी थीं। अमले में शामिल महिला डाॅक्टर और आशा कार्यकर्ताओं के अनायास हमले से हाथ-पैर फूल गये थे। घटनाक्रम की देश भर में निंदा हुई थी। मुसलिम बाहुल्य ये बस्तियाँ कोरोना से ख़ासी प्रभावित हैं। क़रीब एक दर्जन प्रभावित बस्तियों को पूरी तरह से सील किया गया है।

ताज़ा ख़बरें

इंदौर ज़िला प्रशासन और प्रदेश की सरकार ने पूरे घटनाक्रम को बेहद गंभीरता के साथ लिया। भारी पुलिस बल मौक़े पर तैनात किया गया। अर्धसैनिक बल की टुकड़ियों को भी बुलाया गया। घटनाक्रम के बाद स्थानीय लोगों द्वारा बनाये गये वीडियो देखे गये। चश्मदीदों से भी वीडियो में नज़र आने वालों की शिनाख्त कराई गई।

इंदौर के डीआईजी हरिनारायण चारी मिश्रा के अनुसार वीडियो फुटेज और अन्य माध्यमों से हुई शिनाख्त के बाद पुलिस ने गुरुवार को चार लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। गिरफ्तार किये गये लोगों में पूरे घटनाक्रम को अंजाम देने में आगे रहने वाला मुख्य आरोपी भी शामिल है। दस अन्य उन लोगों की भी पहचान हो गई है, जिन्होंने स्वास्थ्य अमले और पुलिस पर हमला बोला तथा पत्थरबाज़ी की। उनकी खोजबीन पुलिस अभी कर रही है।

डीआईजी मिश्रा के अनुसार गिरफ्तार किये गये सभी आरोपियों पर शासकीय कार्य में बाधा डालने के साथ भादवि की धारा 186, 188 और 353 के तहत प्रकरण दर्ज किया गया है। उधर भाजपा विधायक और इंदौर की महापौर मालिनी गौड़ ने माँग की है कि स्वास्थ्य अमले पर जानलेवा हमला करने वालों के ख़िलाफ़ हत्या के प्रयास की धारा 307 भी लगाई जाए। प्रशासन ने जाँच के बाद ज़रूरी होने पर इस धारा को बढ़ाने का भरोसा महापौर को दिलाया है। 

मध्य प्रदेश से और ख़बरें

इंदौर में 60 घंटों में 49 नये रोगी मिले

पिछले 60 घंटों में इंदौर में कोरोना पाॅजिटिव 49 नये रोगी मिले हैं। मंगलवार को 17 और बुधवार को सुबह से देर रात तक 32 कोरोना पाॅजिटिव नये रोगी सामने आए। इस तरह से इंदौर में कोरोना पाॅजिटिव रोगियों का आँकड़ा अब 76 पर पहुँच गया है। अभी दो सौ के क़रीब नये सैंपलों की जाँच की रिपोर्ट आना बाक़ी है।

इस बीच इंदौर में बुधवार देर रात और गुरुवार सुबह कोरोना पीड़ित दो और रोगियों की मौतें भी हुई हैं। इन मौतें के बाद इंदौर में मौतों की संख्या पाँच हो गई है। जबकि उज्जैन में दो और खरगोन में एक व्यक्ति की मौत हो चुकी है। प्रदेश में कोरोना से मरने वालों की कुल संख्या 8 पहुँच गई है।

मध्य प्रदेश में कोरोना पाॅजिटिव रोगियों की फ़िलहाल कुल संख्या 99 है। इंदौर के बाद जबलपुर मे 8, उज्जैन में 6, भोपाल में चार, ग्वालियर और शिवपुरी में दो-दो और खरगोन में एक कोरोना पाॅजिटिव रोगी मिल चुका है।

'सत्य हिन्दी'
की ताक़त बनिए

गोदी मीडिया और विशाल कारपोरेट मीडिया के मुक़ाबले स्वतंत्र पत्रकारिता का साथ दीजिए और उसकी ताक़त बनिए। 'सत्य हिन्दी' की सदस्यता योजना में आपका आर्थिक योगदान ऐसे नाज़ुक समय में स्वतंत्र पत्रकारिता को बहुत मज़बूती देगा। याद रखिए, लोकतंत्र तभी बचेगा, जब सच बचेगा।

नीचे दी गयी विभिन्न सदस्यता योजनाओं में से अपना चुनाव कीजिए। सभी प्रकार की सदस्यता की अवधि एक वर्ष है। सदस्यता का चुनाव करने से पहले कृपया नीचे दिये गये सदस्यता योजना के विवरण को ध्यान से पढ़ें। आपका भुगतान प्राप्त होने की GST Invoice और सदस्यता प्रमाणपत्र हम आपको ईमेल से ही भेजेंगे। कृपया अपना नाम व ईमेल सही तरीक़े से लिखें।
सत्य अनुयायी के रूप में आप पाएंगे:
  1. सदस्यता-पत्र
  2. विशेष न्यूज़लेटर: 'सत्य हिन्दी' की चुनिंदा विशेष कवरेज की जानकारी आपको पहले से मिल जायगी। आपकी ईमेल पर समय-समय पर आपको हमारा विशेष न्यूज़लेटर भेजा जायगा, जिसमें 'सत्य हिन्दी' की विशेष कवरेज की जानकारी आपको दी जायेगी, ताकि हमारी कोई ख़ास पेशकश आपसे छूट न जाय।
  3. 'सत्य हिन्दी' के 3 webinars में भाग लेने का मुफ़्त निमंत्रण। सदस्यता तिथि से 90 दिनों के भीतर आप अपनी पसन्द के किसी 3 webinar में भाग लेने के लिए प्राथमिकता से अपना स्थान आरक्षित करा सकेंगे। 'सत्य हिन्दी' सदस्यों को आवंटन के बाद रिक्त बच गये स्थानों के लिए सामान्य पंजीकरण खोला जायगा। *कृपया ध्यान रखें कि वेबिनार के स्थान सीमित हैं और पंजीकरण के बाद यदि किसी कारण से आप वेबिनार में भाग नहीं ले पाये, तो हम उसके एवज़ में आपको अतिरिक्त अवसर नहीं दे पायेंगे।
संजीव श्रीवास्तव
सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें

अपनी राय बतायें

मध्य प्रदेश से और खबरें

ताज़ा ख़बरें

सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें