loader

सीतारमण  : निजी-सरकारी क्षेत्र की कंपनियाँ बनाएंगी 6 नए हवाई अड्डे

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने एक बेहद अहम फ़ैसले में एलान किया है कि नागरिक विमानन क्षेत्र को निजी कंपनियों के लिए और अधिक खोला जाएगा।
उन्होंने कहा कि एअर स्पेस को खोलने पर ध्यान दिया जाएगा और इसे सरल बनाया जाएगा। इससे ज़्यादा विमानन कंपनियों को और अधिक एअर स्पेस मिल सकेगा। इससे सालाना एक हज़ार करोड़ रुपए का कारोबार बढ़ जाएगा।
उन्होंने यह भी कहा कि पब्लिक-प्राइवेट-पार्टनरशिप के आधार पर 6 नए हवाई अड्डे बनाए जाएंगे। फ़िलहाल निजी कंपनियां 12 हवाई अड्डों पर काम कर रही हैं। यह निवेश इसके अलावा होगा। 

एअरपोर्ट अथॉरिटी की कमाई बढ़ेगी

वित्त मंत्री ने दावा किया नागरिक विमानन क्षेत्र को और उदार बनाने व एअर स्पेस के उपयोग को अधिक मुक्त करने से तो फायदा होगा ही, पीपीपी पर हवाई अड्डे बनने से एअरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया को 2,300 करोड़ रुपए की अतिरिक्त कमाई होगी। इसके अलावा 12 निजी हवाई अड्डों के बनने से अथॉरिटी को 1000 करोड़ रुपए मिलेंगे। 

वित्त मंत्री ने यह भी कहा कि हवाई जहाजों के मेटींनेस, रिपेअर और ओवरहॉलिंग के काम को उदार बनाया जाएगा और देश के अंदर ही उसकी सुविधा विकसित करने को प्रोत्साहित किया जाएगा। अभी हवाई जहाज़ इस काम के लिए विदेश जाते हैं, उन्हें इस काम पर अधिक खर्च करना पड़ता है। अब यह काम देश में ही हो सकेगा। इससे उन कंपनियों को फ़ायदा होगा और उसके साथ ही सरकार को भी कमाई होगी। देश में यह कारोबार उभरेगा। 

Satya Hindi Logo लोकतंत्र तभी बचेगा, जब सच बचेगा! गोदी मीडिया के इस दौर में पत्रकारिता को राजनीति और कारपोरेट दबावों से मुक्त रखने के लिए 'सत्य हिन्दी' के साथ आइए। नीचे दी गयी कोई भी रक़म जो आप चुनना चाहें, उस पर क्लिक करें। यह पूरी तरह स्वैच्छिक है। आप द्वारा दी गयी राशि आपकी ओर से स्वैच्छिक सेवा शुल्क (Voluntary Service Fee) होगा, जिसकी जीएसटी रसीद हम आपको भेजेंगे।
सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें

अपनी राय बतायें

अर्थतंत्र से और खबरें

ताज़ा ख़बरें

सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें