loader

राष्ट्रपति रहने तक ट्रंप के फ़ेसबुक, इंस्टाग्राम खाते बंद रहेंगे

कैपिटल बिल्डिंग यानी अमेरिकी संसद भवन हिंसा मामले में निशाने पर आए अमेरिकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप को फ़ेसबुक और इंस्टाग्राम से एक और झटका लगा है। पहले इन दोनों सोशल मीडिया साइटों ने 24 घंटों के लिए उनके खाते बंद किए थे, लेकिन अब इसे अनिश्चित काल के लिए बंद कर दिया है। यदि अनिश्चित काल के लिए फ़ेसबुक और इंस्टाग्राम के उनके खाते बंद नहीं भी रहेंगे तो कम से कम जब तक उनका राष्ट्रपति का कार्यकाल रहेगा तब तक तो उनके खाते बंद रहेंगे ही। फ़ेसबुक के प्रमुख मार्क ज़ुकरबर्ग ने ही इसकी घोषणा की है। हिंसा के बाद ट्विटर ने भी उनके खाते को बंद कर दिया था।

ख़ास ख़बरें

कैपिटल बिल्डिंग हिंसा के बाद हुई अमेरिकी संसद की कार्यवाही में भावी राष्ट्रपति डेमोक्रेट जो बाइडन के राष्ट्रपति बनने का रास्ता साफ़ हो गया है। 20 जनवरी को वह पूरी तरह से राष्ट्रपति का पदभार संभाल लेंगे। यानी कम से कम 20 जनवरी तक ट्रंप फ़ेसबुक और इंस्टाग्राम के अपने खाते इस्तेमाल नहीं कर सकते हैं। 

फ़ेसबुक ने कहा है, 'हमारा मानना ​​है कि राष्ट्रपति ट्रम्प को इस अवधि के दौरान हमारी सेवा का उपयोग जारी रखने की अनुमति देने के जोखिम बहुत अधिक हैं, इसलिए हम अपने फ़ेसबुक और इंस्टाग्राम खातों पर अनिश्चित काल के लिए और कम से कम अगले दो हफ़्ते के लिए पाबंदी को आगे बढ़ाते हैं।'

फ़ेसबुक ने जो ट्वीट किया है उसमें मार्क ज़ुकरबर्ग का बयान भी है। ज़ुकरबर्ग ने लिखा है, 'पिछले 24 घंटों की चौंकाने वाली घटनाएँ स्पष्ट रूप से दिखाती हैं कि राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रम्प कार्यालय में अपने शेष बचे समय का उपयोग अपने निर्वाचित उत्तराधिकारी जो बाइडन को सत्ता के शांतिपूर्ण और वैध हस्तांतरण को कमज़ोर करने के इरादे से करना चाहते हैं।'

trump facebook, instagram accounts blocked indefinitely  - Satya Hindi

उन्होंने आगे लिखा, 'कैपिटल बिल्डिंग में अपने समर्थकों के कार्यों की निंदा करने के बजाय अपने मंच का इस्तेमाल उन्हें माफ करने के उनके फ़ैसले ने अमेरिका और दुनिया भर में लोगों को परेशान किया है। हमने कल इन बयानों को हटा दिया क्योंकि हमने निर्णय लिया कि उनका प्रभाव - और उनका संभावित इरादा- आगे की हिंसा को भड़काने के लिए होगा।'

बता दें कि अमेरिका की राजधानी वाशिंगटन के शहर कैपिटल हिल में सांसदों की बैठक करने वाली जगह का नाम यूएस कैपिटल या कैपिटल बिल्डिंग है। यहीं पर जो बाइडन की जीत को प्रमाण पत्र मिलने से पहले ट्रंप ने वाशिंगटन में एक रैली में कथित तौर पर भड़काऊ भाषण दिया। इसमें उन्होंने कहा था कि 'हम कभी हार नहीं मानेंगे।' उन्होंने भीड़ को भड़काते हुए कहा, 'आप कमज़ोरी से अपना देश फिर हासिल नहीं कर सकते।' ट्रंप ने भीड़ को कैपिटॉल की ओर कूच करने को कहा। 

आशुतोष की बात में देखिए, क्या अमेरिका गृहयुद्ध की तरफ़ बढ़ रहा है?

ट्रंप के भाषण के बाद ही उनके समर्थकों ने कैपिटल बिल्डिंग में घुसने की कोशिश की और हिंसात्मक प्रदर्शन किया। ट्रम्प समर्थक प्रदर्शनकारियों द्वारा कैपिटल बिल्डिंग में घुसने और हिंसा किये जाने को जो बाइडन को राष्ट्रपति नियुक्त करने में संसद की कार्यवाही में बाधा डालने के प्रयास के तौर पर देखा गया। इस हिंसा में कम से कम 4 लोगों की मौत हो गई।

कैपिटल बिल्डिंग हिंसा के बाद ट्विटर, फ़ेसबुक और इंस्टाग्राम ने अमेरिकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप का एकाउंट बंद कर दिया। ऐसा शायद पहली बार है कि किसी राष्ट्र के प्रमुख का सोशल मीडिया एकाउंट इतने बड़े स्तर पर ब्लॉक किया गया हो। सोशल मीडिया साइटों ने यह कार्रवाई इसलिए की क्योंकि ट्रंप के 'उकसावे' वाले भाषण के कुछ घंटे बाद ही हिंसा हुई थी। 

सत्य हिन्दी ऐप डाउनलोड करें

'सत्य हिन्दी'
की ताक़त बनिए


गोदी मीडिया और विशाल कारपोरेट मीडिया के मुक़ाबले स्वतंत्र पत्रकारिता का साथ दीजिए और उसकी ताक़त बनिए। 'सत्य हिन्दी' की सदस्यता योजना में आपका आर्थिक योगदान ऐसे नाज़ुक समय में स्वतंत्र पत्रकारिता को बहुत मज़बूती देगा। याद रखिए, लोकतंत्र तभी बचेगा, जब सच बचेगा।

नीचे दी गयी विभिन्न सदस्यता योजनाओं में से अपना चुनाव कीजिए। सभी प्रकार की सदस्यता की अवधि एक वर्ष है। सदस्यता का चुनाव करने से पहले कृपया नीचे दिये गये सदस्यता योजना के विवरण और Membership Rules & NormsCancellation & Refund Policy को ध्यान से पढ़ें। आपका भुगतान प्राप्त होने की GST Invoice और सदस्यता-पत्र हम आपको ईमेल से ही भेजेंगे। कृपया अपना नाम व ईमेल सही तरीक़े से लिखें।
सत्य अनुयायी के रूप में आप पाएंगे:
  1. सदस्यता-पत्र
  2. विशेष न्यूज़लेटर: 'सत्य हिन्दी' की चुनिंदा विशेष कवरेज की जानकारी आपको पहले से मिल जायगी। आपकी ईमेल पर समय-समय पर आपको हमारा विशेष न्यूज़लेटर भेजा जायगा, जिसमें 'सत्य हिन्दी' की विशेष कवरेज की जानकारी आपको दी जायेगी, ताकि हमारी कोई ख़ास पेशकश आपसे छूट न जाय।
  3. 'सत्य हिन्दी' के 3 webinars में भाग लेने का मुफ़्त निमंत्रण। सदस्यता तिथि से 90 दिनों के भीतर आप अपनी पसन्द के किसी 3 webinar में भाग लेने के लिए प्राथमिकता से अपना स्थान आरक्षित करा सकेंगे। 'सत्य हिन्दी' सदस्यों को आवंटन के बाद रिक्त बच गये स्थानों के लिए सामान्य पंजीकरण खोला जायगा। *कृपया ध्यान रखें कि वेबिनार के स्थान सीमित हैं और पंजीकरण के बाद यदि किसी कारण से आप वेबिनार में भाग नहीं ले पाये, तो हम उसके एवज़ में आपको अतिरिक्त अवसर नहीं दे पायेंगे।
सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें

अपनी राय बतायें

दुनिया से और खबरें

ताज़ा ख़बरें

सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें