loader
मैसूर में मस्जिद ए आजम के बाहर राहुल गांधी

राहुल गांधी का हर एक्शन अब वायरल क्यों हो रहा है

भारत जोड़ो यात्रा में राहुल गांधी का हर एक्शन अब वायरल होता जा रहा है। कांग्रेस केरल के मुकाबले बीजेपी शासित कर्नाटक में इस तरह के रिस्पांस की उम्मीद नहीं कर रही थी। केरल में जिस तरह से भारत जोड़ो यात्रा को समर्थन मिला था, उसे देखते हुए कर्नाटक को लेकर तमाम तरह की आशंकाएं थीं। लेकिन यात्रा 30 सितंबर को कर्नाटक में प्रवेश करने के बाद सुर्खियों में है। भारत जोड़ो यात्रा के लिए कल रविवार 2 अक्टूबर और आज सोमवार 3 अक्टूबर का दिन खासा महत्वपूर्ण है। कर्नाटक में बीजेपी समर्थक मीडिया भी भारत जोड़ो यात्रा को नजरन्दाज नहीं कर पा रहा है। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी भी इस यात्रा में शामिल होने वाली हैं। उसके बाद यात्रा नई गति पकड़ेगी। 

मैसूर में रविवार रात को भारी बारिश के बीच राहुल गांधी का संबोधन वायरल हो गया है। इस रैली में राहुल ने राज्य सरकार पर भ्रष्ट होने का आरोप लगाते हुए बीजेपी पर हमला किया। लगातार बारिश के बावजूद, राहुल ने अपना भाषण जारी रखा और भीड़ भी उसी तरह उन्हें सुनती रही। यह हैरान कर देने वाला दृश्य था। रविवार देर रात से ही तमाम वीडियो और फोटो यह ट्विटर पर टॉप ट्रेंड में शामिल हैं। हर कोई राहुल के इस धैर्य की तारीफ कर रहा है।
ताजा ख़बरें
सोमवार को भी यही हाल है। राहुल 3 अक्टूबर को मैसूर के सुत्तूर मठ में गए। शिवरात्रि दशिकेंद्र महास्वामी से उन्होंने मुलाकात की और उनका आशीर्वाद लिया।
Rahul Gandhi every action viral now in Bharat Jodo Yatra - Satya Hindi
सुत्तूर मठ के महास्वामी के साथ राहुल गांधी
इसके बाद राहुल मस्जिद ए आजम में गए और वहां नमाजियों और इमाम से मुलाकात की और उनसे दुआएं हासिल कीं। मस्जिद तक राहुल को लाने वाले पूर्व सीएम सिद्धरमैया थे। वहां पर और भी मस्जिदों के इमाम पहुंचे और उन्होंने कांग्रेस के सत्ता में लौटने की दुआएं मांगी।
Rahul Gandhi every action viral now in Bharat Jodo Yatra - Satya Hindi
सेंट फिलोमिना चर्च में सोमवार को राहुल गांधी
मस्जिद के बाद राहुल ने सेंट फिलोमिना चर्च में जाकर फादर से मुलाकात की। यहां उनको ले जाने वाले प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष डी के शिवकुमार सबसे आगे रहे। इस चर्च में भी मैसूर के सारे ईसाई राहुल को आशीष देने के लिए जमा थे।

राहुल का तीनों धार्मिक स्थलों पर जाना महज प्रतीकात्मक है। लेकिन इन जगहों की फोटो इस समय सोशल मीडिया पर वायरल हैं। लोग इन फोटो पर टिप्पणी कर रहे हैं कि दरअसल, भारत की मुकम्मल तस्वीर यही है, जो न जाने कहां खो गई थी। हर पार्टी को इसी तरह सभी धर्मों और सम्प्रदायों को साथ लेकर चलना चाहिए। बीजेपी के तमाम ट्विटर हैंडल ठीक से आज राहुल के इस कदम की आलोचना तक नहीं कर पा रहे हैं। 
सोशल मीडिया के रुझान को देखकर लग रहा है कि पब्लिक को कांग्रेस का यही रूप पसंद है। इसलिए लोग वीडियो और फोटो को वायरल कर रहे हैं। आमतौर पर पार्टी के कार्यकर्ता ऐसा करते हैं लेकिन राहुल से जुड़े वीडियो और फोटो आम लोग रीट्वीट कर रहे हैं।
सत्य हिन्दी ऐप डाउनलोड करें

गोदी मीडिया और विशाल कारपोरेट मीडिया के मुक़ाबले स्वतंत्र पत्रकारिता का साथ दीजिए और उसकी ताक़त बनिए। 'सत्य हिन्दी' की सदस्यता योजना में आपका आर्थिक योगदान ऐसे नाज़ुक समय में स्वतंत्र पत्रकारिता को बहुत मज़बूती देगा। याद रखिए, लोकतंत्र तभी बचेगा, जब सच बचेगा।

नीचे दी गयी विभिन्न सदस्यता योजनाओं में से अपना चुनाव कीजिए। सभी प्रकार की सदस्यता की अवधि एक वर्ष है। सदस्यता का चुनाव करने से पहले कृपया नीचे दिये गये सदस्यता योजना के विवरण और Membership Rules & NormsCancellation & Refund Policy को ध्यान से पढ़ें। आपका भुगतान प्राप्त होने की GST Invoice और सदस्यता-पत्र हम आपको ईमेल से ही भेजेंगे। कृपया अपना नाम व ईमेल सही तरीक़े से लिखें।
सत्य अनुयायी के रूप में आप पाएंगे:
  1. सदस्यता-पत्र
  2. विशेष न्यूज़लेटर: 'सत्य हिन्दी' की चुनिंदा विशेष कवरेज की जानकारी आपको पहले से मिल जायगी। आपकी ईमेल पर समय-समय पर आपको हमारा विशेष न्यूज़लेटर भेजा जायगा, जिसमें 'सत्य हिन्दी' की विशेष कवरेज की जानकारी आपको दी जायेगी, ताकि हमारी कोई ख़ास पेशकश आपसे छूट न जाय।
  3. 'सत्य हिन्दी' के 3 webinars में भाग लेने का मुफ़्त निमंत्रण। सदस्यता तिथि से 90 दिनों के भीतर आप अपनी पसन्द के किसी 3 webinar में भाग लेने के लिए प्राथमिकता से अपना स्थान आरक्षित करा सकेंगे। 'सत्य हिन्दी' सदस्यों को आवंटन के बाद रिक्त बच गये स्थानों के लिए सामान्य पंजीकरण खोला जायगा। *कृपया ध्यान रखें कि वेबिनार के स्थान सीमित हैं और पंजीकरण के बाद यदि किसी कारण से आप वेबिनार में भाग नहीं ले पाये, तो हम उसके एवज़ में आपको अतिरिक्त अवसर नहीं दे पायेंगे।
सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें

अपनी राय बतायें

देश से और खबरें

ताज़ा ख़बरें

सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें