loader

सभी दल साथ मिलकर दिल्ली में शांति बहाल करेंगे: केजरीवाल

दिल्ली में हिंसा से निपटने के लिए गृह मंत्री अमित शाह, दिल्ली के लेफ़्टिनेंट गवर्नर अनिल बैजल के साथ उच्चस्तरीय बैठक के बाद मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा है कि वे साथ मिलकर दिल्ली में शांति बहाल करेंगे। उन्होंने कहा कि सभी लोग चाहते हैं कि हिंसा रुके। मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि सभी दल चाहते हैं कि हमारे शहर में शांति बहाली हो।

बता दें कि दिल्ली में हिंसा की गंभीरता को देखते हुए देश के गृह मंत्री अमित शाह ने बैठक बुलाई थी। उन्होंने लेफ़्टिनेंट गवर्नर अनिल बैजल और दिल्ली के मुख्य मंत्री अरविंद केजरीवाल सांसदों, विधायकों और अधिकारियों के साथ बैठक कर हालात की समीक्षा की। इसमें दिल्ली हिंसा से निपटने के लिए मंथन किया गया। बैठक में पुलिस कमिशनर अमुल्य पटनायक, कांग्रेस नेता सुभाष चोपड़ा, बीजेपी नेता मनोज तिवारी, रामबीर सिंह और अन्य भी शामिल हुए।

ताज़ा ख़बरें
बता दें कि जाफराबाद और मौजपुर में सोमवार की हिंसा के बाद भी हिंसा रुकी नहीं है। मंगलवार सुबह कई क्षेत्रों में पत्थरबाज़ी और आगजनी की घटनाएँ हुईं। ब्रह्मपुरी इलाक़े में दो गुटों में पत्थरबाज़ी हुई। करावल नगर में प्रदर्शनकारियों ने कई वाहनों को आग के हवाले किया। मौजपुर में भी पथराव की घटनाएँ हुईं। ऐसा तब है जब रात भर पुलिस ने क्षेत्र में फ़्लैग मार्च किया। अब स्थिति पर नियंत्रण के लिए भारी संख्या में पुलिस बल को तैनात किया गया है। हिंसा की गंभीरता का अंदाज़ा इस बात से लगाया जा सकता है कि सोमवार की हिंसा के बाद से सात लोगों की मौत हो गई है और क़रीब 60 लोग घायल हुए हैं। मृतकों में एक पुलिसकर्मी भी शामिल है।

केजरीवाल बोले- बाहर से आ रहे लोग

इस बैठक से पहले दिल्ली की हिंसा पर अरविंद केजरीवाल ने प्रभावित क्षेत्रों के सभी दलों के विधायकों के साथ बैठक की। इस बैठक के बाद उन्होंने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस की। उन्होंने शांति बनाए रखने की अपील की और कहा कि हिंसा से किसी का भी भला नहीं होने वाला है और इससे कोई भी समाधान नहीं निकलेगा। उन्होंने यह भी कहा है कि दिल्ली के सीमा क्षेत्र के विधायकों का कहना है कि बाहर के राज्यों से बहुत से लोग बॉर्डर क्रॉस कर दिल्ली में आ रहे हैं और यह भी दिल्ली हिंसा की वजह है।
देश से और ख़बरें

रात में भी शाह ने ली थी बैठक

इससे पहले दिल्ली के हालातों पर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने सोमवार को देर रात आपात बैठक बुलाई थी। यह बैठक 10 बजे तक चली जिसमें दिल्ली के हालातों पर तुरंत काबू के लिए विचार-विमर्श हुआ। माना जा रहा है कि गृह मंत्री को इस मामले में इसलिए दखल देना पड़ा है क्योंकि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप भारत की यात्रा पर आए हुए हैं और आज यानी मंगलवार को वह दिल्ली में ही हैं। यहाँ उनके प्रधानमंत्री मोदी के साथ बैठक है। ऐसे में दिल्ली की हिंसा सरकार के लिए बड़ी परेशानी का सबब बन गई है।
Satya Hindi Logo लोकतंत्र तभी बचेगा, जब सच बचेगा! गोदी मीडिया के इस दौर में पत्रकारिता को राजनीति और कारपोरेट दबावों से मुक्त रखने के लिए 'सत्य हिन्दी' के साथ आइए। नीचे दी गयी कोई भी रक़म जो आप चुनना चाहें, उस पर क्लिक करें। यह पूरी तरह स्वैच्छिक है। आप द्वारा दी गयी राशि आपकी ओर से स्वैच्छिक सेवा शुल्क (Voluntary Service Fee) होगा, जिसकी जीएसटी रसीद हम आपको भेजेंगे।
सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें

अपनी राय बतायें

देश से और खबरें

ताज़ा ख़बरें

सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें