loader

चुनाव आयोग को सिर्फ प्रियंका का रोड शो क्यों दिखा, अमित शाह का क्यों नहीं दिखता

यूपी चुनाव 2022 के लिए तमाम राजनीतिक दलों का प्रचार चरम पर पहुंच गया है। इस दौरान सभी राजनीतिक दल घर-घर जाकर प्रचार कर रहे हैं लेकिन मुरादाबाद में कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा के ऐसे ही चुनाव प्रचार अभियान को रोड शो बताकर केस दर्ज किया गया है। हालांकि इसी तरह के रोड शो केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने पहले चरण के प्रचार अभियान के दौरान पश्चिमी उत्तर प्रदेश के कई शहरों में किया। भीड़ बढ़ने के कारण अमित शाह का रोड शो रोक दिया गया लेकिन पुलिस ने कभी कोई केस दर्ज नहीं किया। अमरोहा में तो बीएसपी प्रत्याशी के प्रचार अभियान के दौरान पुलिस ने लाठीचार्ज कर दिया। इसी तरह कई जगह समाजवादी पार्टी और रालोद की रैलियों के खिलाफ केस दर्ज किए गए।
ताजा ख़बरें

उत्तर प्रदेश पुलिस ने मुरादाबाद में कांग्रेस नेता रिजवान कुरैशी के घर-घर जाकर प्रचार के दौरान रोड शो जैसी स्थिति को लेकर मामला दर्ज किया है। मुरादाबाद से कांग्रेस के उम्मीदवार कुरैशी ने गुरुवार को पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा के साथ निर्वाचन क्षेत्र में घर-घर जाकर प्रचार किया। हालांकि पुलिस के मुताबिक यह कैंपेन रोड शो जैसा लग रहा था।

मुरादाबाद के एसपी अखिलेश भदौरिया ने कहा, 'कांग्रेस प्रत्याशी रिजवान ने घर-घर जाकर प्रचार करने की अनुमति ली थी, लेकिन देखा गया कि उनके साथ कार में सवार लोगों के साथ रोड शो जैसी स्थिति पैदा हो गई थी। सेक्टर मजिस्ट्रेट की शिकायत के अनुसार, एक मामला दर्ज किया गया है।”

Why only Priyanka's road show was shown to the Election Commission, why not Amit Shah's - Satya Hindi
अमित शाह का मेरठ में 22 जनवरी को हुआ रोडशो चुनाव आयोग नजर नहीं आया
इस पर रिजवान ने पूछा कि राज्य में इसी तरह का चुनाव प्रचार करने पर बीजेपी नेताओं के खिलाफ एफआईआर क्यों दर्ज नहीं की गई। रिजवान ने कहा, “उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री दिनेश शर्मा ने कुछ दिन पहले ऐसा ही चुनावी अभियान चलाया था। मेरठ में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने घर-घर जाकर किया अभियान, उनके खिलाफ एफआईआर क्यों नहीं? डोर-टू-डोर कैंपेन के दौरान अगर लोग बिना शर्त प्यार से हमारा स्वागत करते हैं तो इसमें हमारी कोई गलती नहीं है। बीजेपी डरी हुई है, इसलिए यह राजनीति हो रही है।
अमित शाह ने देवबंद और मेरठ में 28, 29 जनवरी को चुनाव प्रचार अभियान चलाया था। इस दौरान उनके रोडशो में हजारों लोग आ गए थे। इसी तरह कल मोदी सहारनपुर में रैली करने गए थे। सड़क के दोनों ओर भारी तादाद में बीजेपी कार्यकर्ता उनके स्वागत में खड़े थे। यह वीडियो सोशल मीडिया पर भी खूब चला था। उत्तर प्रदेश में सात चरणों का विधानसभा चुनाव 10 फरवरी को शुरू हुआ था। राज्य विधानसभा के लिए दूसरे चरण का मतदान 14 फरवरी को होना है। दूसरे चरण में 55 विधानसभा क्षेत्रों में सहारनपुर, बिजनौर, अमरोहा के नौ जिलों में मतदान होगा। , संभल, मुरादाबाद, रामपुर, बरेली, बदायूं और शाहजहांपुर।

सत्य हिन्दी ऐप डाउनलोड करें

गोदी मीडिया और विशाल कारपोरेट मीडिया के मुक़ाबले स्वतंत्र पत्रकारिता का साथ दीजिए और उसकी ताक़त बनिए। 'सत्य हिन्दी' की सदस्यता योजना में आपका आर्थिक योगदान ऐसे नाज़ुक समय में स्वतंत्र पत्रकारिता को बहुत मज़बूती देगा। याद रखिए, लोकतंत्र तभी बचेगा, जब सच बचेगा।

नीचे दी गयी विभिन्न सदस्यता योजनाओं में से अपना चुनाव कीजिए। सभी प्रकार की सदस्यता की अवधि एक वर्ष है। सदस्यता का चुनाव करने से पहले कृपया नीचे दिये गये सदस्यता योजना के विवरण और Membership Rules & NormsCancellation & Refund Policy को ध्यान से पढ़ें। आपका भुगतान प्राप्त होने की GST Invoice और सदस्यता-पत्र हम आपको ईमेल से ही भेजेंगे। कृपया अपना नाम व ईमेल सही तरीक़े से लिखें।
सत्य अनुयायी के रूप में आप पाएंगे:
  1. सदस्यता-पत्र
  2. विशेष न्यूज़लेटर: 'सत्य हिन्दी' की चुनिंदा विशेष कवरेज की जानकारी आपको पहले से मिल जायगी। आपकी ईमेल पर समय-समय पर आपको हमारा विशेष न्यूज़लेटर भेजा जायगा, जिसमें 'सत्य हिन्दी' की विशेष कवरेज की जानकारी आपको दी जायेगी, ताकि हमारी कोई ख़ास पेशकश आपसे छूट न जाय।
  3. 'सत्य हिन्दी' के 3 webinars में भाग लेने का मुफ़्त निमंत्रण। सदस्यता तिथि से 90 दिनों के भीतर आप अपनी पसन्द के किसी 3 webinar में भाग लेने के लिए प्राथमिकता से अपना स्थान आरक्षित करा सकेंगे। 'सत्य हिन्दी' सदस्यों को आवंटन के बाद रिक्त बच गये स्थानों के लिए सामान्य पंजीकरण खोला जायगा। *कृपया ध्यान रखें कि वेबिनार के स्थान सीमित हैं और पंजीकरण के बाद यदि किसी कारण से आप वेबिनार में भाग नहीं ले पाये, तो हम उसके एवज़ में आपको अतिरिक्त अवसर नहीं दे पायेंगे।
सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें

अपनी राय बतायें

राजनीति से और खबरें

ताज़ा ख़बरें

सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें