loader
पंजाबी गायक सिद्धू मूसेवाला का यह फोटो उनके इंस्टाग्राम प्रोफाइल से

सिद्धू मूसेवाला की हत्या में पहली गिरफ्तारी उत्तराखंड से

पंजाब पुलिस ने पंजाब के लोकप्रिय गायक और कांग्रेस नेता सिद्धू मूसेवाला की हत्या के आरोप में मनप्रीत सिंह नामक युवक को गिरफ्तार किया है। उसकी गिरफ्तारी उत्तराखंड से की गई है। सिद्धू की हत्या सोमवार को मानसा के पास की गई थी। मंगलवार को उनके गांव मूसेवाला में उनका अंतिम संस्कार कर दिया गया, जिसमें भारी तादाद में जनता इस लोकप्रिय गायक को श्रद्धांजलि अर्पित करने पहुंची।
आरोपी मनप्रीत सिंह को मानसा कोर्ट में पेश किया गया, जहां से उसे पांच दिनों की रिमांड पर पुलिस को सौंप दिया गया है। पुलिस के मुताबिक आरोपी फरीदकोट का रहने वाला है। दरअसल, पंजाब पुलिस ने सोमवार को इस हत्याकांड में जिन 6 लोगों को हिरासत में लिया था, उन्हीं में आरोपी मनप्रीत भी शामिल था। 
ताजा ख़बरें

पुलिस के मुताबिक एक ऑटोमेटिक असॉल्ट राइफल से सिद्धू मूसेवाला को 30 बार गोली मारी गई थी। वो उस समय अपने दो दोस्तों के साथ मानसा स्थित अपने गांव मूसेवाला आ रहे थे। पंजाब सरकार ने एक दिन पहले उनकी सुरक्षा वापस ले ली थी। मूसेवाला के पास खुद की बुलेटप्रूफ गाड़ी थी, लेकिन उस दिन वो उस गाड़ी में नहीं थे। सिद्धू मूसेवाला ने हाल ही में पंजाब विधानसभा का चुनाव कांग्रेस टिकट पर लड़ा था।

पंजाब पुलिस अभी तक इसे गैंगवॉर बता रही थी। मनप्रीत का किस गैंग से संबंध है या उसने भाड़े पर हत्या की है, यह बात साफ नहीं है। पंजाब पुलिस ने अभी तक इस संबंध में पूरी जानकारी नहीं दी है। इस घटना का सीसीटीवी फुटेज भी सामने आया है जिससे पता चला है कि सिद्धू मूसेवाला का हमलावरों ने पीछा किया था।
देश से और खबरें

सिद्धू मूसेवाला का असली नाम शुभदीप सिंह सिद्धू था लेकिन उनके गांव का नाम मूसा है और इसलिए वह सिद्धू मूसेवाला के नाम से पंजाब के साथ ही इसके बाहर भी लोकप्रिय थे। पंजाब पुलिस ने बताया था कि गैंगस्टर गोल्डी बराड़ ने सिद्धू मूसेवाला की हत्या की जिम्मेदारी ली है। सिद्धू मूसेवाला की हत्या के बाद दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल लॉरेंस बिश्नोई और उसके सहयोगी काला जठेड़ी से भी पूछताछ में जुटी हुई है। पंजाब पुलिस के डीजीपी वीके भवरा ने कहा है कि सिद्धू मूसेवाला की हत्या गैंगवार का नतीजा हो सकती है।

सिद्धू मूसेवाला के पिता बलकौर सिंह सिद्धू ने मांग की है कि उनके बेटे की हत्या के मामले की जांच सीबीआई और एनआईए से कराई जानी चाहिए। इससे पहले पंजाब के जाने-माने गायक सिद्धू मूसेवाला का मंगलवार को अंतिम संस्कार कर दिया गया। इससे पहले मूसेवाला के शव को उनके गांव में स्थित घर के बाहर अंतिम दर्शन के लिए रखा गया था। इस मौके पर बड़ी संख्या में सिद्धू मूसेवाला के समर्थक अपने पसंदीदा गायक के अंतिम दर्शन के लिए पहुंचे। इनमें बड़ी संख्या में नौजवान शामिल रहे। श्मशान घाट पर भी बड़ी संख्या में लोगों का हुजूम लगा रहा और इस दौरान लोग गमगीन रहे।

सत्य हिन्दी ऐप डाउनलोड करें

गोदी मीडिया और विशाल कारपोरेट मीडिया के मुक़ाबले स्वतंत्र पत्रकारिता का साथ दीजिए और उसकी ताक़त बनिए। 'सत्य हिन्दी' की सदस्यता योजना में आपका आर्थिक योगदान ऐसे नाज़ुक समय में स्वतंत्र पत्रकारिता को बहुत मज़बूती देगा। याद रखिए, लोकतंत्र तभी बचेगा, जब सच बचेगा।

नीचे दी गयी विभिन्न सदस्यता योजनाओं में से अपना चुनाव कीजिए। सभी प्रकार की सदस्यता की अवधि एक वर्ष है। सदस्यता का चुनाव करने से पहले कृपया नीचे दिये गये सदस्यता योजना के विवरण और Membership Rules & NormsCancellation & Refund Policy को ध्यान से पढ़ें। आपका भुगतान प्राप्त होने की GST Invoice और सदस्यता-पत्र हम आपको ईमेल से ही भेजेंगे। कृपया अपना नाम व ईमेल सही तरीक़े से लिखें।
सत्य अनुयायी के रूप में आप पाएंगे:
  1. सदस्यता-पत्र
  2. विशेष न्यूज़लेटर: 'सत्य हिन्दी' की चुनिंदा विशेष कवरेज की जानकारी आपको पहले से मिल जायगी। आपकी ईमेल पर समय-समय पर आपको हमारा विशेष न्यूज़लेटर भेजा जायगा, जिसमें 'सत्य हिन्दी' की विशेष कवरेज की जानकारी आपको दी जायेगी, ताकि हमारी कोई ख़ास पेशकश आपसे छूट न जाय।
  3. 'सत्य हिन्दी' के 3 webinars में भाग लेने का मुफ़्त निमंत्रण। सदस्यता तिथि से 90 दिनों के भीतर आप अपनी पसन्द के किसी 3 webinar में भाग लेने के लिए प्राथमिकता से अपना स्थान आरक्षित करा सकेंगे। 'सत्य हिन्दी' सदस्यों को आवंटन के बाद रिक्त बच गये स्थानों के लिए सामान्य पंजीकरण खोला जायगा। *कृपया ध्यान रखें कि वेबिनार के स्थान सीमित हैं और पंजीकरण के बाद यदि किसी कारण से आप वेबिनार में भाग नहीं ले पाये, तो हम उसके एवज़ में आपको अतिरिक्त अवसर नहीं दे पायेंगे।
सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें

अपनी राय बतायें

देश से और खबरें

ताज़ा ख़बरें

सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें