loader

विधानसभा में तेजस्वी पर बुरी तरह क्यों भड़क गए नीतीश?

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार शुक्रवार को नवगठित विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव के आरोपों पर इस कदर भड़के कि तमाम प्रोटोकाॅल को भूलते हुए कह दिया- ये बकवास बोल रहा है, यह झूठ बोल रहा है।

तेजस्वी यादव ने राज्यपाल के अभिभाषण के धन्यवाद प्रस्ताव पर नीतीश कुमार के द्वारा चुनाव अभियान के दौरान किये गये निजी हमलों के जवाब में अपनी बात कही और उन पर भी निजी हमला बोला। 

लगभग एक घंटे के भाषण में तेजस्वी यादव ने नीतीश कुमार के उस बयान का जिक्र किया कि जिसमें उन्होंने लालू प्रसाद के बच्चों के बारे में टिप्पणी की थी। नीतीश पर लगे हत्या के आरोप की चर्चा की और जेएनयू के छात्र के शोध से सामग्री चोरी में नीतीश पर जुर्माना लगाये जाने का भी जिक्र किया।

ताज़ा ख़बरें

तेजस्वी ने कहा कि 1991 में नीतीश कुमार पर हत्या का आरोप लगा। 2008 में कैसे इस पर फैसले को टाला गया और 2020 में कैसे बिना किसी जांच-पड़ताल के इस केस को रफा-दफा किया गया। इस पर संसदीय कार्यमंत्री विजय चौधरी ने हत्या के आरोप को गलत बताते हुए इसे सदन की कार्यवाही से हटाने से की मांग तो जवाब में तेजस्वी ने इसे सही करार दिया। इसके बाद नीतीश भड़क गये।

नीतीश ने गुस्से में इस अंदाज में बातें कीं जैसे किसी घरेलू झगड़े में की जाती हैं। उनके गुस्से में यह पीड़ा भी उभरी कि कैसे उन्होंने लालू प्रसाद को लोकदल में विधायक दल का नेता बनवाया था। उन्होंने यह भी याद दिलाया कि तेजस्वी को डिप्टी चीफ मिनिस्टर उन्होंने ही बनवाया।

नीतीश ने कहा कि जब आरोप लगा तो हमने कहा कि सफाई दें मगर तेजस्वी ने सफाई नहीं दी तो हमने छोड़ दिया। नीतीश ने यह भी कहा कि मेरे भाई समान दोस्त का बेटा है, इसलिए सुनते रहते हैं और हम कुछ नहीं बोलते हैं।

‘नीतीश बच्चे गिनते रहे’ 

तेजस्वी ने विधानसभा में अपने चुनावी अभियान और मुद्दों की चर्चा के बाद नीतीश के बयान को दोहराया। उन्होंने कहा कि हमने मुद्दों की बात की मगर मुख्यमंत्री बच्चे गिनते रहे। उन्होंने पूछा कि क्या मुख्यमंत्री को यह बात शोभा देती है।

Nitish kumar tejashvi yadav clash in Bihar assembly  - Satya Hindi

तेजस्वी का जवाबी पलटवार 

तेजस्वी के अनुसार नीतीश कुमार ने लालू प्रसाद के बारे में कहा था- लड़की पर भरोसा नहीं था तो लड़कों की चाहत में लड़की पैदा करते रहे। तेजस्वी बोले, ‘मुख्यमंत्री को शायद पता नहीं कि दो लड़कों के बाद मेरी एक छोटी बहन भी है।’ इतना कहने के बाद तेजस्वी ने नीतीश के लालू पर किये गये निजी हमले के जवाब में उन पर निजी हमला करते हुए कहा, ‘हम यह भी कहना चाहते हैं कि मुख्यमंत्री जी का एक बेटा है और है या नहीं यह तो वही बताएंगे। इतना ज़रूर कह सकते हैं कि लोग तो यह भी कहते हैं कि बेटी के डर से दूसरी संतान पैदा नहीं की। क्या बेटी का डर था?।’ तेजस्वी की बेटी वाली बात को कार्यवाही से हटा दिये जाने की सूचना है।

तेेजस्वी ने इससे पहले यह भी कहा कि वे तो नीतीश कुमार को चाचा ही कहते हैं लेकिन सदन में तो कोई चाचा-भतीजा नहीं रहता। एक प्रोटोकाॅल होता है। वे मुख्यमंत्री हैं। मैं नेता प्रतिपक्ष हूं। जब तेजस्वी ने कहा कि माता-पिता ने संस्कार दिया है तो नीतीश कुमार मुस्कुराने लगे। तेजस्वी यादव ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के बारे में कहा कि उन्होंने 31 साल के युवा का क्या-क्या नामकरण किया।

Nitish kumar tejashvi yadav clash in Bihar assembly  - Satya Hindi

तेजस्वी के आरोपों पर जब विधानसभा में कई बार हंगामा हुआ तो अध्यक्ष विजय कुमार सिन्हा ने कहा कि चुनाव को भूलकर विकास की बात करें और पर्सनल बातें न करें। अध्यक्ष ने व्यवस्था दी कि झूठ असंसदीय शब्द है। इसकी जगह असत्य का प्रयोग करें।

चुनाव प्रचार के दौरान मोदी के तेजस्वी पर हमले को लेकर देखिए चर्चा- 

फट पड़े नीतीश 

राजनीतिक प्रेक्षकों का मानना है कि शुक्रवार को जिस तरह तेजस्वी ने कोरोना से लेकर भ्रष्टाचार के मुद्दे तक पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर हमले किये थे, उससे माहौल पहले ही गर्माया हुआ था। जब बात हत्या के आरोप और कंटेंट चोरी की आ गयी और तेजस्वी यादव इससे पीछे नहीं हटे तो अंदर-अंदर पक रहा नीतीश कुमार का लावा फट पड़ा।

चुनाव नतीजों पर चर्चा

तेजस्वी ने पूछा, आपने कभी सुना है कि किसी मुख्यमंत्री को पच्चीस हजार का जुर्माना देना पड़ा हो। फिर खुद ही इसका जवाब दिया- जुर्माना क्यों दिया? जेएनयू के एक छात्र के शोध से कंटेंट चोरी करने के लिए। 

तेजस्वी ने कहा कि नीतीश को चुनाव में चेहरा बताया जा रहा था कि लेकिन यह चेहरे का कैसा कमाल था कि चुनाव में उनकी पार्टी तीसरे नंबर पर चली गयी।

नेता प्रतिपक्ष ने सृजन घोटाले की चर्चा करते हुए यह भी पूछा कि अब तक इस मामले में नीतीश से पूछताछ क्यों नहीं हुई है। उन्होंने पूर्व उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी पर 120 बी के तहत षड्यंत्र रचने का केस दर्ज नहीं किये जाने की भी चर्चा की।

तेजस्वी ने चुनाव परिणामों की चर्चा करते हुए कहा कि पूरे राज्य में महज 12270 वोटों के अंतर से 16 सीट अधिक लाकर यह सरकार बनी है। उन्होंने आरोप लगाया कि 3-3 हजार बैलेट पेपर रद्द किये गये। उन्होंने चोर दरवाजे से सरकार बनाने का भी आरोप लगाया।

तेजस्वी ने कोरोना नियंत्रण के लिए कमेटी नहीं बनाये जाने पर भी मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को घेरा। उन्होंने पूछा कि मुख्यमंत्री को बताना चाहिए कि कमेटी क्यों नहीं बनी।

सत्य हिन्दी ऐप डाउनलोड करें

'सत्य हिन्दी'
की ताक़त बनिए


गोदी मीडिया और विशाल कारपोरेट मीडिया के मुक़ाबले स्वतंत्र पत्रकारिता का साथ दीजिए और उसकी ताक़त बनिए। 'सत्य हिन्दी' की सदस्यता योजना में आपका आर्थिक योगदान ऐसे नाज़ुक समय में स्वतंत्र पत्रकारिता को बहुत मज़बूती देगा। याद रखिए, लोकतंत्र तभी बचेगा, जब सच बचेगा।

नीचे दी गयी विभिन्न सदस्यता योजनाओं में से अपना चुनाव कीजिए। सभी प्रकार की सदस्यता की अवधि एक वर्ष है। सदस्यता का चुनाव करने से पहले कृपया नीचे दिये गये सदस्यता योजना के विवरण और Membership Rules & NormsCancellation & Refund Policy को ध्यान से पढ़ें। आपका भुगतान प्राप्त होने की GST Invoice और सदस्यता-पत्र हम आपको ईमेल से ही भेजेंगे। कृपया अपना नाम व ईमेल सही तरीक़े से लिखें।
सत्य अनुयायी के रूप में आप पाएंगे:
  1. सदस्यता-पत्र
  2. विशेष न्यूज़लेटर: 'सत्य हिन्दी' की चुनिंदा विशेष कवरेज की जानकारी आपको पहले से मिल जायगी। आपकी ईमेल पर समय-समय पर आपको हमारा विशेष न्यूज़लेटर भेजा जायगा, जिसमें 'सत्य हिन्दी' की विशेष कवरेज की जानकारी आपको दी जायेगी, ताकि हमारी कोई ख़ास पेशकश आपसे छूट न जाय।
  3. 'सत्य हिन्दी' के 3 webinars में भाग लेने का मुफ़्त निमंत्रण। सदस्यता तिथि से 90 दिनों के भीतर आप अपनी पसन्द के किसी 3 webinar में भाग लेने के लिए प्राथमिकता से अपना स्थान आरक्षित करा सकेंगे। 'सत्य हिन्दी' सदस्यों को आवंटन के बाद रिक्त बच गये स्थानों के लिए सामान्य पंजीकरण खोला जायगा। *कृपया ध्यान रखें कि वेबिनार के स्थान सीमित हैं और पंजीकरण के बाद यदि किसी कारण से आप वेबिनार में भाग नहीं ले पाये, तो हम उसके एवज़ में आपको अतिरिक्त अवसर नहीं दे पायेंगे।
समी अहमद
सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें

अपनी राय बतायें

बिहार से और खबरें

ताज़ा ख़बरें

सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें