loader
पीड़ितों से मिलते कांग्रेस नेता अजय कुमार लल्लू व अन्य।

वेस्ट यूपी: बुखार का कहर, एक हफ़्ते में 40 बच्चों सहित 68 की मौत

कोरोना की तीसरी लहर की आशंका के बीच पश्चिमी उत्तर प्रदेश के कुछ इलाक़ों में रहस्यमयी बुखार ने आतंक मचाया हुआ है। पिछले एक हफ़्ते में इसने 68 लोगों की जान ले ली है। मरने वालों में 40 बच्चे भी हैं। इस रहस्यमयी बुखार के लक्षणों में तेज़ बुखार आना, शरीर में पानी की कमी और तेज़ी से प्लेटलेट्स का गिरना शामिल है। जबकि कुछ मामलों में डेंगू बुखार के जैसे लक्षण दिखाई दिए हैं। 

इस वजह से सरकारी अस्पतालों में बड़ी संख्या में लोग आ रहे हैं और लोगों को बिस्तरों की कमी जैसे हालात का सामना करना पड़ रहा है। 

फिरोज़ाबाद ख़ासा प्रभावित 

इस बुखार के अधिकतर मामले आगरा, मथुरा, मैनपुरी, एटा, कासगंज और फिरोज़ाबाद जिले से आए हैं। स्वास्थ्य महकमे के अफ़सरों ने टाइम्स ऑफ़ इंडिया को बताया कि फिरोज़ाबाद बुखार के मामलों से ख़ासा प्रभावित है और पूर्वी उत्तर प्रदेश से भी बुखार के कुछ मामले आए हैं। 

ताज़ा ख़बरें
पूर्वी उत्तर प्रदेश में गोंडा, बस्ती, देवरिया, बलिया, आज़मगढ़, सुल्तानपुर, जौनपुर और ग़ाजीपुर से बुखार के मामले सामने आए हैं। 

योगी ने किया दौरा

फिरोज़ाबाद मेडिकल कॉलेज में भर्ती 135 बच्चों में से 72 अपने जीवन की अंतिम सांस के लिए संघर्ष कर रहे हैं। इनमें से 50 फ़ीसदी से ज़्यादा को डेंगू के लक्षण हैं। यहां से कई मरीजों को इलाज के लिए आगरा और दूसरे शहरों में भेजा गया है। हालात इतने ख़राब हैं कि सोमवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को यहां का दौरा कर हालात का जायजा लेना पड़ा। योगी ने कहा कि अगर किसी ने लापरवाही की होगी तो उसकी जिम्मेदारी तय की जाएगी।  

प्राइवेट अस्पतालों में और ग्रामीण इलाक़ों में जिन लोगों की मौत हो रही है, उनका कोई आंकड़ा सरकार के पास नहीं है। ऐसे में मौतों का आंकड़ा निश्चित रूप से बढ़ गया होगा। 

mystery fever in Firozabad - Satya Hindi
फिरोज़ाबाद के मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डॉ. हंसराज सिंह ने टाइम्स ऑफ़ इंडिया से कहा कि हालात को देखते हुए डॉक्टर्स और पैरामेडिक्स को अलर्ट पर रखा गया है। उन्होंने कहा कि बच्चों को इस बुखार से उबरने में दो हफ्ते का वक़्त लग रहा है। 
उत्तर प्रदेश से और ख़बरें

स्वास्थ्य महकमे के अतिरिक्त निदेशक ए.के. सिंह ने कहा है कि आगरा और इसके आसपास के क्षेत्र का जो तापमान है, इसमें इस तरह की बीमारियां ज़्यादा फैलती हैं। उन्होंने कहा कि फिर भी मौतें किस वजह से हुई हैं, इसकी जांच की जा रही है। 

फिरोज़ाबाद के विधायक मनीष असीजा ने कहा है कि पानी के जमाव, साफ-सफाई में कमी की वजह से बीमारी फैल रही है। बुखार के प्रकोप के कारण फिरोज़ाबाद में कक्षा छह से आठ तक के स्कूलों को एक सप्ताह के लिए बंद कर दिया गया है। 

सत्य हिन्दी ऐप डाउनलोड करें

गोदी मीडिया और विशाल कारपोरेट मीडिया के मुक़ाबले स्वतंत्र पत्रकारिता का साथ दीजिए और उसकी ताक़त बनिए। 'सत्य हिन्दी' की सदस्यता योजना में आपका आर्थिक योगदान ऐसे नाज़ुक समय में स्वतंत्र पत्रकारिता को बहुत मज़बूती देगा। याद रखिए, लोकतंत्र तभी बचेगा, जब सच बचेगा।

नीचे दी गयी विभिन्न सदस्यता योजनाओं में से अपना चुनाव कीजिए। सभी प्रकार की सदस्यता की अवधि एक वर्ष है। सदस्यता का चुनाव करने से पहले कृपया नीचे दिये गये सदस्यता योजना के विवरण और Membership Rules & NormsCancellation & Refund Policy को ध्यान से पढ़ें। आपका भुगतान प्राप्त होने की GST Invoice और सदस्यता-पत्र हम आपको ईमेल से ही भेजेंगे। कृपया अपना नाम व ईमेल सही तरीक़े से लिखें।
सत्य अनुयायी के रूप में आप पाएंगे:
  1. सदस्यता-पत्र
  2. विशेष न्यूज़लेटर: 'सत्य हिन्दी' की चुनिंदा विशेष कवरेज की जानकारी आपको पहले से मिल जायगी। आपकी ईमेल पर समय-समय पर आपको हमारा विशेष न्यूज़लेटर भेजा जायगा, जिसमें 'सत्य हिन्दी' की विशेष कवरेज की जानकारी आपको दी जायेगी, ताकि हमारी कोई ख़ास पेशकश आपसे छूट न जाय।
  3. 'सत्य हिन्दी' के 3 webinars में भाग लेने का मुफ़्त निमंत्रण। सदस्यता तिथि से 90 दिनों के भीतर आप अपनी पसन्द के किसी 3 webinar में भाग लेने के लिए प्राथमिकता से अपना स्थान आरक्षित करा सकेंगे। 'सत्य हिन्दी' सदस्यों को आवंटन के बाद रिक्त बच गये स्थानों के लिए सामान्य पंजीकरण खोला जायगा। *कृपया ध्यान रखें कि वेबिनार के स्थान सीमित हैं और पंजीकरण के बाद यदि किसी कारण से आप वेबिनार में भाग नहीं ले पाये, तो हम उसके एवज़ में आपको अतिरिक्त अवसर नहीं दे पायेंगे।
सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें

अपनी राय बतायें

उत्तर प्रदेश से और खबरें

ताज़ा ख़बरें

सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें