loader

अमिताभ, अभिषेक के बाद ऐश्वर्या, आराध्या भी कोरोना पॉजिटिव, जया बच्चन निगेटिव

अमिताभ और उनके बेटे अभिषेक बच्चन के कोरोना पॉजिटिव होने के बाद अब अभिषेक की पत्नी ऐश्वर्या और उनकी बेटी आराध्या की रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई है। हालाँकि, अभिषेक की माँ जया बच्चन की रिपोर्ट निगेटिव आई है। अमिताभ और अभिषेक को अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जबकि ऐश्वर्या और आराध्या को अभी कोरोना के कोई लक्षण नहीं दिखे हैं लेकिन उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई हैं। 

बीएमसी की ओर से कहा गया है कि अमिताभ बच्चन के परिवार में गार्ड, मेड सहित 16 लोगों की जाँच की गई है। बाक़ी लोगों की रिपोर्ट आनी बाक़ी है। नानावती सुपर स्पेशलिटी अस्पताल ने कहा है कि अमिताभ बच्चन को हल्के लक्षण हैं और इसके साथ ही उनकी स्थिति स्थिर है और वर्तमान में उन्हें आइसोलेशन में भर्ती किया गया है।

ताज़ा ख़बरें

बता दें कि हिन्दी फ़िल्म उद्योग में सदी के महानायक कहे जाने वाले अमिताभ बच्चन के कोरोना वायरस से संक्रमित होने की रिपोर्ट शनिवार रात ही आई है। ख़ुद अमिताभ ने ही इसकी पुष्टि की। 

बच्चन ने ट्वीट किया था, 'मैं कोविड-पॉज़िटिव हो गया हूँ, मुझे अस्पताल पहुँचाया गया है, वे सारे लोग जो पिछले 10 दिनों में मेरे नज़दीक रहे हैं, उनसे गुजारिश है कि वे अपना कोरोना जाँच कराएँ।' 

उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बार उनके परिवार के दूसरे सदस्यों की भी कोरोना जाँच की गई। देर रात को ही अभिषेक बच्चन की भी रिपोर्ट आ गई। अभिषेक बच्चन ने जानकारी दी कि उनमें भी कोरोना के लक्षण हैं, वह भी कोरोना जाँच में पॉजिटिव पाए गए हैं। 

अभिषेक ने ट्वीट कर कहा, ‘मेरे पिता और मेरा कोरोना का टेस्ट पॉजिटिव आया है। हम दोनों में ही इस वायरस के हल्के लक्षण हैं और अस्पताल में भर्ती हैं। हमने अधिकारियों को इस बारे में बता दिया है और हमारे परिजनों और स्टाफ़ के सदस्यों का टेस्ट किया जा रहा है। मैं आपसे अनुरोध करता हूं कि शांत रहें और परेशान न हों। धन्यवाद।’

महाराष्ट्र से और ख़बरें

हालाँकि रविवार सुबह तक ऐश्वर्या, आराध्या और जया बच्चन की रिपोर्ट नहीं आई थी। दोपहर में उनकी रिपोर्ट आई है। यानी उनके परिवार में अब चार लोग कोरोना से पॉजिटिव हैं।

यह ख़बर फैलते ही लोग दुआएं देने लगे और जल्द स्वस्थ होने की शुभेच्छा भेजने लगे। सोशल मीडिया पर लोगों ने अमिताभ बच्चन के परिवार सदस्यों के जल्दी ठीक होने की कामना की।

'सत्य हिन्दी'
की ताक़त बनिए

गोदी मीडिया और विशाल कारपोरेट मीडिया के मुक़ाबले स्वतंत्र पत्रकारिता का साथ दीजिए और उसकी ताक़त बनिए। 'सत्य हिन्दी' की सदस्यता योजना में आपका आर्थिक योगदान ऐसे नाज़ुक समय में स्वतंत्र पत्रकारिता को बहुत मज़बूती देगा। याद रखिए, लोकतंत्र तभी बचेगा, जब सच बचेगा।

नीचे दी गयी विभिन्न सदस्यता योजनाओं में से अपना चुनाव कीजिए। सभी प्रकार की सदस्यता की अवधि एक वर्ष है। सदस्यता का चुनाव करने से पहले कृपया नीचे दिये गये सदस्यता योजना के विवरण और Membership Rules & NormsCancellation & Refund Policy को ध्यान से पढ़ें। आपका भुगतान प्राप्त होने की GST Invoice और सदस्यता-पत्र हम आपको ईमेल से ही भेजेंगे। कृपया अपना नाम व ईमेल सही तरीक़े से लिखें।
सत्य अनुयायी के रूप में आप पाएंगे:
  1. सदस्यता-पत्र
  2. विशेष न्यूज़लेटर: 'सत्य हिन्दी' की चुनिंदा विशेष कवरेज की जानकारी आपको पहले से मिल जायगी। आपकी ईमेल पर समय-समय पर आपको हमारा विशेष न्यूज़लेटर भेजा जायगा, जिसमें 'सत्य हिन्दी' की विशेष कवरेज की जानकारी आपको दी जायेगी, ताकि हमारी कोई ख़ास पेशकश आपसे छूट न जाय।
  3. 'सत्य हिन्दी' के 3 webinars में भाग लेने का मुफ़्त निमंत्रण। सदस्यता तिथि से 90 दिनों के भीतर आप अपनी पसन्द के किसी 3 webinar में भाग लेने के लिए प्राथमिकता से अपना स्थान आरक्षित करा सकेंगे। 'सत्य हिन्दी' सदस्यों को आवंटन के बाद रिक्त बच गये स्थानों के लिए सामान्य पंजीकरण खोला जायगा। *कृपया ध्यान रखें कि वेबिनार के स्थान सीमित हैं और पंजीकरण के बाद यदि किसी कारण से आप वेबिनार में भाग नहीं ले पाये, तो हम उसके एवज़ में आपको अतिरिक्त अवसर नहीं दे पायेंगे।
सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें

अपनी राय बतायें

महाराष्ट्र से और खबरें

ताज़ा ख़बरें

सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें