loader

अखिलेश को साक्षी महाराज की धमकी, बोले- योगी को ठोकना आता है, बच कर रहें

उत्तर प्रदेश के उन्नाव से बीजेपी सांसद साक्षी महाराज ने पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के लिए आपत्तिजनक भाषा का इस्तेमाल किया है। साक्षी महाराज ने अखिलेश यादव के उस बयान पर प्रतिक्रिया दी है, जिसमें पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा था कि योगी को कम्प्यूटर चलाना नहीं आता, ठोकना आता है। इस पर बीजेपी सांसद ने कहा, “अखिलेश यादव को समझा दो कि योगी को ठोकना आता है तो थोड़ा बच कर रहें, कहीं तुम्हारा नंबर न आ जाए।” 

साक्षी महाराज ने आगे कहा कि द्रुष्टों, आतंकियों को क्या ठोका नहीं जाएगा। साक्षी महाराज के हिसाब से चलें तो फिर क़ानून, पुलिस व्यवस्था और अदालतों पर पैसा ख़र्च करने की क्या ज़रूरत है। किसी को भी द्रुष्ट बताकर उसे ठोका जा सकता है। 

ताज़ा ख़बरें

संवैधानिक मुल्क़ में देश की संसद में बैठा एक शख़्स जो देश में सरकार चला रही पार्टी का सांसद है, वह इस बात को बेख़ौफ़ होकर सैकड़ों लोगों और कैमरे के सामने कह रहा है। ऐसा शख़्स निश्चित रूप से न्याय या क़ानून व्यवस्था को अपने पैरों की जूती के बराबर ही समझता होगा। 

जिस कार्यक्रम में उन्होंने यह बात कही, उसमें योगी सरकार के मंत्री मोती सिंह भी मौजूद थे। 

एसपी ने दिया जवाब 

साक्षी महाराज के बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए एसपी के प्रवक्ता अनुराग भदौरिया ने कहा कि बीजेपी सांसद का बयान अमर्यादित है और 2022 में उत्तर प्रदेश की जनता वोट के जरिये बीजेपी को ऐसा तमामा मारेगी कि उसे सालों तक इसकी गूंज याद रहेगी। 

और आएंगे ऐसे बयान?

उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव होने में कुछ ही महीने का वक़्त बचा है और उससे पहले इस तरह के बयानों की बाढ़ आने की संभावना से इनकार नहीं किया जा सकता। जैसे उत्तर प्रदेश सरकार में मंत्री आनंद स्वरूप शुक्ला ने कुछ दिन पहले जाने-माने शायर मुनव्वर राणा को लेकर विवादित बयान दिया था। 

शुक्ला ने कहा था कि 1947 में जो मुसलमान इस साज़िश के तहत भारत में रुके थे कि भारत को फिर से बांटेंगे और इसके टुकड़े करेंगे, उन्हीं में से मुनव्वर राणा भी एक हैं। शुक्ला ने आगे कहा था कि मुनव्वर राणा और उनके परिवार के बयानों को हम जानते हैं और निश्चित रूप से वे लोग एनकाउंटर में मारे जाएंगे, जो भारतीयों के ख़िलाफ़ खड़े होंगे, चाहे फिर वे कोई भी हों। 

उत्तर प्रदेश से और ख़बरें

चादर चढ़ाने को बनाया मुद्दा

कुछ दिन पहले एआईएमआईएम प्रमुख असदउद्दीन ओवैसी बहराइच जाकर सैयद सालार मसूद गाज़ी की मज़ार पर चादर क्या चढ़ा आए थे तब भी बीजेपी ने उनके ख़िलाफ़ मोर्चा खोल दिया था। यूपी सरकार के मंत्री अनिल राजभर सामने आए थे और उन्होंने कहा था कि सैयद सालार गाज़ी की मज़ार पर चादर चढ़ाने से पूरे राजभर समाज का और महाराजा सुहेलदेव का अपमान हुआ है और यह राष्ट्रदोह से भी बढ़ा अपराध है। 
सत्य हिन्दी ऐप डाउनलोड करें

गोदी मीडिया और विशाल कारपोरेट मीडिया के मुक़ाबले स्वतंत्र पत्रकारिता का साथ दीजिए और उसकी ताक़त बनिए। 'सत्य हिन्दी' की सदस्यता योजना में आपका आर्थिक योगदान ऐसे नाज़ुक समय में स्वतंत्र पत्रकारिता को बहुत मज़बूती देगा। याद रखिए, लोकतंत्र तभी बचेगा, जब सच बचेगा।

नीचे दी गयी विभिन्न सदस्यता योजनाओं में से अपना चुनाव कीजिए। सभी प्रकार की सदस्यता की अवधि एक वर्ष है। सदस्यता का चुनाव करने से पहले कृपया नीचे दिये गये सदस्यता योजना के विवरण और Membership Rules & NormsCancellation & Refund Policy को ध्यान से पढ़ें। आपका भुगतान प्राप्त होने की GST Invoice और सदस्यता-पत्र हम आपको ईमेल से ही भेजेंगे। कृपया अपना नाम व ईमेल सही तरीक़े से लिखें।
सत्य अनुयायी के रूप में आप पाएंगे:
  1. सदस्यता-पत्र
  2. विशेष न्यूज़लेटर: 'सत्य हिन्दी' की चुनिंदा विशेष कवरेज की जानकारी आपको पहले से मिल जायगी। आपकी ईमेल पर समय-समय पर आपको हमारा विशेष न्यूज़लेटर भेजा जायगा, जिसमें 'सत्य हिन्दी' की विशेष कवरेज की जानकारी आपको दी जायेगी, ताकि हमारी कोई ख़ास पेशकश आपसे छूट न जाय।
  3. 'सत्य हिन्दी' के 3 webinars में भाग लेने का मुफ़्त निमंत्रण। सदस्यता तिथि से 90 दिनों के भीतर आप अपनी पसन्द के किसी 3 webinar में भाग लेने के लिए प्राथमिकता से अपना स्थान आरक्षित करा सकेंगे। 'सत्य हिन्दी' सदस्यों को आवंटन के बाद रिक्त बच गये स्थानों के लिए सामान्य पंजीकरण खोला जायगा। *कृपया ध्यान रखें कि वेबिनार के स्थान सीमित हैं और पंजीकरण के बाद यदि किसी कारण से आप वेबिनार में भाग नहीं ले पाये, तो हम उसके एवज़ में आपको अतिरिक्त अवसर नहीं दे पायेंगे।
सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें

अपनी राय बतायें

उत्तर प्रदेश से और खबरें

ताज़ा ख़बरें

सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें