loader

कुमार विश्वास के बाद अलका लांबा के घर पहुंची पंजाब पुलिस

पंजाब पुलिस बुधवार को कांग्रेस नेता अलका लांबा के दिल्ली स्थित घर पर पहुंच गई। अलका लांबा ने ट्वीट कर यह जानकारी दी है। पंजाब पुलिस बुधवार सुबह ही कवि और आम आदमी पार्टी के पूर्व नेता कुमार विश्वास के घर पर भी पहुंची थी।

कुमार विश्वास की तरह ही अलका लांबा भी आम आदमी पार्टी में रह चुकी हैं और चांदनी चौक सीट से पार्टी के टिकट पर उन्होंने विधायक का चुनाव जीता था। 

अलका लांबा ने कहा है कि पंजाब पुलिस उनके घर की दीवार पर नोटिस चिपका कर गई है और भगवंत मान सरकार की ओर से धमकी देकर गई है कि अगर 26 अप्रैल को वह थाने में पेश नहीं हुईं तो अंजाम बुरा होगा। 

क्या कहा है नोटिस में?

पंजाब पुलिस के नोटिस में अलका लांबा से रूपनगर के सदर पुलिस थाने में पूछताछ के लिए हाजिर होने को कहा गया है। उनसे जांच के लिए जरूरी दस्तावेज दिखाने के लिए भी कहा गया है। यह भी कहा गया है कि उन्हें पंजाब पुलिस की एसआईटी के सामने पेश होना होगा और अगर वह पेश नहीं हुईं तो उनके खिलाफ जरूरी कार्रवाई की जाएगी।

अलका लांबा उन नेताओं में शामिल हैं जो आम आदमी पार्टी के मुखिया अरविंद केजरीवाल से कथित रूप से नाराजगी के चलते पार्टी से दूर हो गई थीं।
अलका लांबा पहले भी कांग्रेस में थीं और आम आदमी पार्टी छोड़ने के बाद उन्होंने फिर से कांग्रेस का हाथ पकड़ लिया था। पंजाब के विधानसभा चुनाव के दौरान वह वहां काफी सक्रिय रही थीं और उन्होंने आम आदमी पार्टी पर हमला भी बोला था।
ताज़ा ख़बरें

कुमार विश्वास पर एफआईआर दर्ज

दूसरी ओर, कुमार विश्वास के खिलाफ भी रूपनगर के सदर पुलिस थाने में मुकदमा दर्ज किया गया है। पंजाब पुलिस ने गाजियाबाद स्थित उनके घर पर पहुंचकर उन्हें 48 घंटे के भीतर जांच में शामिल होने का समन किया है। उन पर रिप्रजेंटेशन ऑफ़ पीपल्स एक्ट के सेक्शन 125 सहित आईपीसी की धाराओं में भी मुकदमा दर्ज किया गया है। 

इस मामले में शिकायतकर्ता ने कहा है कि पंजाब चुनाव के दौरान जब वह अपने गांव में आम आदमी पार्टी के कुछ समर्थकों के साथ प्रचार कर रहा था तो मुंह पर मास्क पहने कुछ लोगों ने उसे रोका और खालिस्तानी कहा। 

Punjab Police reaches Alka Lamba residence - Satya Hindi

रूपनगर के एसएसपी संदीप गर्ग ने कहा है कि कुमार विश्वास के खिलाफ एफआईआर इस आधार पर दर्ज की गई है क्योंकि उन्होंने इंटरव्यू के दौरान कुछ गलत बयानबाजी की। एसएसपी ने कहा कि शिकायतकर्ता ने आरोप लगाया है कि कुमार विश्वास की गलतबयान बाजी के कारण आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं को पंजाब में चुनाव के दौरान हिंसा का सामना करना पड़ा। 

दिल्ली से और खबरें

कानून के मुताबिक हो रही जांच: एसएसपी 

एसएसपी ने कहा है कि कुमार विश्वास के ऐसे बयानों के कारण पंजाब का माहौल खराब हो सकता था और मामले की जांच के लिए ही कुमार विश्वास को नोटिस दिया गया है और उनसे कहा गया है कि अपने समर्थन में उनके पास जो भी सुबूत हों, उन्हें सामने रखें। उन्होंने कहा कि जांच पूरी तरह कानून के मुताबिक ही की जा रही है।

सत्य हिन्दी ऐप डाउनलोड करें

गोदी मीडिया और विशाल कारपोरेट मीडिया के मुक़ाबले स्वतंत्र पत्रकारिता का साथ दीजिए और उसकी ताक़त बनिए। 'सत्य हिन्दी' की सदस्यता योजना में आपका आर्थिक योगदान ऐसे नाज़ुक समय में स्वतंत्र पत्रकारिता को बहुत मज़बूती देगा। याद रखिए, लोकतंत्र तभी बचेगा, जब सच बचेगा।

नीचे दी गयी विभिन्न सदस्यता योजनाओं में से अपना चुनाव कीजिए। सभी प्रकार की सदस्यता की अवधि एक वर्ष है। सदस्यता का चुनाव करने से पहले कृपया नीचे दिये गये सदस्यता योजना के विवरण और Membership Rules & NormsCancellation & Refund Policy को ध्यान से पढ़ें। आपका भुगतान प्राप्त होने की GST Invoice और सदस्यता-पत्र हम आपको ईमेल से ही भेजेंगे। कृपया अपना नाम व ईमेल सही तरीक़े से लिखें।
सत्य अनुयायी के रूप में आप पाएंगे:
  1. सदस्यता-पत्र
  2. विशेष न्यूज़लेटर: 'सत्य हिन्दी' की चुनिंदा विशेष कवरेज की जानकारी आपको पहले से मिल जायगी। आपकी ईमेल पर समय-समय पर आपको हमारा विशेष न्यूज़लेटर भेजा जायगा, जिसमें 'सत्य हिन्दी' की विशेष कवरेज की जानकारी आपको दी जायेगी, ताकि हमारी कोई ख़ास पेशकश आपसे छूट न जाय।
  3. 'सत्य हिन्दी' के 3 webinars में भाग लेने का मुफ़्त निमंत्रण। सदस्यता तिथि से 90 दिनों के भीतर आप अपनी पसन्द के किसी 3 webinar में भाग लेने के लिए प्राथमिकता से अपना स्थान आरक्षित करा सकेंगे। 'सत्य हिन्दी' सदस्यों को आवंटन के बाद रिक्त बच गये स्थानों के लिए सामान्य पंजीकरण खोला जायगा। *कृपया ध्यान रखें कि वेबिनार के स्थान सीमित हैं और पंजीकरण के बाद यदि किसी कारण से आप वेबिनार में भाग नहीं ले पाये, तो हम उसके एवज़ में आपको अतिरिक्त अवसर नहीं दे पायेंगे।
सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें

अपनी राय बतायें

दिल्ली से और खबरें

ताज़ा ख़बरें

सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें