loader

स्पुतनिक वी की एक खुराक 995 रुपये में मिलेगी, पहला टीका लगा

रूस से आयातित कोरोना की स्पुतनिक वी वैक्सीन की एक खुराक 995.40 रुपये में मिलेगी। स्पुतनिक वैक्सीन से क़रार करने वाली भारतीय कंपनी ने शुक्रवार को यह घोषणा की। इसने कहा कि 948 रुपये इसकी क़ीमत होगी और इस पर 5 फ़ीसदी जीएसटी लगेगा। कंपनी ने यह भी कहा है कि इसकी क़ीमत और कम हो सकती है जब इसे स्थानीय स्तर पर इसका उत्पादन भारत में शुरू होगा। 

इसके साथ ही शुक्रवार को ही स्पुतनिक वी की पहली वैक्सीन भारत के हैदराबाद में लगाई गई। कंपनी ने एक बयान में कहा कि पहली खुराक को अभियान शुरू करने के तौर पर लगाया गया है। इसने कहा कि आने वाले महीनों में आयातित खुराक की और खेप आने की उम्मीद है। इसके बाद स्पुतनिक वी वैक्सीन की आपूर्ति भारतीय निर्माण करने वाली भागीदार कंपनियों से शुरू होगी।

ताज़ा ख़बरें

केंद्र सरकार ने एक दिन पहले ही कहा है कि स्पुतनिक वी वैक्सीन अगले हफ़्ते से उपलब्ध हो सकती है। इसकी पहली खेप रूस से 1 मई को ही भारत में आ चुकी है। 

रूस के गेमालेया संस्थान द्वारा विकसित इस वैक्सीन की दो खुराक दी जानी होती है और अंतरराष्ट्रीय बाज़ारों में क़ीमत प्रत्येक खुराक के लिए 10 डॉलर है। मॉडर्ना और फाइज़र के बाद सबसे ज़्यादा प्रभावी वैक्सीन स्पुतनिक-V वैक्सीन 91.6 फ़ीसदी रही है। 

भारत में कोरोना वैक्सीन स्पुतनिक-V के आपात इस्तेमाल को भारत की दवा नियामक संस्था से पिछले महीने 13 अप्रैल को मंजूरी मिल गई। यह मंजूरी कोरोना वैक्सीन की सिफ़ारिश करने के लिए बनी विशेषज्ञ कमेटी यानी एसईसी द्वारा स्पुतनिक-V के आपात इस्तेमाल की मंजूरी के लिए सिफ़ारिश करने के कुछ देर बाद ही आई। तब रसियन डायरेक्ट इंवेस्टमेंट फंड ने कहा था, 'डॉ. रेड्डीज लेबोरेटरीज़ के साथ साझेदारी में भारत में हुए अतिरिक्त तीसरे चरण के क्लिनिकल ट्रायल के साथ रूस में क्लिनिकल ट्रायल के परिणामों के आधार पर भारत में वैक्सीन को आपातकालीन उपयोग प्रक्रिया के तहत पंजीकृत किया गया है।' 
इस स्पुतनिक वी के साथ ही भारत में कोरोना की तीन वैक्सीन उपलब्ध हो गई है। ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी-एस्ट्राज़ेनेका से क़रार करने वाले सीरम इंस्टीट्यूट की कोविशील्ड और भारत बायोटेक की कोवैक्सीन का इस्तेमाल पहले से ही किया जा रहा है।
स्पुतनिक वैक्सीन लिक्विड और पाउडर दोनों रूपों में उपलब्ध है। इस वैक्सीन के तरल रूप को माइनस 18 डिग्री में रखने जाने की आवश्यकता है। पाउडर रूप में इसे 2 और 8 डिग्री के बीच रखा जा सकता है।
imported sputnik v to cost 995 rupees per shot, first shot administered - Satya Hindi

बता दें कि देश में कोरोना वैक्सीन की भारी कमी की शिकायतों के बीच केंद्र सरकार ने गुरुवार को ही दावा किया है कि इस साल के आख़िर तक यानी दिसंबर महीने तक भारत में 200 करोड़ से ज़्यादा वैक्सीन उपलब्ध होगी। इसमें स्पुतनिक वी की वैक्सीन को भी जोड़ा गया है। केंद्र की ओर से कहा गया है कि इस साल के आख़िर तक स्पुतनिक वी की 15.6 करोड़ वैक्सीन भारत में उपलब्ध होगी।  

नीति आयोग के सदस्य और सरकार के सलाहकार वी के पॉल ने पत्रकारों से कहा, 'भारत के लिए और भारत के लोगों के लिए पाँच महीनों में दो बिलियन खुराक (216 करोड़) देश में बनाई जाएगी। जैसे-जैसे हम आगे बढ़ेंगे, वैक्सीन सभी के लिए उपलब्ध होगी।' इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि अगले साल की पहली तिमाही तक कोरोना टीके की यह संख्या 300 करोड़ होने की उम्मीद है।

देश से और ख़बरें

अभी इस साल के आख़िर तक जो क़रीब दो सौ करोड़ टीके तैयार होने की उम्मीद जताई गई है उसमें कोविशील्ड की 75 करोड़ खुराक और कोवैक्सीन की क़रीब 55 करोड़ खुराक शामिल है। 

इसके अलावा इसमें भारत के बायोलॉजिकल ई द्वारा विकसित वैक्सीन की 30 करोड़ खुराक, सीरम इंस्टीट्यूट से नोवावैक्स की 20 करोड़ खुराक, स्पुतनिक वी की 15.6 करोड़ खुराक, भारत बायोटेक की नेजल वैक्सीन की 10 करोड़ खुराक, ज़ायडस कैडिला से 5 करोड़ टीके और गेनोवा की 6 करोड़ खुराक शामिल हैं। 

सत्य हिन्दी ऐप डाउनलोड करें

गोदी मीडिया और विशाल कारपोरेट मीडिया के मुक़ाबले स्वतंत्र पत्रकारिता का साथ दीजिए और उसकी ताक़त बनिए। 'सत्य हिन्दी' की सदस्यता योजना में आपका आर्थिक योगदान ऐसे नाज़ुक समय में स्वतंत्र पत्रकारिता को बहुत मज़बूती देगा। याद रखिए, लोकतंत्र तभी बचेगा, जब सच बचेगा।

नीचे दी गयी विभिन्न सदस्यता योजनाओं में से अपना चुनाव कीजिए। सभी प्रकार की सदस्यता की अवधि एक वर्ष है। सदस्यता का चुनाव करने से पहले कृपया नीचे दिये गये सदस्यता योजना के विवरण और Membership Rules & NormsCancellation & Refund Policy को ध्यान से पढ़ें। आपका भुगतान प्राप्त होने की GST Invoice और सदस्यता-पत्र हम आपको ईमेल से ही भेजेंगे। कृपया अपना नाम व ईमेल सही तरीक़े से लिखें।
सत्य अनुयायी के रूप में आप पाएंगे:
  1. सदस्यता-पत्र
  2. विशेष न्यूज़लेटर: 'सत्य हिन्दी' की चुनिंदा विशेष कवरेज की जानकारी आपको पहले से मिल जायगी। आपकी ईमेल पर समय-समय पर आपको हमारा विशेष न्यूज़लेटर भेजा जायगा, जिसमें 'सत्य हिन्दी' की विशेष कवरेज की जानकारी आपको दी जायेगी, ताकि हमारी कोई ख़ास पेशकश आपसे छूट न जाय।
  3. 'सत्य हिन्दी' के 3 webinars में भाग लेने का मुफ़्त निमंत्रण। सदस्यता तिथि से 90 दिनों के भीतर आप अपनी पसन्द के किसी 3 webinar में भाग लेने के लिए प्राथमिकता से अपना स्थान आरक्षित करा सकेंगे। 'सत्य हिन्दी' सदस्यों को आवंटन के बाद रिक्त बच गये स्थानों के लिए सामान्य पंजीकरण खोला जायगा। *कृपया ध्यान रखें कि वेबिनार के स्थान सीमित हैं और पंजीकरण के बाद यदि किसी कारण से आप वेबिनार में भाग नहीं ले पाये, तो हम उसके एवज़ में आपको अतिरिक्त अवसर नहीं दे पायेंगे।
सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें

अपनी राय बतायें

देश से और खबरें

ताज़ा ख़बरें

सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें