loader

‘6 दिन में चुनाव का एलान करे सरकार वरना फिर आएंगे इसलामाबाद’

पीटीआई के कार्यकर्ताओं के हुजूम के साथ इसलामाबाद पहुंचे पाकिस्तान के पूर्व वजीर ए आजम इमरान खान ने शहबाज़ शरीफ सरकार को चेताया है। इमरान खान ने आज़ादी मार्च के दौरान गुरूवार को इसलामाबाद में कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि वह सरकार को 6 दिन का वक्त देते हैं।

इमरान ने कहा कि अगर 6 दिन के अंदर चुनाव का एलान नहीं किया गया तो वह फिर से पीटीआई के कार्यकर्ताओं और आम लोगों के साथ इसलामाबाद आएंगे। उन्होंने संसद को भंग करने की भी मांग की। इमरान ने कहा कि शहबाज़ शरीफ सरकार नहीं चला पा रहे हैं और हुकूमत अपने नेताओं पर लगे भ्रष्टाचार के मुकदमों को हटाने का काम कर रही है। 

उन्होंने कहा कि अगर 6 दिन के अंदर चुनाव का एलान नहीं हुआ तो वह 20 लाख लोगों को लेकर इसलामाबाद पहुंचेंगे।

ताज़ा ख़बरें

हालात को देखते हुए इसलामाबाद के रेड ज़ोन में रेंजर्स के साथ ही सेना को भी तैनात कर दिया गया है। मुल्क के तमाम हिस्सों से आए पीटीआई के कार्यकर्ता इस आज़ादी मार्च में शामिल हुए। इस दौरान कई जगहों पर उनकी पुलिस से जबरदस्त झड़प भी हुई। 

मार्च के दौरान कार्यकर्ताओं में जबरदस्त जोश दिखा और वे लगातार नारेबाजी करते रहे। कई जगहों पर पथराव की घटनाएं भी हुई हैं।

ताज़ा ख़बरें

इमरान खान ने मार्च के दौरान कहा कि शहबाज शरीफ की सरकार ने पुलिस के जोर पर पीटीआई के कार्यकर्ताओं पर जुल्म किया। 

Imrak khan Azadi March in Islamabad - Satya Hindi
इससे पहले बुधवार शाम को सुप्रीम कोर्ट ने इमरान खान की गिरफ्तारी पर रोक लगा दी थी और पीटीआई को इसलामाबाद के एच 9 मैदान पर प्रदर्शन की इजाजत दी थी। पीटीआई ने अदालत में कहा था कि उसका प्रदर्शन और आज़ादी मार्च पूरी तरह शांतिपूर्ण होगा।
बता दें कि इमरान खान की हुकूमत के गिरने के बाद से ही पीटीआई पूरे पाकिस्तान में बड़ी-बड़ी रैलियां कर रही है। इन रैलियों में इमरान खान अमेरिका के इशारे पर उनकी हुकूमत को गिराने की साजिश का आरोप लगाते हैं और शहबाज शरीफ की सरकार को इम्पोर्टेड हुकूमत बताते हैं।

जल्द चुनाव कराने की मांग 

पीटीआई की मांग है कि मुल्क के अंदर जल्द से जल्द चुनाव कराए जाने चाहिए। पीटीआई की कोशिश इस रैली में लाखों कार्यकर्ताओं की भीड़ जुटाने की है जिससे सरकार पर जल्दी चुनाव के लिए दबाव बनाया जा सके। पीटीआई की रैली के जवाब में पाकिस्तान मुस्लिम लीग (नवाज) के नेताओं ने कहा है कि वे बहावलपुर में 28 मई को एक बड़ी रैली करेंगे।
सत्य हिन्दी ऐप डाउनलोड करें

गोदी मीडिया और विशाल कारपोरेट मीडिया के मुक़ाबले स्वतंत्र पत्रकारिता का साथ दीजिए और उसकी ताक़त बनिए। 'सत्य हिन्दी' की सदस्यता योजना में आपका आर्थिक योगदान ऐसे नाज़ुक समय में स्वतंत्र पत्रकारिता को बहुत मज़बूती देगा। याद रखिए, लोकतंत्र तभी बचेगा, जब सच बचेगा।

नीचे दी गयी विभिन्न सदस्यता योजनाओं में से अपना चुनाव कीजिए। सभी प्रकार की सदस्यता की अवधि एक वर्ष है। सदस्यता का चुनाव करने से पहले कृपया नीचे दिये गये सदस्यता योजना के विवरण और Membership Rules & NormsCancellation & Refund Policy को ध्यान से पढ़ें। आपका भुगतान प्राप्त होने की GST Invoice और सदस्यता-पत्र हम आपको ईमेल से ही भेजेंगे। कृपया अपना नाम व ईमेल सही तरीक़े से लिखें।
सत्य अनुयायी के रूप में आप पाएंगे:
  1. सदस्यता-पत्र
  2. विशेष न्यूज़लेटर: 'सत्य हिन्दी' की चुनिंदा विशेष कवरेज की जानकारी आपको पहले से मिल जायगी। आपकी ईमेल पर समय-समय पर आपको हमारा विशेष न्यूज़लेटर भेजा जायगा, जिसमें 'सत्य हिन्दी' की विशेष कवरेज की जानकारी आपको दी जायेगी, ताकि हमारी कोई ख़ास पेशकश आपसे छूट न जाय।
  3. 'सत्य हिन्दी' के 3 webinars में भाग लेने का मुफ़्त निमंत्रण। सदस्यता तिथि से 90 दिनों के भीतर आप अपनी पसन्द के किसी 3 webinar में भाग लेने के लिए प्राथमिकता से अपना स्थान आरक्षित करा सकेंगे। 'सत्य हिन्दी' सदस्यों को आवंटन के बाद रिक्त बच गये स्थानों के लिए सामान्य पंजीकरण खोला जायगा। *कृपया ध्यान रखें कि वेबिनार के स्थान सीमित हैं और पंजीकरण के बाद यदि किसी कारण से आप वेबिनार में भाग नहीं ले पाये, तो हम उसके एवज़ में आपको अतिरिक्त अवसर नहीं दे पायेंगे।
सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें

अपनी राय बतायें

दुनिया से और खबरें

ताज़ा ख़बरें

सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें