loader

सस्पेंस और 'बदले' की कहानी है वेब सीरीज़ 'तैश' में

वेब सीरीज़- तैश

डायरेक्टर- बिजॉय नाम्बियार

स्टार कास्ट- जिम सरभ, पुलकित सम्राट, हर्षवर्धन राणे, अभिमन्यु सिंह, संजीदा शेख़, कृति खरबंदा, सलोनी बत्रा

स्ट्रीमिंग प्लेटफ़ॉर्म- ज़ी 5

रेटिंग- 3.5/5

ओटीटी प्लेटफ़ॉर्म की दुनिया में दर्शकों के लिए वेब सीरीज़ 'तैश' रिलीज़ हुई है। यह सीरीज़ स्ट्रीमिंग प्लेटफ़ॉर्म ज़ी 5 पर रिलीज़ की गई है। आजकल दर्शकों को सस्पेंस-एक्शन-ड्रामा से भरपूर सीरीज़ या फ़िल्में काफी पसंद आ रही हैं और कुछ निर्देशकों ने यह नब्ज़ पकड़ ली है। कुछ ऐसे ही सस्पेंस, एक्शन और ड्रामा से भरी हुई है सीरीज़ 'तैश'। सीरीज़ का निर्देशन बिजॉय नाम्बियार ने किया है और जिम सरभ, पुलकित सम्राट, हर्षवर्धन राणे, अभिमन्यु सिंह, संजीदा शेख़ और कृति खरबंदा लीड रोल में हैं। तो आइये जानते हैं, क्या है फ़िल्म की कहानी-

web series taish review - Satya Hindi

लंदन में ब्रार और कालरा दो पंजाबी परिवार बसे हुए हैं। ब्रार फैमिली दो नंबर का काम करती है और गैंगस्टर कुलजिंदर (अभिमन्यु सिंह) है उनका छोटा भाई, पाली (हर्षवर्धन राणे) उनका दाया हाथ है। कालरा फैमिली बिजनेस में है और परिवार में बड़ा भाई रोहन (जिम सरभ) और छोटा भाई कृष (अंकुर राठी) है। कृष की शादी होने वाली है और परिवार उसकी तैयारियों में लगा हुआ है। रोहन एक पाकिस्तानी लड़की अरफा (कृति खरबंदा) को पसंद करता है और पाली अपनी भाभी (सलोनी बत्रा) की छोटी बहन जहान (संजीदा शेख) को चाहता है। सब कुछ सही चल रहा होता है कि रोहन का जिगरी यार सनी (पुलकिट सम्राट) कुलजिंदर को पीटकर अपाहिज बना देता है।

कुलजिंदर के साथ हुई मारपीट का बदला उसका भाई पाली लेता है और वो कृष की हत्या कर देता है और यहाँ से शुरू हो जाता है बदला लेने का सिलसिला और ख़ून-खराबा। सनी कुलजिंदर को क्यों मारता है, इसके पीछे एक गहरा अतीत है, जिसे जानने के लिए आपको ये 6 एपिसोड की सीरीज़ देखनी पड़ेगी। इस बदले के जुनून के बीच आख़िर में कौन बचेगा? ऐसी कौन सी बात है जिसके लिए सनी गैंगस्टर को मार देता है? सभी सवालों के जवाब आपको ज़ी 5 पर रिलीज़ हुई इस सीरीज़ में मिलेंगे।

निर्देशन

निर्देशक बिजॉय नाम्बियार ने 'तैश' में सस्पेंस, एक्शन और गैंगस्टर ड्रामा सब कुछ डाल दिया लेकिन इसकी कहानी कई जगहों पर कमज़ोर पड़ गई। वेब सीरीज़ में हर्षवीर ओबेरॉय की सिनेमैटोग्राफ़ी काफ़ी शानदार है। हर एक सीन के शॉट्स और लाइट्स का उन्होंने ख़ास ध्यान रखा है। इसके साथ ही प्रियांक प्रेम ने काफ़ी अच्छी एडिटिंग की है। निर्देशक के साथ उनकी पूरी टीम ने सीरीज़ को बनाने में काफ़ी मेहनत की है लेकिन इसकी कहानी कुछ पहलुओं पर निराश करती है।

web series taish review - Satya Hindi

एक्टिंग

'तैश' में जिम सरभ, पुलकित सम्राट और हर्षवर्धन राणे ने बेहद शानदार अभिनय किया है और हर एक सीन में तीनों स्टार्स ने अपने किरदार के साथ पूरी तरह से न्याय किया है। संजीदा शेख ने अपने किरदार को बेहद संजीदगी से निभाया है। कृति खरबंदा ने पाकिस्तानी लड़की के किरदार को अच्छे से निभाया। इसके अलावा अन्य स्टार्स सलोनी बत्रा, अभिमन्यु सिंह और अंकुर राठी ने भी अच्छा अभिनय किया है।

web series taish review - Satya Hindi
इस वेब सीरीज़ में इंटेंस ड्रामा के साथ बदला लेने के लिए किसी भी हद तक जाने वाला जुनून दिखाया गया है। इसके साथ ही इसमें कई जगहों पर एक्शन सीन भी हैं, बस सीरीज़ की कहानी में कमी रह जाती है। वर्तमान को समझाने के लिए बार-बार दृश्यों को अतीत में ले जाया जाता है, जिसे समझने के लिए आपको दिमाग खुला रखना पड़ेगा। इसके अलावा 'तैश' में कई सवालों के जवाब अधूरे ही छोड़ दिये जाते हैं। वेब सीरीज़ 'तैश' को आप एक बार देख सकते हैं, इसमें आपको एक्शन, ड्रामा और सस्पेंस मिलेगा। कुल 3 घंटे की ये सीरीज़ 6 एपिसोड में है।
सत्य हिन्दी ऐप डाउनलोड करें

'सत्य हिन्दी'
की ताक़त बनिए


गोदी मीडिया और विशाल कारपोरेट मीडिया के मुक़ाबले स्वतंत्र पत्रकारिता का साथ दीजिए और उसकी ताक़त बनिए। 'सत्य हिन्दी' की सदस्यता योजना में आपका आर्थिक योगदान ऐसे नाज़ुक समय में स्वतंत्र पत्रकारिता को बहुत मज़बूती देगा। याद रखिए, लोकतंत्र तभी बचेगा, जब सच बचेगा।

नीचे दी गयी विभिन्न सदस्यता योजनाओं में से अपना चुनाव कीजिए। सभी प्रकार की सदस्यता की अवधि एक वर्ष है। सदस्यता का चुनाव करने से पहले कृपया नीचे दिये गये सदस्यता योजना के विवरण और Membership Rules & NormsCancellation & Refund Policy को ध्यान से पढ़ें। आपका भुगतान प्राप्त होने की GST Invoice और सदस्यता-पत्र हम आपको ईमेल से ही भेजेंगे। कृपया अपना नाम व ईमेल सही तरीक़े से लिखें।
सत्य अनुयायी के रूप में आप पाएंगे:
  1. सदस्यता-पत्र
  2. विशेष न्यूज़लेटर: 'सत्य हिन्दी' की चुनिंदा विशेष कवरेज की जानकारी आपको पहले से मिल जायगी। आपकी ईमेल पर समय-समय पर आपको हमारा विशेष न्यूज़लेटर भेजा जायगा, जिसमें 'सत्य हिन्दी' की विशेष कवरेज की जानकारी आपको दी जायेगी, ताकि हमारी कोई ख़ास पेशकश आपसे छूट न जाय।
  3. 'सत्य हिन्दी' के 3 webinars में भाग लेने का मुफ़्त निमंत्रण। सदस्यता तिथि से 90 दिनों के भीतर आप अपनी पसन्द के किसी 3 webinar में भाग लेने के लिए प्राथमिकता से अपना स्थान आरक्षित करा सकेंगे। 'सत्य हिन्दी' सदस्यों को आवंटन के बाद रिक्त बच गये स्थानों के लिए सामान्य पंजीकरण खोला जायगा। *कृपया ध्यान रखें कि वेबिनार के स्थान सीमित हैं और पंजीकरण के बाद यदि किसी कारण से आप वेबिनार में भाग नहीं ले पाये, तो हम उसके एवज़ में आपको अतिरिक्त अवसर नहीं दे पायेंगे।
दीपाली श्रीवास्तव
सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें

अपनी राय बतायें

सिनेमा से और खबरें

ताज़ा ख़बरें

सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें