loader

मूसेवाला हत्याकांड: कैलिफोर्निया से हिरासत में लिया गया गोल्डी बराड़ 

जाने-माने गायक सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड के मास्टरमाइंड गोल्डी बराड़ को कैलिफोर्निया से हिरासत में ले लिया गया है। मीडिया में आई खबरों के मुताबिक भारत की खुफिया एजेंसियों ने अंतरराष्ट्रीय सूत्रों से मिले इनपुट के आधार पर यह कार्रवाई की।

सिद्धू मूसेवाला की 29 मई को अपने गांव से कुछ ही दूरी पर हमलावरों ने ताबड़तोड़ गोलियां बरसा कर हत्या कर दी थी। उनकी पोस्टमार्टम रिपोर्ट से पता चला था कि सिद्धू मूसेवाला को 19 गोलियां लगी थीं और हमले के 15 मिनट के अंदर उनकी मौत हो गई थी। गुरुवार को ही सिद्धू मूसेवाला के पिता बलकौर सिंह ने मांग की थी कि पंजाब सरकार और पुलिस गोल्डी बराड़ पर 2 करोड़ रुपए का इनाम घोषित करे। उन्होंने कहा था कि अगर पंजाब सरकार ऐसा नहीं करती है तो वह अपनी जेब से 2 करोड़ रुपए देने के लिए तैयार हैं।

मूसेवाला की हत्या के बाद गोल्डी बराड़ ने जो फेसबुक पोस्ट लिखी थी, उसमें उसने लिखा था, “मैं, सचिन बिश्नोई धत्तरांवाली, लॉरेंस बिश्नोई के साथ मिलकर सिद्धू मूसेवाला की हत्या की जिम्मेदारी लेता हूं। सिद्धू मूसेवाला का नाम विक्की मिड्डूखेड़ा और गुरलाल बराड़ की हत्या के मामले में सामने आया था। इसके बावजूद पुलिस ने कुछ नहीं किया।”

Sidhu Moose Wala murder mastermind Goldy Brar detained in California - Satya Hindi
सिद्धू मूसेवाला की हत्या से एक दिन पहले ही पंजाब सरकार ने 400 से ज्यादा लोगों की सुरक्षा वापस ले ली थी और इसे लेकर अखबारों में विज्ञापन भी दिया था। लेकिन सिद्धू की हत्या के बाद जब सरकार का पुरजोर विरोध हुआ तो उसने जिन लोगों की सुरक्षा वापस ली गई थी उनकी सुरक्षा 7 जून से बहाल कर दी थी। 
ताज़ा ख़बरें

लॉरेंस बिश्नोई गैंग का नाम 

सिद्धू मूसेवाला की हत्या के बाद जब गैंगस्टर गोल्डी बराड़ ने इसकी जिम्मेदारी ली थी तभी इस मामले में लॉरेंस बिश्नोई गैंग का नाम सामने आ गया था। लॉरेंस बिश्नोई इन दिनों दिल्ली की तिहाड़ जेल में बंद है। लॉरेंस बिश्नोई ने पुलिस की पूछताछ में स्वीकार किया था कि उसके ही गैंग ने सिद्धू मूसेवाला की हत्या की है। 

लॉरेंस बिश्नोई के खिलाफ दिल्ली, राजस्थान और पंजाब में कई मुकदमे दर्ज हैं। बिश्नोई गैंग शराब माफियाओं, पंजाबी गायकों और तमाम दूसरे लोगों से रंगदारी वसूली का काम करता है। कहा जाता है कि लॉरेंस बिश्नोई के गैंग में 700 से ज्यादा शार्प शूटर शामिल हैं।

Sidhu Moose Wala murder mastermind Goldy Brar detained in California - Satya Hindi

विक्की मिड्डूखेड़ा की हत्या

विक्की मिड्डूखेड़ा की बीते साल अगस्त में मोहाली में हत्या कर दी गई थी। वह युवा अकाली दल का नेता था। विक्की मिड्डूखेड़ा और लॉरेंस बिश्नोई दोनों कॉलेज के वक्त से बहुत अच्छे दोस्त थे और उसी दौरान इनकी दोस्ती गोल्डी बराड़ से हुई थी। विक्की मिड्डूखेड़ा की हत्या के बाद इन्होंने सिद्धू मूसेवाला को धमकी दी थी क्योंकि विक्की मिड्डूखेड़ा की हत्या मामले में सिद्धू मूसेवाला के मैनेजर का नाम सामने आया था। 

देश से और खबरें

गैंगस्टरों पर पैनी निगाह

सिद्धू मूसेवाला की हत्या के बाद से ही दिल्ली पुलिस नीरज बवाना, टिल्लू ताजपुरिया और लॉरेंस बिश्नोई-काला जठेड़ी-गोल्डी बराड़ के गैंग के अपराधियों से जुड़े बदमाशों पर लगातार निगाह रख रही है। यह सभी बदमाश दिल्ली की अलग-अलग जेलों में बंद हैं। पंजाब पुलिस भी इसे लेकर खासी सतर्क है। 

सत्य हिन्दी ऐप डाउनलोड करें

गोदी मीडिया और विशाल कारपोरेट मीडिया के मुक़ाबले स्वतंत्र पत्रकारिता का साथ दीजिए और उसकी ताक़त बनिए। 'सत्य हिन्दी' की सदस्यता योजना में आपका आर्थिक योगदान ऐसे नाज़ुक समय में स्वतंत्र पत्रकारिता को बहुत मज़बूती देगा। याद रखिए, लोकतंत्र तभी बचेगा, जब सच बचेगा।

नीचे दी गयी विभिन्न सदस्यता योजनाओं में से अपना चुनाव कीजिए। सभी प्रकार की सदस्यता की अवधि एक वर्ष है। सदस्यता का चुनाव करने से पहले कृपया नीचे दिये गये सदस्यता योजना के विवरण और Membership Rules & NormsCancellation & Refund Policy को ध्यान से पढ़ें। आपका भुगतान प्राप्त होने की GST Invoice और सदस्यता-पत्र हम आपको ईमेल से ही भेजेंगे। कृपया अपना नाम व ईमेल सही तरीक़े से लिखें।
सत्य अनुयायी के रूप में आप पाएंगे:
  1. सदस्यता-पत्र
  2. विशेष न्यूज़लेटर: 'सत्य हिन्दी' की चुनिंदा विशेष कवरेज की जानकारी आपको पहले से मिल जायगी। आपकी ईमेल पर समय-समय पर आपको हमारा विशेष न्यूज़लेटर भेजा जायगा, जिसमें 'सत्य हिन्दी' की विशेष कवरेज की जानकारी आपको दी जायेगी, ताकि हमारी कोई ख़ास पेशकश आपसे छूट न जाय।
  3. 'सत्य हिन्दी' के 3 webinars में भाग लेने का मुफ़्त निमंत्रण। सदस्यता तिथि से 90 दिनों के भीतर आप अपनी पसन्द के किसी 3 webinar में भाग लेने के लिए प्राथमिकता से अपना स्थान आरक्षित करा सकेंगे। 'सत्य हिन्दी' सदस्यों को आवंटन के बाद रिक्त बच गये स्थानों के लिए सामान्य पंजीकरण खोला जायगा। *कृपया ध्यान रखें कि वेबिनार के स्थान सीमित हैं और पंजीकरण के बाद यदि किसी कारण से आप वेबिनार में भाग नहीं ले पाये, तो हम उसके एवज़ में आपको अतिरिक्त अवसर नहीं दे पायेंगे।
सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें

अपनी राय बतायें

देश से और खबरें

ताज़ा ख़बरें

सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें