loader

मोदी : कोरोना रोकने में भारत दूसरे देशों से अधिक कामयाब

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दावा किया है कि कम जनसंख्या वाले दूसरे देशों की तुलना में भारत ने कोरोना संक्रमण रोकने में अधिक कामयाबी हासिल की है।

मोदी ने रविवार को 'मन की बात' रेडियो सम्बोधन में कहा, 'कोरोना वायरस से लड़ाई में हमें लापरवाही नहीं बरतनी चाहिए। हमें सोशल डिस्टैंसिंग और दूसरे दिशा निर्देशों व नियम-क़ानूनों का पालन करते रहना चाहिए।'

देश से और खबरें
इसी बात को आगे बढ़ाते हुए मोदी ने कहा कि अर्थव्यवस्था का बड़ा हिस्सा खुल चुका है, ऐसे में अधिक सावधानी बरतने की ज़रूरत है।

लॉकडाउन हटने का एलान

बता दें कि सरकार ने 30 जून तक लॉकडाउन बढ़ाने के एलान के साथ ही कई चरणों में इसे ख़त्म करने का एलान भी कर दिया और उससे जुड़ी छूट से जुड़े दिशा निर्देश भी जारी कर दिए। 
इसके तहत रेल, सड़क और हवाई जहाज़, हर तरह के परिवहन की छूट दे दी गई है। इसके बाद 8 जून से मॉल, दुकान, होटल, रेस्तरां, बाज़ार वगैरह खोली जा सकती हैं। 

लॉकडाउन सिर्फ कंटेनमेंट एरिया यानी उन इलाकों में रहेगा, जहाँ कोरोना संक्रमण के मामले पाए जाएंगे। 

उन्होंने कहा, जब मैंने पिछली बार आपसे बात की थी, हवाई यात्रा शुरू नहीं की गई थी। अब सभी प्रतिबंध हटा लिए गए हैं। 

प्रधानमंत्री का यह एलान ऐसे समय आया है जब देश में 24 घंटे में कोरोना के 8380 नये मामले आए और 193 लोगों की मौत हुई। इसके साथ ही देश भर में संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर 1 लाख 82 हज़ार 143 हो गई। इसके साथ ही मरने वालों की संख्या बढ़कर 5164 हुई, अब तक 86 हज़ार 984 मरीज़ ठीक हुए। देश भर में फ़िलहाल 89 हज़ार 995 लोग कोरोना वायरस से संक्रमित हैं। 

'सत्य हिन्दी'
की ताक़त बनिए

गोदी मीडिया और विशाल कारपोरेट मीडिया के मुक़ाबले स्वतंत्र पत्रकारिता का साथ दीजिए और उसकी ताक़त बनिए। 'सत्य हिन्दी' की सदस्यता योजना में आपका आर्थिक योगदान ऐसे नाज़ुक समय में स्वतंत्र पत्रकारिता को बहुत मज़बूती देगा। याद रखिए, लोकतंत्र तभी बचेगा, जब सच बचेगा।

नीचे दी गयी विभिन्न सदस्यता योजनाओं में से अपना चुनाव कीजिए। सभी प्रकार की सदस्यता की अवधि एक वर्ष है। सदस्यता का चुनाव करने से पहले कृपया नीचे दिये गये सदस्यता योजना के विवरण को ध्यान से पढ़ें। आपका भुगतान प्राप्त होने की GST Invoice और सदस्यता प्रमाणपत्र हम आपको ईमेल से ही भेजेंगे। कृपया अपना नाम व ईमेल सही तरीक़े से लिखें।
सत्य अनुयायी के रूप में आप पाएंगे:
  1. सदस्यता-पत्र
  2. विशेष न्यूज़लेटर: 'सत्य हिन्दी' की चुनिंदा विशेष कवरेज की जानकारी आपको पहले से मिल जायगी। आपकी ईमेल पर समय-समय पर आपको हमारा विशेष न्यूज़लेटर भेजा जायगा, जिसमें 'सत्य हिन्दी' की विशेष कवरेज की जानकारी आपको दी जायेगी, ताकि हमारी कोई ख़ास पेशकश आपसे छूट न जाय।
  3. 'सत्य हिन्दी' के 3 webinars में भाग लेने का मुफ़्त निमंत्रण। सदस्यता तिथि से 90 दिनों के भीतर आप अपनी पसन्द के किसी 3 webinar में भाग लेने के लिए प्राथमिकता से अपना स्थान आरक्षित करा सकेंगे। 'सत्य हिन्दी' सदस्यों को आवंटन के बाद रिक्त बच गये स्थानों के लिए सामान्य पंजीकरण खोला जायगा। *कृपया ध्यान रखें कि वेबिनार के स्थान सीमित हैं और पंजीकरण के बाद यदि किसी कारण से आप वेबिनार में भाग नहीं ले पाये, तो हम उसके एवज़ में आपको अतिरिक्त अवसर नहीं दे पायेंगे।
सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें

अपनी राय बतायें

देश से और खबरें

ताज़ा ख़बरें

सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें