loader

दिल्ली-मुंबई में कोरोना विस्फोट, 82 से 86 प्रतिशत तक की उछाल

क्या कैंब्रिज विश्वविद्यालय की यह चेतावनी सच होने जा रही है कि जल्द ही भारत में कोरोना वायरस संक्रमण का विस्फोट होने वाला है? यह सवाल इसलिए उठता है कि बुधवार को मुंबई में कोरोना संक्रमण के 2,510 नए मामले सामने आए हैं।

यह एक दिन पहले यानी मंगलवार के कोरोना मामलों से 82 प्रतिशत ज्यादा है। उस दिन मुंबई में कोरोना संक्रमण के 1377 मामले सामने आए थे। 

महाराष्ट्र के मंत्री आदित्‍य ठाकरे ने बुधवार को अधिकारियों के साथ बैठक की और कोरोना के मामलों में आ रहे उछाल की स्थिति की समीक्षा की। 

बैठक के बाद आदित्‍य ठाकरे ने कहा, 

मुंबई में कोरोना मामलों में वृद्धि को देखते हुए हमने तैयारियों का जायजा लिया। जनवरी की शुरुआत से 15 से 18 वर्ष के आयु वर्ग के बच्चों व किशोरों को भी कोरोना टीका देने की योजना बनाई गई है।


आदित्य ठाकरे, मंत्री, महाराष्ट्र

कोरोना दिशा निर्देश

उन्होंने कहा, "मैं सभी से अपील करता हूँ कि वे घबराएं नहीं। कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए हमें अत्‍यधिक सतर्कता बरतने की ज़रूरत है।"

आदित्य ठाकरे ने यह भी कहा कि "हमने कोविड अनुरूप व्‍यवहार के लिए गाइडलाइन और सार्वजनिक कार्यक्रमों के आयोजन से जुड़े मुद्दे पर भी चर्चा की क्‍योंकि नया साल बस आने  ही वाला है।"

coronavirus surge in delhi, mumbai2 - Satya Hindi

दिल्ली में कोरोना

दूसरी ओर, देश की राजधानी दिल्‍ली में पिछले 24 घंटों में कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों में ज़ोरदार उछाल आया और 923 नए मामले दर्ज किए गए हैं। मंगलवार को 496 नए मरीज मिले थे।

राष्ट्रीय राजधानी में सात महीने में पहली बार एक दिन में इतने मामले सामने आए हैं। इससे पहले 29 मई को 956 मामले मिले थे। मंगलवार की तुलना में यहाँ नए मामलों में 86 फ़ीसदी की बढ़ोतरी दर्ज की गई है। 

यहाँ पॉजिटिविटी रेट भी 1% के पार हो गई है जो कि 28 मई के बाद सबसे ज्यादा है। 28 मई को पॉजिटिविटी रेट 1.58 फीसदी थी। पिछले 24 घंटों में एक भी मौत नहीं हुई।

देश से और खबरें

बता दें कि ब्रिटेन स्थित कैंब्रिज विश्वविद्यालय के विशेषज्ञों ने भारत के लिए चौंकाने वाली बातें कही हैं, जो चिंताजनक भी हैं। 

कैंब्रिज विश्वविद्यालय के जज़ बिज़नेस स्कूल के प्रोफ़ेसर पॉल कट्टुमैन ने चेतावनी दी है कि भारत में रोज़ाना कोरोना मामलों में विस्फोटक वृद्धि होगी, लेकिन यह अपेक्षाकृत कम समय के लिए होगी। 

कैंब्रिज विश्वविद्यालय ने भारत में कोरोना की स्थिति पर लगातार नज़र रखने के लिए एक ट्रैकर तैयार किया है। इस इंडिया कोविड ट्रैकर के आधार पर ही यह बात कही गई है। 

प्रोफ़ेसर पॉल कट्टुमैन ने कहा, "अगले कुछ दिनों में, शायद इसी हफ़्ते नया संक्रमण शुरु हो जाएगा। पर यह कहना मुश्किल है कि यह किस ऊँचाई तक जाएगा।" 

सत्य हिन्दी ऐप डाउनलोड करें

गोदी मीडिया और विशाल कारपोरेट मीडिया के मुक़ाबले स्वतंत्र पत्रकारिता का साथ दीजिए और उसकी ताक़त बनिए। 'सत्य हिन्दी' की सदस्यता योजना में आपका आर्थिक योगदान ऐसे नाज़ुक समय में स्वतंत्र पत्रकारिता को बहुत मज़बूती देगा। याद रखिए, लोकतंत्र तभी बचेगा, जब सच बचेगा।

नीचे दी गयी विभिन्न सदस्यता योजनाओं में से अपना चुनाव कीजिए। सभी प्रकार की सदस्यता की अवधि एक वर्ष है। सदस्यता का चुनाव करने से पहले कृपया नीचे दिये गये सदस्यता योजना के विवरण और Membership Rules & NormsCancellation & Refund Policy को ध्यान से पढ़ें। आपका भुगतान प्राप्त होने की GST Invoice और सदस्यता-पत्र हम आपको ईमेल से ही भेजेंगे। कृपया अपना नाम व ईमेल सही तरीक़े से लिखें।
सत्य अनुयायी के रूप में आप पाएंगे:
  1. सदस्यता-पत्र
  2. विशेष न्यूज़लेटर: 'सत्य हिन्दी' की चुनिंदा विशेष कवरेज की जानकारी आपको पहले से मिल जायगी। आपकी ईमेल पर समय-समय पर आपको हमारा विशेष न्यूज़लेटर भेजा जायगा, जिसमें 'सत्य हिन्दी' की विशेष कवरेज की जानकारी आपको दी जायेगी, ताकि हमारी कोई ख़ास पेशकश आपसे छूट न जाय।
  3. 'सत्य हिन्दी' के 3 webinars में भाग लेने का मुफ़्त निमंत्रण। सदस्यता तिथि से 90 दिनों के भीतर आप अपनी पसन्द के किसी 3 webinar में भाग लेने के लिए प्राथमिकता से अपना स्थान आरक्षित करा सकेंगे। 'सत्य हिन्दी' सदस्यों को आवंटन के बाद रिक्त बच गये स्थानों के लिए सामान्य पंजीकरण खोला जायगा। *कृपया ध्यान रखें कि वेबिनार के स्थान सीमित हैं और पंजीकरण के बाद यदि किसी कारण से आप वेबिनार में भाग नहीं ले पाये, तो हम उसके एवज़ में आपको अतिरिक्त अवसर नहीं दे पायेंगे।
सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें

अपनी राय बतायें

देश से और खबरें

ताज़ा ख़बरें

सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें