loader

चीन: 'तीन माह में आएँगी तीन लहरें': विशेषज्ञों की चेतावनी

चीन में कोरोना का मौजूदा कहर कब तक रहेगा, इसका अनुमान महामारी विज्ञानियों ने लगाया है। उन्होंने सर्दियों के दौरान देश में वायरस की कम से कम तीन लहरों का अनुमान लगाया है। वह भी तीन महीने के अंदर। यानी अभी से लेकर मार्च तक चीन एक के बाद एक तीन लहरों का सामना कर सकता है। ऐसा महामारी विज्ञानियों ने अनुमान लगाया है।

उनका यह अनुमान ऐसे ही नहीं है, बल्कि कुछ तथ्यों पर आधारित है। एएनआई ने हॉन्गकॉन्ग पोस्ट की रिपोर्ट के हवाले से यह ख़बर दी है। इसके अनुसार हॉन्गकॉन्ग पोस्ट ने सरकारी मीडिया में आए चाइनीज सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन के मुख्य महामारी विज्ञानी वू ज़ुन्यो के बयान के हवाले से कहा है, 'वर्तमान प्रकोप इस सर्दी में चरम पर होगा और तीन लहरों में चलेगा।' रिपोर्ट के अनुसार वू जुनयू ने बीजिंग में एक संवाददाता सम्मेलन में यह टिप्पणी की।

ताज़ा ख़बरें

रिपोर्ट में वू के हवाले से कहा गया है, 'पहली लहर अब से जनवरी के मध्य तक चलेगी। इसके बाद दूसरी लहर के जल्द ही आने की आशंका है। यह लहर 21 जनवरी से शुरू होने वाले चंद्र नव वर्ष के लिए देश भर में सैकड़ों लाखों लोगों की सामूहिक यात्रा से शुरू हो सकती है।' समाचार रिपोर्ट के अनुसार, उन्होंने भविष्यवाणी की है कि 'छुट्टियों से काम पर लौटने के बाद फ़रवरी के अंत से मार्च के मध्य तक तीसरी लहर' का सामना करना पड़ेगा।

बता दें कि चीन में कोरोना से बड़ी संख्या में मौत होने की आशंका जताई गई है। लंदन स्थित ग्लोबल हेल्थ इंटेलिजेंस एंड एनालिटिक्स फर्म ने कहा है कि अगर चीन अपनी ज़ीरो कोविड नीति को हटाता है तो 13 लाख से 21 लाख लोगों की जान जोखिम में पड़ सकती है।

ग्लोबल हेल्थ इंटेलिजेंस एंड एनालिटिक्स फर्म ने कहा है, 'चीन की आबादी में प्रतिरक्षा का स्तर बहुत कम है। इसके नागरिकों को घरेलू स्तर पर उत्पादित वैक्सीन सिनोवैक और सिनोफार्म के टीके लगाये गये, जो काफी कम प्रभावकारिता वाले साबित हुए हैं और ये संक्रमण और मृत्यु के ख़िलाफ़ कम सुरक्षा प्रदान करते हैं।'
हाल ही में महामारी विशेषज्ञ एरिक फीगल-डिंग ने कहा है कि चीन में अस्पताल पूरी तरह से चरमरा गए हैं और अगले 90 दिनों में चीन की 60 प्रतिशत से अधिक आबादी के संक्रमित होने और लाखों लोगों की मौत होने की आशंका है।

चीन में कोरोना से हालात ख़राब होने की ख़बर भी आ रही है। पिछले कुछ महीनों से चीन में मामले बढ़ने शुरू हुए तो सरकार ने सख्त लॉकडाउन व अन्य पाबंदियाँ लगाईं। लेकिन जैसे ही इसने उसमें ढील दी, ज़ीरो कोविड नीति में ढील दी तो संक्रमण बेतहाशा बढ़ा। अस्पताल मरीजों से अटे पड़े हैं और श्मशान और कब्रिस्तान में शवों की तादाद काफ़ी ज़्यादा बढ़ गई है।

दुनिया से और ख़बरें

हांगकांग पोस्ट ने पश्चिमी मीडिया रिपोर्टों का हवाला देते हुए कहा है कि मांग में वृद्धि के कारण फ़ार्मेसी में स्टॉक कम पड़ रही हैं।

हांगकांग विश्वविद्यालय के तीन प्रोफेसरों के अनुमानों के अनुसार, देश भर में फिर से लॉकडाउन खुलने से मौजूदा परिस्थितियों में प्रति मिलियन लोगों पर 684 लोगों की मौत हो सकती है। चीन की आबादी क़रीब 1.4 बिलियन है।

अध्ययन के अनुसार, सभी प्रांतों में कोरोना प्रतिबंध हटाने से अस्पताल की क्षमता में 1.5 से 2.5 गुना वृद्धि देखी जाएगी। अगर चीन लोगों को बूस्टर शॉट्स और एंटी-वायरल ड्रग्स दे तो ख़राब हालात से बचा जा सकता है।

सत्य हिन्दी ऐप डाउनलोड करें

गोदी मीडिया और विशाल कारपोरेट मीडिया के मुक़ाबले स्वतंत्र पत्रकारिता का साथ दीजिए और उसकी ताक़त बनिए। 'सत्य हिन्दी' की सदस्यता योजना में आपका आर्थिक योगदान ऐसे नाज़ुक समय में स्वतंत्र पत्रकारिता को बहुत मज़बूती देगा। याद रखिए, लोकतंत्र तभी बचेगा, जब सच बचेगा।

नीचे दी गयी विभिन्न सदस्यता योजनाओं में से अपना चुनाव कीजिए। सभी प्रकार की सदस्यता की अवधि एक वर्ष है। सदस्यता का चुनाव करने से पहले कृपया नीचे दिये गये सदस्यता योजना के विवरण और Membership Rules & NormsCancellation & Refund Policy को ध्यान से पढ़ें। आपका भुगतान प्राप्त होने की GST Invoice और सदस्यता-पत्र हम आपको ईमेल से ही भेजेंगे। कृपया अपना नाम व ईमेल सही तरीक़े से लिखें।
सत्य अनुयायी के रूप में आप पाएंगे:
  1. सदस्यता-पत्र
  2. विशेष न्यूज़लेटर: 'सत्य हिन्दी' की चुनिंदा विशेष कवरेज की जानकारी आपको पहले से मिल जायगी। आपकी ईमेल पर समय-समय पर आपको हमारा विशेष न्यूज़लेटर भेजा जायगा, जिसमें 'सत्य हिन्दी' की विशेष कवरेज की जानकारी आपको दी जायेगी, ताकि हमारी कोई ख़ास पेशकश आपसे छूट न जाय।
  3. 'सत्य हिन्दी' के 3 webinars में भाग लेने का मुफ़्त निमंत्रण। सदस्यता तिथि से 90 दिनों के भीतर आप अपनी पसन्द के किसी 3 webinar में भाग लेने के लिए प्राथमिकता से अपना स्थान आरक्षित करा सकेंगे। 'सत्य हिन्दी' सदस्यों को आवंटन के बाद रिक्त बच गये स्थानों के लिए सामान्य पंजीकरण खोला जायगा। *कृपया ध्यान रखें कि वेबिनार के स्थान सीमित हैं और पंजीकरण के बाद यदि किसी कारण से आप वेबिनार में भाग नहीं ले पाये, तो हम उसके एवज़ में आपको अतिरिक्त अवसर नहीं दे पायेंगे।
सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें

अपनी राय बतायें

दुनिया से और खबरें

ताज़ा ख़बरें

सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें