loader

तमिलनाडु : कोरोना से हुई डीएमके विधायक की मौत

तमिलनाडु से चुने गए द्रविड़ मुनेत्र कषगम (डीएमके) विधायक जे. अंबाजग़न की मौत कोरोना से हो गई। वे 62 साल के थे। 

डीएमके विधायक का इलाज डॉक्टर रेला इंस्टीच्यूट ऑफ़ मेडिकल सेंटर में चल रहा था। वहाँ वह न्यूमोनिया से जूझ रहे थे। बाद में उनके हृदय की रफ़्तार कम हो गई, जिसका असर उनके गुर्दे के कामकाज पर पड़ा। 

तमिलनाडु से और खबरें
अस्पताल ने बुधवार की सुबह एक बयान में कहा, कोविड19 न्यूमोनिया आज सुबह तेजी से बिगड़ी। वेंटीलेटर समेत हर तरह की स्वास्थ्य सुविधाएं मुहैया कराए जाने के बावजूद उनकी मौत बीमारी से हो गई। 
इसका मतलब यह है कि अस्पताल ने यह माना है कि अनबज़गन की मौत कोरोना की वजह से हुई है। 
अब तक तमिलनाडु में 34 हज़ार 914 पॉजिटिव केस आए, 307 लोगों की मौत हो चुकी है।

देश में 24 घंटे में 9985 नये पॉजिटिव मामले आए और 279 लोगों की मौत हुई। इसके साथ ही देश में 2 लाख 76 हज़ार 583 पॉजिटिव केस हुए, अब तक 7745 लोगों की मौत हुई। इसके अलावा

1 लाख 35 हज़ार 205 मरीज़ ठीक हुए और 1 लाख 33 हज़ार 632 सक्रिय केस हैं।

'सत्य हिन्दी'
की ताक़त बनिए

गोदी मीडिया और विशाल कारपोरेट मीडिया के मुक़ाबले स्वतंत्र पत्रकारिता का साथ दीजिए और उसकी ताक़त बनिए। 'सत्य हिन्दी' की सदस्यता योजना में आपका आर्थिक योगदान ऐसे नाज़ुक समय में स्वतंत्र पत्रकारिता को बहुत मज़बूती देगा। याद रखिए, लोकतंत्र तभी बचेगा, जब सच बचेगा।

नीचे दी गयी विभिन्न सदस्यता योजनाओं में से अपना चुनाव कीजिए। सभी प्रकार की सदस्यता की अवधि एक वर्ष है। सदस्यता का चुनाव करने से पहले कृपया नीचे दिये गये सदस्यता योजना के विवरण और Membership Rules & NormsCancellation & Refund Policy को ध्यान से पढ़ें। आपका भुगतान प्राप्त होने की GST Invoice और सदस्यता-पत्र हम आपको ईमेल से ही भेजेंगे। कृपया अपना नाम व ईमेल सही तरीक़े से लिखें।
सत्य अनुयायी के रूप में आप पाएंगे:
  1. सदस्यता-पत्र
  2. विशेष न्यूज़लेटर: 'सत्य हिन्दी' की चुनिंदा विशेष कवरेज की जानकारी आपको पहले से मिल जायगी। आपकी ईमेल पर समय-समय पर आपको हमारा विशेष न्यूज़लेटर भेजा जायगा, जिसमें 'सत्य हिन्दी' की विशेष कवरेज की जानकारी आपको दी जायेगी, ताकि हमारी कोई ख़ास पेशकश आपसे छूट न जाय।
  3. 'सत्य हिन्दी' के 3 webinars में भाग लेने का मुफ़्त निमंत्रण। सदस्यता तिथि से 90 दिनों के भीतर आप अपनी पसन्द के किसी 3 webinar में भाग लेने के लिए प्राथमिकता से अपना स्थान आरक्षित करा सकेंगे। 'सत्य हिन्दी' सदस्यों को आवंटन के बाद रिक्त बच गये स्थानों के लिए सामान्य पंजीकरण खोला जायगा। *कृपया ध्यान रखें कि वेबिनार के स्थान सीमित हैं और पंजीकरण के बाद यदि किसी कारण से आप वेबिनार में भाग नहीं ले पाये, तो हम उसके एवज़ में आपको अतिरिक्त अवसर नहीं दे पायेंगे।
सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें

अपनी राय बतायें

तमिलनाडु से और खबरें

ताज़ा ख़बरें

सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें