loader

बजट 2020 : क्या निकला निर्मला सीतारमण के पिटारे से?

  • 15 लाख रुपए से ज़्यादा की सभी आमदनी पर 30 प्रतिशत टैक्स देना होगा। 
  • 12.50 लाख रुपए से 15 लाख रुपए सालाना आमदनी पर 25 प्रतिशत टैक्स।
  • 10 लाख रुपये सालाना से 12.50 लाख रुपए तक 20 प्रतिशत आय कर चुकाना होगा। 
  • 7.50 लाख रुपए से 10 लाख रुपए तक 15 प्रतिशत आयकर देना होगा।
  • 5 लाख से 7.50 लाख रुपए तक की आय पर 10 प्रतिशत आयकर देना होगा। 
  • निर्मला सीतारमण ने एलान किया कि 5 लाख रुपए तक की आमदनी पर कोई टैक्स नहीं भरना होगा। 
  • वित्त मंत्री ने एलान किया कि मैन्युफ़ैक्चरिंग क्षेत्र में नई कंपनियों के लिए कॉरपोरेट टैक्स घटा कर 15 प्रतिशत कर दिया गया है। उ
  • वित्त मंत्री ने माना कि राजकोषीय घाटा इस साल 3.80 प्रतिशत होने का अनुमान है। पहले सरकार ने माना था कि बीते साल के 3.3 प्रतिशत से बढ़ कर 3.50 प्रतिशत हो सकता है। पर अब सरकार इसमें और बढ़ोतरी की बात मान रही है। 
  • वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने एक बड़े फ़ैसले का एलान करते हुए कहा है कि जीवन बीमा निगम में सरकार अपनी हिस्सेदारी का बड़ा भाग बेच देगी। उन्होंने यह नहीं कहा कि कितना हिस्सा बेचेगी, यानी एलआईसी का निजीकरण पूरी तरह होगा या नहीं, यह साफ़ नहीं है। 
  • सरकारी बैंकों के लिए 3 लाख 50 हज़ार करोड़ रुपए का इंतजाम किया जाएगा। बैंकों के कामकाज को पारदर्शी बनाया जाएगा। बैंकों में जमा रुपए पर 5 लाख रुपए तक की गारंटी। यानी पैसा बैंक में फंसने पर 5 लाख रुपए तक वापस किए जाने की गारंटी।
  • आईडीबाई बैंक में सरकार अपने शेयर बेच देगी। 
  • सरकार टैक्स चार्टर लाएगी। इसमें क़ानून के तहत नए टैक्स नियम बनाए जाएंगे। 
  • अनुसचित जाति और अति पिछड़ा वर्ग से जुड़ी कल्याण योजनाओं के लिए 85,000 करोड़ रुपए
  • अनुसूचित जनजाति के लिए 53,700 करोड़ रुपए का प्रावधान। 
  • राष्ट्रीय पोषाहार योजना के लिए 35 हज़ार करोड़ रुपए का आबंटन।
  • मैनुअल स्कैवेन्जिंग यानी हाथ से मैला उठाने पर पूर्ण पाबंदी, यह काम पूरी तरह रोक दिया जाएगा। 
  • साल 2024 तक 100 नए हवाई अड्डे बनाए जाएंगे। 
  • दिल्ली-मुंबई और बेंगलुरु-चेन्नई हाईवे बनाया बनाया जाएगा। 100 लाख करोड़ रुपए का नेशनल इन्फ्रास्ट्रक्चर प्रोजेक्ट। 
  • तटीय इलाक़ों में 20 हज़ार किलोमीटर लंबी सड़क। 
  • घरेलू मैन्युफ़ैक्चरिंग क्षेत्र पर ज़ोर। 
  • निर्यात बढ़ाने के लिए 'निर्विघ्न' योजना। 
  • कौशल विकास योजना के लिए 3,000 करोड़ रुपए का प्रावधान होगा। 
  • नई शिक्ष नीति का एलान जल्द। शिक्षा क्षेत्र में प्रत्यक्ष विदेश निवेश यानी एफ़डीआई की अनुमति।
  • शिक्षा क्षेत्र में 99,300 करोड़ रुपए का इंतजाम किया जाएगा। 
  • स्वच्छ भारत मिशन के लिए 12,300 करोड़ रुपए का आबंटन अगले वित्तीय वर्ष में। 
  • आयुष्मान योजना में आर्टिफ़िशियल इंटेलीजेंस का इस्तेमाल किया जाएगा, 2025 तक टीबी का रोग ख़त्म करने का लक्ष्य।
  • ज़िला अस्पतालों में सरकारी-निजी साझेदारी के तहत मेडिकल कॉलेज खोले जाएंगे। 
  • वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण : सागर मित्र योजना के तहत मछली पालन को बढ़ावा दिया जाएगा। साल 2022 तक 2 करोड़ टन मछली उत्पादन का लक्ष्य। विशेष फ़्रेम वर्क बनाया जाएगा। 
  • 2025 तक दूध उत्पादन दुगना करने का लक्ष्य रखा गया है। 
  • किसान रेल योजना, इसके तहत दूध, मांस, मछली की ढुलाई की जाएगी।
  • 550 स्टेशनों पर वाई-फ़ाई चालू।
  • मानव रहित क्रॉसिंग पूरी तरह ख़त्म। 
  • और अधिक तेजस ट्रेनों का परिचालन। 
  • बुलेट ट्रेन का कोई जिक्र नहीं।
  • वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण : सरकार ने 100 सूखा ग्रस्त क्षेत्रों की पहचान की है। 
  • कुसुम योजना के तहत 20 लाख किसानों के लिए सोलर पम्प की व्यवस्था की जाएगी। 
  • साल 2022 तक किसानों की आय दुगनी होगी, वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने उम्मीद जताई। 
  • वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने दावा किया कि सरकार ने 27.10 करोड़ लोगों को ग़रीबी रेखा से ऊपर निकाला। 
  • वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण : पिछला 5 साल में 284 बिलियन डॉलर का विदेशी निवेश
  • वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने दावा किया कि दो साल में 60 लाख नए कर दाता जुड़े। 

'सत्य हिन्दी'
की ताक़त बनिए

गोदी मीडिया और विशाल कारपोरेट मीडिया के मुक़ाबले स्वतंत्र पत्रकारिता का साथ दीजिए और उसकी ताक़त बनिए। 'सत्य हिन्दी' की सदस्यता योजना में आपका आर्थिक योगदान ऐसे नाज़ुक समय में स्वतंत्र पत्रकारिता को बहुत मज़बूती देगा। याद रखिए, लोकतंत्र तभी बचेगा, जब सच बचेगा।

नीचे दी गयी विभिन्न सदस्यता योजनाओं में से अपना चुनाव कीजिए। सभी प्रकार की सदस्यता की अवधि एक वर्ष है। सदस्यता का चुनाव करने से पहले कृपया नीचे दिये गये सदस्यता योजना के विवरण और Membership Rules & NormsCancellation & Refund Policy को ध्यान से पढ़ें। आपका भुगतान प्राप्त होने की GST Invoice और सदस्यता-पत्र हम आपको ईमेल से ही भेजेंगे। कृपया अपना नाम व ईमेल सही तरीक़े से लिखें।
सत्य अनुयायी के रूप में आप पाएंगे:
  1. सदस्यता-पत्र
  2. विशेष न्यूज़लेटर: 'सत्य हिन्दी' की चुनिंदा विशेष कवरेज की जानकारी आपको पहले से मिल जायगी। आपकी ईमेल पर समय-समय पर आपको हमारा विशेष न्यूज़लेटर भेजा जायगा, जिसमें 'सत्य हिन्दी' की विशेष कवरेज की जानकारी आपको दी जायेगी, ताकि हमारी कोई ख़ास पेशकश आपसे छूट न जाय।
  3. 'सत्य हिन्दी' के 3 webinars में भाग लेने का मुफ़्त निमंत्रण। सदस्यता तिथि से 90 दिनों के भीतर आप अपनी पसन्द के किसी 3 webinar में भाग लेने के लिए प्राथमिकता से अपना स्थान आरक्षित करा सकेंगे। 'सत्य हिन्दी' सदस्यों को आवंटन के बाद रिक्त बच गये स्थानों के लिए सामान्य पंजीकरण खोला जायगा। *कृपया ध्यान रखें कि वेबिनार के स्थान सीमित हैं और पंजीकरण के बाद यदि किसी कारण से आप वेबिनार में भाग नहीं ले पाये, तो हम उसके एवज़ में आपको अतिरिक्त अवसर नहीं दे पायेंगे।
सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें

अपनी राय बतायें

अर्थतंत्र से और खबरें

ताज़ा ख़बरें

सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें