loader

मेरा सिर कलम कर दो, गुवाहाटी नहीं जाऊंगाः संजय राउत

ईडी (प्रवर्तन निदेशालय) से मनी लॉन्ड्रिंग मामले में समन मिलने के तुरंत बाद, शिवसेना सांसद संजय राउत ने सोमवार को कहा कि वह "गुवाहाटी नहीं जाएंगे।" राउत ने कहा कि बेशक जांच एजेंसियां उनके खिलाफ कार्रवाई जारी रख सकती है। ईडी ने 60 वर्षीय शिवसेना नेता को पूछताछ के लिए मंगलवार को तलब किया है। ईडी का यह समन महाराष्ट्र में जारी राजनीतिक संकट के बीच आया है। शिवसेना के करीब 38 विधायकों ने बागी होकर एकनाथ शिंदे के के नेतृत्व में गुवाहाटी में पांच सितारा होटल में डेरा डाल रखा है।

राउत ने एक ट्वीट में लिखा - मुझे अभी पता चला है कि ईडी ने मुझे तलब किया है। गुड! महाराष्ट्र में बड़े राजनीतिक घटनाक्रम हो रहे हैं। हम, बालासाहेब के शिवसैनिक एक बड़ी लड़ाई लड़ रहे हैं। यह मुझे रोकने की साजिश है। बेशक अगर आपने मेरा सिर भी काट दिया, तो भी मैं गुवाहाटी का रास्ता नहीं अपनाऊंगा। मुझे गिरफ्तार करो! जय हिंद!

ताजा ख़बरें

क्या है पूरा मामला

राउत बीजेपी के बेहद कड़े आलोचक हैं। अप्रैल में, जांच एजेंसी ने इस कथित रीडेवलपमेंट घोटाले में राउत की पत्नी वर्षा सहित तीन लोगों को 11.15 करोड़ रुपये की अचल संपत्ति कुर्क की थी।

वर्षा राउत और दो अन्य- स्वप्ना पाटकर और प्रवीण राउत की संपत्ति को धन शोधन निवारण अधिनियम (पीएमएलए) के तहत जब्त कर लिया गया। स्वप्ना पाटकर संजय राउत के करीबी सहयोगी सुजीत पाटकर की पत्नी हैं और प्रवीण राउत बिजनेसमैन हैं। ईडी ने 5 अप्रैल को कहा था थि मुंबई के गोरेगांव में पत्रा चॉल परियोजना के पुनर्विकास में अनियमितताओं से संबंधित एक मामले में मनी लॉन्ड्रिंग रोकथाम अधिनियम, 2002 (पीएमएलए) के प्रावधानों के तहत कुल 11,15,56,573 की अचल संपत्तियों को अस्थायी रूप से संलग्न किया है। एस गुरु आशीष कंस्ट्रक्शन प्राइवेट लिमिटेड इसमें शामिल है।

कुर्क की गई संपत्तियों में गुरु आशीष कंस्ट्रक्शन प्राइवेट लिमिटेड, मुंबई के पूर्व निदेशक प्रवीण एम राउत द्वारा पालघर, सफल, पडगा में फ्लैट, वर्षा राउत के दादर में फ्लैट और अलीबाग में किहिम बीच पर संयुक्त रूप से वर्षा राउत की भूमि के रूप में हैं। संजय राउत की पत्नी और सुजीत पाटकर की पत्नी स्वप्ना पाटकर इसमें साझीदार हैं।
पहले यह बताया गया था कि प्रवीण राउत की फर्म ने गोरेगांव में पात्रा चॉल के 672 किरायेदारों के पुनर्वास के लिए निर्माण परियोजना शुरू की थी। उन्हें इस मामले में फरवरी में गिरफ्तार किया गया था।

राकेश कुमार वधावन, सारंग वाधवान और प्रवीण राउत गुरु आशीष कंस्ट्रक्शन के निदेशक थे। समझौते के अनुसार, डेवलपर को 672 किरायेदारों को फ्लैट प्रदान करना था और म्हाडा के लिए फ्लैट विकसित करना था और उसके बाद शेष क्षेत्र को डेवलपर द्वारा बेचा जाना था। हालांकि, ईडी का आरोप है कि राकेश कुमार वधावन, सारंग वाधवान और प्रवीण राउत ने म्हाडा को गुमराह किया। किरायेदारों के लिए पुनर्वसन हिस्से का निर्माण किए बिना लगभग 901.79 करोड़ एकत्र किए।

सत्य हिन्दी ऐप डाउनलोड करें

गोदी मीडिया और विशाल कारपोरेट मीडिया के मुक़ाबले स्वतंत्र पत्रकारिता का साथ दीजिए और उसकी ताक़त बनिए। 'सत्य हिन्दी' की सदस्यता योजना में आपका आर्थिक योगदान ऐसे नाज़ुक समय में स्वतंत्र पत्रकारिता को बहुत मज़बूती देगा। याद रखिए, लोकतंत्र तभी बचेगा, जब सच बचेगा।

नीचे दी गयी विभिन्न सदस्यता योजनाओं में से अपना चुनाव कीजिए। सभी प्रकार की सदस्यता की अवधि एक वर्ष है। सदस्यता का चुनाव करने से पहले कृपया नीचे दिये गये सदस्यता योजना के विवरण और Membership Rules & NormsCancellation & Refund Policy को ध्यान से पढ़ें। आपका भुगतान प्राप्त होने की GST Invoice और सदस्यता-पत्र हम आपको ईमेल से ही भेजेंगे। कृपया अपना नाम व ईमेल सही तरीक़े से लिखें।
सत्य अनुयायी के रूप में आप पाएंगे:
  1. सदस्यता-पत्र
  2. विशेष न्यूज़लेटर: 'सत्य हिन्दी' की चुनिंदा विशेष कवरेज की जानकारी आपको पहले से मिल जायगी। आपकी ईमेल पर समय-समय पर आपको हमारा विशेष न्यूज़लेटर भेजा जायगा, जिसमें 'सत्य हिन्दी' की विशेष कवरेज की जानकारी आपको दी जायेगी, ताकि हमारी कोई ख़ास पेशकश आपसे छूट न जाय।
  3. 'सत्य हिन्दी' के 3 webinars में भाग लेने का मुफ़्त निमंत्रण। सदस्यता तिथि से 90 दिनों के भीतर आप अपनी पसन्द के किसी 3 webinar में भाग लेने के लिए प्राथमिकता से अपना स्थान आरक्षित करा सकेंगे। 'सत्य हिन्दी' सदस्यों को आवंटन के बाद रिक्त बच गये स्थानों के लिए सामान्य पंजीकरण खोला जायगा। *कृपया ध्यान रखें कि वेबिनार के स्थान सीमित हैं और पंजीकरण के बाद यदि किसी कारण से आप वेबिनार में भाग नहीं ले पाये, तो हम उसके एवज़ में आपको अतिरिक्त अवसर नहीं दे पायेंगे।
सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें

अपनी राय बतायें

महाराष्ट्र से और खबरें

ताज़ा ख़बरें

सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें