loader

गिरिराज सिंह : शाहीन बाग में बन रहा है आत्मघ़ाती हमलावरों का जत्था

दिल्ली विधानसभा चुनाव के अंतिम चरण में प्रचार की तल्ख़ी तो बढ़ी ही है, यह हर तरह की सीमा को पार कर गया लगता है। शाहीन बाग प्रचार की धुरी बनी हुई है और इसके इर्द-गिर्द ही आरोप- प्रत्यारोप लग रहे हैं। अपने विवादास्पद बयानों के लिए चर्चित रहे केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने शाहीन बाग को आतंकवाद से जोड़ा और कहा कि शाहीन बाग में आत्मघाती हमलावरों का जत्था बनाया जा रहा है।
गिरिराज सिंह ने ट्वीट कर यह भी कहा कि देश की राजधानी में देश के खिलाफ साजिश हो रही है।
इसके अलावा उन्होंने समाचार एजेन्सी एएनआई से कहा, ‘शाहीन बाग में एक महिला का बच्चा ठंड में मर जाता है और वो महिला कहती है कि मेरा बेटा शहीद हुआ। ये सुसाइड बॉम्ब नहीं तो और क्या है। अगर भारत को बचाना है तो ये सुसाइड बॉम्ब, खिलाफत आंदोलन 2 से देश को सजग करना होगा।‘

बीजेपी के युवा सांसद तेजस्वी सूर्या ने भी ऐसा ही बयान दिया है और कहा है कि अगर देश का बहुसंख्यक समुदाय सतर्क नहीं रहता है तो देश में फिर से मुगल राज लौट सकता है। बेंगलुरू दक्षिण से बीजेपी सांसद सूर्या ने विपक्षी राजनीतिक दलों पर नागरिकता संशोधन क़ानून को लेकर लोगों को भड़काने का भी आरोप लगाया। 

ताज़ा ख़बरें
शाहीन बाग़ में नागरिकता संशोधन क़ानून को लेकर चल रहे धरने के बारे में बात करते हुए सूर्या ने बुधवार को लोकसभा में कहा, ‘अगर बहुसंख्यक समुदाय सतर्क नहीं होता है तो मुगल राज बहुत दूर नहीं है।’ उन्होंने कई दशकों से लंबित चल रहे कथित रूप से विवादित मुद्दों को सुलझाने के लिये प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का आभार भी व्यक्त किया। सूर्या ने कहा कि पुराने घावों को भरे बिना नया भारत नहीं बनाया जा सकता। उन्होंने कहा कि नागरिकता संशोधन क़ानून पाकिस्तान, बांग्लादेश और अफ़ग़ानिस्तान में प्रताड़ित अल्पसंख्यकों को नागरिकता देने के लिये लाया गया है और यह किसी की नागरिकता नहीं छीनता। 
लोकजनशक्ति पार्टी के अध्यक्ष चिराग पासवान ने भी विपक्षी नेताओं से नागरिकता क़ानून को लेकर गृह मंत्री अमित शाह के साथ बैठक करने के लिये कहा। पासवान ने कहा कि इससे नागरिकता क़ानून को लेकर उनके भ्रम दूर हो सकेंगे। इसके अलावा अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री मुख्तार अब्बास नक़वी ने कहा कि शाहीन बाग़ में बैठे लोगों को विपक्ष के द्वारा गुमराह किया गया है और विपक्ष देश में अराजकता पैदा करने की कोशिश कर रहा है।

दिल्ली में चुनाव प्रचार के दौरान प्रवेश वर्मा और केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर केजरीवाल को आतंकवादी कहने से नहीं चूके। जावड़ेकर ने तो यहां तक कहा कि केजरीवाल के आतंकवादी होने के बहुत सबूत हैं। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अरविंद केजरीवाल सरकार पर शाहीन बाग़ में बैठे प्रदर्शनकारियों को बिरयानी सप्लाई करने का आरोप लगाया और कहा कि जो लोग कश्मीर में आतंकवादियों का समर्थन करते हैं, वे ही लोग शाहीन बाग़ में धरना दे रहे हैं और आज़ादी के नारे लगा रहे हैं।

देश से और ख़बरें

चुनाव प्रचार में पाकिस्तान की भी एंट्री हुई और बीजेपी नेता कपिल मिश्रा ने कहा कि 8 फ़रवरी को दिल्ली की सड़कों पर हिंदुस्तान और पाकिस्तान का मुक़ाबला होगा। इसके अलावा बीजेपी नेताओं के निशाने पर नागरिकता संशोधन क़ानून के विरोध में शाहीन बाग़ में चल रहा आंदोलन भी रहा। 

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से लेकर पार्टी के तमाम नेताओं ने शाहीन बाग़ के धरने को निशाने पर रखा। शाह अपनी लगभग हर सभा में कहते रहे कि ईवीएम का बटन इतनी जोर से दबायें कि करंट शाहीन बाग़ में लगे। इसके अलावा पश्चिमी दिल्ली से बीजेपी सांसद प्रवेश वर्मा ने शाहीन बाग़ में बैठे लोगों को लेकर घरों में घुसकर रेप करेंगे और केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने 'देश के गद्दारों को, गोली मारो…का' नारा लगाया और लगवाया। 

सत्य हिन्दी ऐप डाउनलोड करें

गोदी मीडिया और विशाल कारपोरेट मीडिया के मुक़ाबले स्वतंत्र पत्रकारिता का साथ दीजिए और उसकी ताक़त बनिए। 'सत्य हिन्दी' की सदस्यता योजना में आपका आर्थिक योगदान ऐसे नाज़ुक समय में स्वतंत्र पत्रकारिता को बहुत मज़बूती देगा। याद रखिए, लोकतंत्र तभी बचेगा, जब सच बचेगा।

नीचे दी गयी विभिन्न सदस्यता योजनाओं में से अपना चुनाव कीजिए। सभी प्रकार की सदस्यता की अवधि एक वर्ष है। सदस्यता का चुनाव करने से पहले कृपया नीचे दिये गये सदस्यता योजना के विवरण और Membership Rules & NormsCancellation & Refund Policy को ध्यान से पढ़ें। आपका भुगतान प्राप्त होने की GST Invoice और सदस्यता-पत्र हम आपको ईमेल से ही भेजेंगे। कृपया अपना नाम व ईमेल सही तरीक़े से लिखें।
सत्य अनुयायी के रूप में आप पाएंगे:
  1. सदस्यता-पत्र
  2. विशेष न्यूज़लेटर: 'सत्य हिन्दी' की चुनिंदा विशेष कवरेज की जानकारी आपको पहले से मिल जायगी। आपकी ईमेल पर समय-समय पर आपको हमारा विशेष न्यूज़लेटर भेजा जायगा, जिसमें 'सत्य हिन्दी' की विशेष कवरेज की जानकारी आपको दी जायेगी, ताकि हमारी कोई ख़ास पेशकश आपसे छूट न जाय।
  3. 'सत्य हिन्दी' के 3 webinars में भाग लेने का मुफ़्त निमंत्रण। सदस्यता तिथि से 90 दिनों के भीतर आप अपनी पसन्द के किसी 3 webinar में भाग लेने के लिए प्राथमिकता से अपना स्थान आरक्षित करा सकेंगे। 'सत्य हिन्दी' सदस्यों को आवंटन के बाद रिक्त बच गये स्थानों के लिए सामान्य पंजीकरण खोला जायगा। *कृपया ध्यान रखें कि वेबिनार के स्थान सीमित हैं और पंजीकरण के बाद यदि किसी कारण से आप वेबिनार में भाग नहीं ले पाये, तो हम उसके एवज़ में आपको अतिरिक्त अवसर नहीं दे पायेंगे।
सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें

अपनी राय बतायें

देश से और खबरें

ताज़ा ख़बरें

सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें