loader

पुलवामा आतंकी हमला : आज की 10 अहम बातें

पुलवामा में हुए आतंकी हमले के बाद देश भर में प्रदर्शन हो रहे हैं। लोगों में आतंकी हमले के ख़िलाफ़ गुस्सा है। पुलवामा के रहने वाले आतंकी आदिल अहमद डार ने इस हमले को अंजाम दिया था। इस हमले में 40 से ज़्यादा जवान शहीद हो गए थे। रविवार को पुलवामा हमले में क्या अहम घटनाक्रम हुए, यहाँ पढ़ें - 
  • जम्मू-कश्मीर प्रशासन ने अलगाववादी नेताओं को मिली सुरक्षा वापस ले ली है। इन अलगाववादी नेताओं में मीरवाइज़ उमर फ़ारूक़, शब्बीर शाह, हाशिम कुरैशी, बिलाल लोन और अब्दुल गनी बट शामिल हैं। इन पांचों अलगाववादी नेताओं को किसी भी तरह की सुरक्षा नहीं दी जाएगी। 
  • बेगूसराय के बरौनी में विकास योजनाओं का शिलान्यास करने पहुँचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हमले में शहीद हुए जवानों को श्रद्धांजलि देने के बाद एक सभा में लोगों को संबोधित करते हुए कहा, ‘जो आग देशवासियों के दिल में लगी है वही मेरे अंदर भी धधक रही है।’
  • हमले के बाद देश के कई इलाक़ों में कश्मीरी छात्र-छात्राओं पर हमले की ख़बरें आईं। इन हमलों के ख़िलाफ़ कई लोगों ने ट्विटर पर कश्मीरी छात्रों को मदद की पेशकश की। 
  • केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ़) ने एडवाइजरी जारी करके कहा है कि कुछ शरारती तत्व पुलवामा आतंकी हमले के शहीदों के शवों के हिस्सों की फ़र्ज़ी तस्वीरें सोशल मीडिया पर शेयर कर रहे हैं। ऐसे लोग समाज में नफ़रत फैला रहे हैं। कृपया ऐसी तस्वीरें और पोस्ट शेयर या लाइक न करें। अगर आपकी नज़र में ऐसी कोई पोस्ट आती है तो उसके बारे में webpro@crpf.gov.in पर जानकारी दें। 
  • कश्मीरी लोगों की मदद के लिए सीआरपीएफ़ ने सीआरपीएफ़ मददगार नाम से ट्विवर हैंडल बनाया है। इस हैंडल से किए गए ट्वीट में कहा गया है कि कश्मीर से बाहर रह रहे लोग ज़रूरत पड़ने पर 24 घंटे और हफ़्ते में सातों दिन उन्हें कॉल कर सकते हैं। सीआरपीएफ़ ने टोल फ़्री नंबर भी 14411 जारी किया है। 
  • भारत ने म्यूनिख सुरक्षा सम्मेलन में जर्मनी, अमेरिका और रूस सहित कई देशों के साथ बैठकों में पुलवामा आतंकवादी हमले का मुद्दा उठाया। सुरक्षा सम्मेलन में भारत की ओर से उप सुरक्षा सलाहकार (डिप्टी एनएसए) पंकज सरन ने हिस्सा लिया। 
  • पूर्व रॉ प्रमुख विक्रम सूद ने कहा कि पुलवामा जैसी घटनाओं के पीछे सुरक्षा इंतजामों में हुई चूक ज़िम्मेदार है। सूद ने कहा, हमले में निश्चित रूप से एक से ज़्यादा लोग शामिल रहे होंगे और उन्हें सीआरपीएफ़ के जवानों के काफिले के मूवमेंट के बारे में जानकारी रही होगी। 
  • पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा, शहीद हुए ऐसे सैनिक, जिनके बच्चे नहीं हैं और इस कारण हम उन्हें नौकरी नहीं दे सकते, उनके माता-पिता को हम 12 लाख रुपये की सहायता राशि के अलावा जीवन भर 10 हजार रुपये मासिक पेंशन भी देंगे। 
  • जम्‍मू-कश्‍मीर के राज्‍यपाल सत्‍यपाल मलिक ने सीआरपीएफ़ के शहीद हेड कांस्‍टेबल नसीर अहमद के परिवार को 20 लाख रुपये की सहायता देने की घोषणा की। 
  • सलमान ख़ान के एनजीओ बीइंग ह्यूमन फाउंडेशन की तरफ़ से शहीदों के परिवार वालों के लिए मदद की राशि भेजी गई है। इसके लिए केंद्रीय गृह राज्यमंत्री किरण रिजिजू ने सलमान ख़ान को धन्यवाद दिया है। 
सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें

अपनी राय बतायें

पुलवामा हमला से और खबरें

ख़ास ख़बरें

सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें