loader

इमरान ने किन तीन लोगों को बताया हमले के लिए जिम्मेदार? 

पाकिस्तान के पूर्व वज़ीर-ए-आज़म इमरान खान ने उन पर हुए हमले के लिए तीन लोगों को जिम्मेदार बताया है। पीटीआई के नेता असद उमर और मियां असलम इकबाल ने कहा है कि इमरान ने हमले के लिए तीन लोगों को जिम्मेदार ठहराया है। इसमें इमरान ने वज़ीर-ए-आज़म शहबाज शरीफ, गृह मंत्री राणा सनाउल्लाह और पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई के महानिदेशक मेजर जनरल फैसल नसीर का नाम लिया है। 

पीटीआई के नेता असद उमर ने कहा कि इमरान खान ने मांग की है कि इन तीनों लोगों को उनके पदों से हटाया जाना चाहिए और अगर इन तीनों को उनके पदों से नहीं हटाया जाता है तो देशभर में प्रदर्शन किए जाएंगे। 

असद उमर ने एक वीडियो जारी कर कहा है कि इमरान खान ने उन्हें बताया कि उनके पास इस तरह की कुछ सूचनाएं आ रही थी और उसके आधार पर ही वह इन तीन लोगों पर हमले का आरोप लगा रहे हैं। 

IMRAN KHAN ATTACK Blamed Prime Minister Shehbaz Sharif - Satya Hindi

इमरान खान पर गुरुवार को किसी ने फायरिंग कर दी थी। फायरिंग में इमरान खान और उनके कुछ करीबी घायल हो गए थे और एक शख्स की मौत हो गई थी। फायरिंग की यह घटना वजीराबाद में अल्लाह वाला चौक पर हुई थी। 

ताज़ा ख़बरें
इमरान के पांव में गोली लगी है और उन्हें लाहौर के अस्पताल में भर्ती कराया गया है। उनकी हालत खतरे से बाहर है। घायल होने वालों में फैसल जावेद, अहमद चट्ठा व अन्य लोग शामिल हैं। इमरान खान के करीबी और पूर्व मंत्री फवाद चौधरी ने कहा है कि एके-47 से फायरिंग की गई है। बताना होगा कि इमरान खान इन दिनों लाहौर से इस्लामाबाद तक हकीकी आजादी मार्च निकाल रहे हैं और गुरूवार को मार्च का सातवां दिन था। 
याद दिलाना होगा कि इस साल अप्रैल में इमरान खान को वज़ीर-ए-आज़म की कुर्सी छोड़नी पड़ी थी और उनकी जगह पर शहबाज शरीफ मुल्क़ के नए वज़ीर-ए-आज़म बने थे।

आर्मी पर हमलावर

हुकूमत के गिरने के बाद से ही इमरान खान पूरे पाकिस्तान में बड़ी-बड़ी रैलियां कर रहे हैं। इन रैलियों में इमरान खान अमेरिका के इशारे पर उनकी हुकूमत को गिराने की साजिश का आरोप लगाते हैं और शहबाज शरीफ की सरकार को इम्पोर्टेड हुकूमत बताते हैं। वह अपनी रैलियों में शहबाज शरीफ के साथ ही आर्मी पर भी हमला बोलते हैं। कप्तान रहते हुए पाकिस्तान को विश्वकप में जीत दिला चुके इमरान खान की पाकिस्तान में जबरदस्त लोकप्रियता है।

दुनिया से और खबरें
इमरान ने उन पर हुए हमले के लिए शहबाज शरीफ, राणा सनाउल्लाह और आईएसआई के महानिदेशक फैसल नसीर का नाम लेकर यह साफ कर दिया है कि वह इन तीनों के खिलाफ पूरी ताकत के साथ मोर्चा खोलेंगे। आने वाले दिनों में पाकिस्तान में इमरान की पार्टी पीटीआई के कार्यकर्ताओं का हुकूमत के साथ ही आर्मी और आईएसआई के साथ भी टकराव बढ़ सकता है। 
IMRAN KHAN ATTACK Blamed Prime Minister Shehbaz Sharif - Satya Hindi

जोरदार प्रदर्शन

इमरान खान पर हमले के बाद पीटीआई के कार्यकर्ताओं ने देशभर में जोरदार प्रदर्शन किया है। कराची, फैसलाबाद, रावलपिंडी, क्वेटा, लाहौर सहित कई बड़े शहरों में पीटीआई के कार्यकर्ताओं ने सड़क पर उतरकर मौजूदा हुकूमत के खिलाफ जोरदार नारेबाजी की। 

पीटीआई के कार्यकर्ताओं ने कराची में फाइव स्टार चौरंगी, हब रिवर रोड, शाह फैसल कॉलोनी, कायदाबाद नेशनल हाईवे, कय्यूमाबाद, आयशा मंजिल, तीन तलवार, हिनो चौरंगी, गुलशन-ए-हदीद मोड़, अल-आसिफ स्क्वायर और अन्य इलाकों में प्रदर्शन किया। 

इसके अलावा लाहौर के शाहदरा, हाउस चौक, दुबई चौक, फैसलाबाद, रावलपिंडी, क्वेटा, स्कर्दू, मुल्तान, मुजफ्फराबाद में भी कई जगहों पर पीटीआई के कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन किया। 

सत्य हिन्दी ऐप डाउनलोड करें

गोदी मीडिया और विशाल कारपोरेट मीडिया के मुक़ाबले स्वतंत्र पत्रकारिता का साथ दीजिए और उसकी ताक़त बनिए। 'सत्य हिन्दी' की सदस्यता योजना में आपका आर्थिक योगदान ऐसे नाज़ुक समय में स्वतंत्र पत्रकारिता को बहुत मज़बूती देगा। याद रखिए, लोकतंत्र तभी बचेगा, जब सच बचेगा।

नीचे दी गयी विभिन्न सदस्यता योजनाओं में से अपना चुनाव कीजिए। सभी प्रकार की सदस्यता की अवधि एक वर्ष है। सदस्यता का चुनाव करने से पहले कृपया नीचे दिये गये सदस्यता योजना के विवरण और Membership Rules & NormsCancellation & Refund Policy को ध्यान से पढ़ें। आपका भुगतान प्राप्त होने की GST Invoice और सदस्यता-पत्र हम आपको ईमेल से ही भेजेंगे। कृपया अपना नाम व ईमेल सही तरीक़े से लिखें।
सत्य अनुयायी के रूप में आप पाएंगे:
  1. सदस्यता-पत्र
  2. विशेष न्यूज़लेटर: 'सत्य हिन्दी' की चुनिंदा विशेष कवरेज की जानकारी आपको पहले से मिल जायगी। आपकी ईमेल पर समय-समय पर आपको हमारा विशेष न्यूज़लेटर भेजा जायगा, जिसमें 'सत्य हिन्दी' की विशेष कवरेज की जानकारी आपको दी जायेगी, ताकि हमारी कोई ख़ास पेशकश आपसे छूट न जाय।
  3. 'सत्य हिन्दी' के 3 webinars में भाग लेने का मुफ़्त निमंत्रण। सदस्यता तिथि से 90 दिनों के भीतर आप अपनी पसन्द के किसी 3 webinar में भाग लेने के लिए प्राथमिकता से अपना स्थान आरक्षित करा सकेंगे। 'सत्य हिन्दी' सदस्यों को आवंटन के बाद रिक्त बच गये स्थानों के लिए सामान्य पंजीकरण खोला जायगा। *कृपया ध्यान रखें कि वेबिनार के स्थान सीमित हैं और पंजीकरण के बाद यदि किसी कारण से आप वेबिनार में भाग नहीं ले पाये, तो हम उसके एवज़ में आपको अतिरिक्त अवसर नहीं दे पायेंगे।
सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें

अपनी राय बतायें

दुनिया से और खबरें

ताज़ा ख़बरें

सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें