loader

केंद्र सरकार : कोरोना टीके की 44 करोड़ खुराक़ों का ऑर्डर 

कोरोना टीके की किल्लत के बीच केंद्र सरकार ने वैक्सीन खरीदने के नए ऑर्डर दिए हैं और दावा कर रही है कि अगस्त से दिसंबर के बीच उसे टीके की 44 करोड़ खुराक़ें मिल जाएंगी।

स्वास्थ्य मंत्रालय के इस एलान के एक दिन पहले ही प्रधानमंत्री ने कहा था कि 18 साल से अधिक की उम्र के हर आदमी को मुफ़्त कोरोना टीका दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ये टीके खरीद कर राज्यों को मुफ़्त देगी। 

मंगलवार को मंत्रालय ने कहा कि कोवीशील्ड की 25 करोड़ और कोवैक्सीन की 19 करोड़ खुराक़ों के आर्डर दे दिए गए हैं। सीरम इंस्टीच्यूट ऑफ इंडिया कोवीशील्ड और भारत बायोटेक कोवैक्सीन बना रहा है। 

ख़ास ख़बरें

नीति आयोग के सदस्य डॉ वी. के. पॉल ने कहा कि कुछ राज्यों ने पिछले महीने कहा था कि टीकों की खरीदी केंद्र द्वारा की जाए। उन्होंने 'एनडीटीवी' से कहा कि कोविशील्ड की 25 करोड़ और  कोवैक्सीन की 19 करोड़ खुराक़ों का ऑर्डर कंपनियों को दिया गया है। 

उन्होंने कहा कि यह एडवांस ऑर्डर दिया गया है, जिसके लिए 30 फ़ीसदी रकम का अग्रिम भुगतान भी कर दिया गया है।  पॉल ने कहा कि ई बायोलॉजिकल वैक्सीन सितंबर में मिलने की उम्मीद है, जिसके लिए 30 करोड़ खुराक़ों का ऑर्डर दिया गया है। 

centre orders for 44 crore doses of corona vaccine - Satya Hindi

कांग्रेस ने की थी आलोचना

इसके पहले अठारह साल से ऊपर की उम्र के सभी लोगों के लिए राज्यों को मुफ़्त कोरोना टीका देने पर कांग्रेस पार्टी ने उनकी खिंचाई की। पार्टी के सांसद जयराम रमेश ने कहा कि कोरोना टीका देने की विपक्ष की माँग को स्वीकार करने से पहले प्रधानमंत्री ने लोगों को काफी नुक़सान पहुँचा दिया है। 
उन्होंने कहा, '18 से 44 साल की उम्र के लोगों को मुफ़्त कोरोना टीका देने की विपक्ष की माँग को मानने के पहले प्रधानमंत्री ने देश के लोगों पर भारी कीमत थोप दी। विनम्रता दिखाने और लोगों की बात सुनने से उनका कुछ नहीं बिगड़ जाता।'

एक लाख से कम रोज़ाना मामले

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा मंगलवार की सुबह जारी किए गए आंकड़ों के अनुसार, दो महीनों से भी ज्यादा समय के बाद मंगलवार को देश में कोरोना संक्रमण के एक लाख से कम मामले दर्ज किए गए हैं। मंगलवार को इसके पिछले 24 घंटों में देश में कोविड-19 संक्रमण के 86,498 नए मामले दर्ज किए गए। यह पिछले 66 दिनों में सबसे कम दैनिक मामलों का आँकड़ा है।

इसके बाद भारत में कोरोना के सक्रिय मरीजों की तादाद 13 लाख के आंकड़े पर पहुँच गई है। इन 24 घंटों में एक्टिव मरीजों की संख्या में 97,907 की गिरावट आई है, कुल सक्रिय मामलों की संख्या 13,03,702 हो गई है।

सत्य हिन्दी ऐप डाउनलोड करें

गोदी मीडिया और विशाल कारपोरेट मीडिया के मुक़ाबले स्वतंत्र पत्रकारिता का साथ दीजिए और उसकी ताक़त बनिए। 'सत्य हिन्दी' की सदस्यता योजना में आपका आर्थिक योगदान ऐसे नाज़ुक समय में स्वतंत्र पत्रकारिता को बहुत मज़बूती देगा। याद रखिए, लोकतंत्र तभी बचेगा, जब सच बचेगा।

नीचे दी गयी विभिन्न सदस्यता योजनाओं में से अपना चुनाव कीजिए। सभी प्रकार की सदस्यता की अवधि एक वर्ष है। सदस्यता का चुनाव करने से पहले कृपया नीचे दिये गये सदस्यता योजना के विवरण और Membership Rules & NormsCancellation & Refund Policy को ध्यान से पढ़ें। आपका भुगतान प्राप्त होने की GST Invoice और सदस्यता-पत्र हम आपको ईमेल से ही भेजेंगे। कृपया अपना नाम व ईमेल सही तरीक़े से लिखें।
सत्य अनुयायी के रूप में आप पाएंगे:
  1. सदस्यता-पत्र
  2. विशेष न्यूज़लेटर: 'सत्य हिन्दी' की चुनिंदा विशेष कवरेज की जानकारी आपको पहले से मिल जायगी। आपकी ईमेल पर समय-समय पर आपको हमारा विशेष न्यूज़लेटर भेजा जायगा, जिसमें 'सत्य हिन्दी' की विशेष कवरेज की जानकारी आपको दी जायेगी, ताकि हमारी कोई ख़ास पेशकश आपसे छूट न जाय।
  3. 'सत्य हिन्दी' के 3 webinars में भाग लेने का मुफ़्त निमंत्रण। सदस्यता तिथि से 90 दिनों के भीतर आप अपनी पसन्द के किसी 3 webinar में भाग लेने के लिए प्राथमिकता से अपना स्थान आरक्षित करा सकेंगे। 'सत्य हिन्दी' सदस्यों को आवंटन के बाद रिक्त बच गये स्थानों के लिए सामान्य पंजीकरण खोला जायगा। *कृपया ध्यान रखें कि वेबिनार के स्थान सीमित हैं और पंजीकरण के बाद यदि किसी कारण से आप वेबिनार में भाग नहीं ले पाये, तो हम उसके एवज़ में आपको अतिरिक्त अवसर नहीं दे पायेंगे।
सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें

अपनी राय बतायें

देश से और खबरें

ताज़ा ख़बरें

सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें