loader

वीके सिंह के बयान पर चीन बोला- भारत ने एलएसी पर उल्लंघन को स्वीकारा

भारत-चीन के रिश्तों में बीते कई महीनों से चल रहे तनाव के बीच दोनों देशों की केंद्र सरकारों के मंत्रियों या आला अफ़सरों का कोई भी बयान बेहद अहम होता है क्योंकि इस पर दुनिया के बाक़ी देशों की भी नज़र होती है। भारत के परिवहन राज्य मंत्री वीके सिंह के यह कहने कि “अगर चीन ने लाइन ऑफ़ एक्चुअल कंट्रोल (एलएसी) का 10 बार उल्लंघन किया है तो भारत ने कम से कम ऐसा 50 बार किया होगा”, इस पर चीन ने प्रतिक्रिया दी है। वीके सिंह ने यह बात रविवार को मदुरै में कही। 

सेना प्रमुख रह चुके वीके सिंह के इस बयान पर चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता वांग वेनबिन ने सोमवार को कहा कि भारत की ओर से किया जा रहा भारत-चीन की सीमा का उल्लंघन तनाव का प्रमुख कारण है। 

ताज़ा ख़बरें

वेनबिन ने कहा, “भारत की ओर से न चाहने के बाद भी इस बात को स्वीकार किया गया है। लंबे समय से भारत की ओर से सीमाई इलाक़ों में बिना इजाजत के चीनी सीमा में घुसने की कोशिशों की वजह से विवाद हुए हैं और यही सीमा पर तनाव की मुख्य वजह है।” 

वेनबिन ने कहा कि चीन भारत से अपील करता है कि वह दोनों देशों के बीच हो चुके समझौतों, संधियों और आम सहमति का पालन करे और इसी से सीमाई इलाक़ों में शांति का माहौल बन सकता है। 

चीन की नापाक हरक़तों पर देखिए विश्लेषण- 

निश्चित रूप से वीके सिंह के बयान को चीन अंतरराष्ट्रीय जगत में इस्तेमाल कर सकता है। चीन इसे इस तरह दिखाएगा कि भारत की ओर से ख़ुद ही स्वीकार कर लिया गया है कि उसने उससे कहीं ज़्यादा बार सीमा पर एलएसी का उल्लंघन किया है, ऐसे में दोनों देशों के बीच किसी तरह का विवाद या जंग होने पर उसे दोष नहीं दिया जा सकता। 

अरुणाचल में चीन का अतिक्रमण 

हाल ही में एनडीटीवी ने ख़बर दी थी कि चीन अरुणाचल में भारत की सीमा के अंदर घुस आया है और उसने एक पूरा गांव बसा लिया है। इस गांव में 101 घर हैं और यह भारतीय सीमा के 4.5 किमी. अंदर है। चीन ने यह गांव सुबनसिरी जिले के त्सारी चू नदी के किनारे बसाया है। यह इलाक़ा भारत और चीन के बीच लंबे वक़्त से विवादित रहा है और सैन्य संघर्ष वाला क्षेत्र रहा है। इसके अलावा चीन सीमाई इलाक़ों में अपनी फ़ोर्स की तैनाती कर रहा है और नई चौकियां भी बना रहा है। 

देश से और ख़बरें

वीके सिंह ने इसे लेकर कहा कि सरकार इस पर पूरी नज़र रख रही है। उन्होंने कहा कि चीन ने पूर्वी लद्दाख में अतिक्रमण करने की कोशिश की तो भारत ने उसे उसकी भाषा में जवाब दिया और आज चीन दबाव में हैं। 

चीन का रवैया विस्तारवाद का रहा है और वह लगातार भारत की सीमाओं में अशांति के हालात बनाने की कोशिश करता रहा है। लेकिन दूसरी ओर वह सीमा पर शांति की वकालत भी करता है। ऐसा करना उसकी चतुरता है लेकिन जब सेना प्रमुख रह चुका कोई शख़्स बतौर भारत सरकार के मंत्री होने के नाते यह कहेगा कि भारत ने चीन से ज़्यादा बार एलएसी पर उल्लंघन किया है तो निश्चित रूप से भारत को इसका जवाब देना मुश्किल हो जाएगा। 

सत्य हिन्दी ऐप डाउनलोड करें

गोदी मीडिया और विशाल कारपोरेट मीडिया के मुक़ाबले स्वतंत्र पत्रकारिता का साथ दीजिए और उसकी ताक़त बनिए। 'सत्य हिन्दी' की सदस्यता योजना में आपका आर्थिक योगदान ऐसे नाज़ुक समय में स्वतंत्र पत्रकारिता को बहुत मज़बूती देगा। याद रखिए, लोकतंत्र तभी बचेगा, जब सच बचेगा।

नीचे दी गयी विभिन्न सदस्यता योजनाओं में से अपना चुनाव कीजिए। सभी प्रकार की सदस्यता की अवधि एक वर्ष है। सदस्यता का चुनाव करने से पहले कृपया नीचे दिये गये सदस्यता योजना के विवरण और Membership Rules & NormsCancellation & Refund Policy को ध्यान से पढ़ें। आपका भुगतान प्राप्त होने की GST Invoice और सदस्यता-पत्र हम आपको ईमेल से ही भेजेंगे। कृपया अपना नाम व ईमेल सही तरीक़े से लिखें।
सत्य अनुयायी के रूप में आप पाएंगे:
  1. सदस्यता-पत्र
  2. विशेष न्यूज़लेटर: 'सत्य हिन्दी' की चुनिंदा विशेष कवरेज की जानकारी आपको पहले से मिल जायगी। आपकी ईमेल पर समय-समय पर आपको हमारा विशेष न्यूज़लेटर भेजा जायगा, जिसमें 'सत्य हिन्दी' की विशेष कवरेज की जानकारी आपको दी जायेगी, ताकि हमारी कोई ख़ास पेशकश आपसे छूट न जाय।
  3. 'सत्य हिन्दी' के 3 webinars में भाग लेने का मुफ़्त निमंत्रण। सदस्यता तिथि से 90 दिनों के भीतर आप अपनी पसन्द के किसी 3 webinar में भाग लेने के लिए प्राथमिकता से अपना स्थान आरक्षित करा सकेंगे। 'सत्य हिन्दी' सदस्यों को आवंटन के बाद रिक्त बच गये स्थानों के लिए सामान्य पंजीकरण खोला जायगा। *कृपया ध्यान रखें कि वेबिनार के स्थान सीमित हैं और पंजीकरण के बाद यदि किसी कारण से आप वेबिनार में भाग नहीं ले पाये, तो हम उसके एवज़ में आपको अतिरिक्त अवसर नहीं दे पायेंगे।
सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें

अपनी राय बतायें

देश से और खबरें

ताज़ा ख़बरें

सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें